Wednesday, November 2, 2022

छात्रों को मिला अपने सुनहरे भविष्य का "परिचय"

-जेईसीआरसी फाऊंडेशन में आयोजित की गई दो दिवसीय ओरिएंटेशन 2022

जयपुर. नए चेहरे,नए सपने और नई उम्मीदों से सज़ा जेईसीआरसी फाउंडेशन, मौका था सत्र 2022 के छात्रों की दो दिवसीय ओरिएंटेशन सेरेमनी "परिचय 2022" का जहां इन भावी इंजीनियर्स ने अपनी चार साल के सुनहरे सफ़र की शुरुआत की। इस साल जेईसीआरसी फाऊंडेशन ने 1000 नए छात्रों का स्वागत किया जिनमें 25 प्रतिशत लड़कियां रही। कार्यक्रम की शुरूआत मुख्य अथिति ओ.पी अग्रवाल, चेयरमैन जेईसीआरसी फाउंडेशन द्वारा दीप-प्रज्वलन से हुई। इसके बाद डा. विनय कुमार चांदना, प्रिंसिपल ,जेईसीआरसी फाउंडेशन ने अपने संबोधन में जेईसीआरसी फाउंडेशन के 22 साल के इस उतार चढ़ाव भरे सफर के बारे में बताया। उन्होंने बताया की कैसे जेईसीआरसी फाउंडेशन ने जयपुर को एक इंजीनियरिंग एजुकेशन हब के रुप में स्थापित करने में अहम भूमिका निभाई है। इसके साथ ही उन्होंने बताया की कैसे जेईसीआरसी फाउंडेशन थियोरिटिकल नॉलेज के साथ-साथ वोकेशनल ट्रेनिंग,को करिकुलर एक्टिविटीज, स्पोर्ट्स , परफॉर्मिंग आर्ट्स , एनसीसी , फील्ड विजिट्स और सामाजिक जिम्मेदारियों के बारे में भी छात्रों को प्रेरित और प्रोत्साहित करकर उनके हॉलिस्टिक डेवलपमेंट पर काम करता है। मुख्य अथिति श्री ओ.पी अग्रवाल, चेयरमैन जेईसीआरसी फाउंडेशन ने अपने संबोधन बताया की जेईसीआरसी फाउंडेशन के 23000 से ज़्यादा एल्यूमिनिज ने बड़ी-बड़ी मल्टीनेशनल कम्पनियों में अपना लोहा मनवाया है और आज यह एल्यूमिनिज अपने जूनियर्स को रिक्रूट करते है। कार्यक्रम के दौरान श्री अमित अग्रवाल और अर्पित अग्रवाल,वाइस चेयरपर्सन, जेईसीआरसी के मौजूद रहे। मुक्त बिहारी, डायरेक्टर एचआर ने सीआरटी ट्रेनिंग मॉड्यूल के बारे में बताया और प्लेसमैंट की तयारी में कॉलेज के महत्वपूर्ण योगदान के बारे में चर्चा की। स्टूडेंट डेवलपमेंट के प्रतिनिधि प्रांशु शर्मा और मोहक खंडूझा ने कॉलेज के विभिन्न क्लब्स और कम्यूनिटीज से छात्रों को अवगत कराया। जहां एक ओर "एनिग्मा" और "खालस" स्टूडेंट्स के डांसिंग स्किल्स को एक मंच प्रदान करता है वहीं आशाएं,उम्मीदें और अभियुध्या सामाजिक जिम्मेदारियों से लोगो को अवगत करवाते है। इसके साथ ही उन्होंने बताया की कैसे "रेनेसैंसे" राजस्थान के सबसे बड़ा टेक्नो-कल्चरल फेस्ट है जो छात्रों में तकनिकी और प्रबंधन संबंधी कौशल का विकास करता है। इसके बाद तरुण सारस्वत, इनक्यूबेशन मैनेजर, जेईसी ने बताया की अब तक जेईसीआरसी अपने छात्रों को उनके स्टार्टअप्स के लिए 9.1 करोड़ रुपए से ज्यादा की फंडिंग सरकार द्वारा आवंटित करी जा चुकी है जिसमे से 3.2 करोड़ की फंडिंग स्टार्टअपस को दी जा चुकी है । फंडिंग के साथ-साथ स्टूडेंट्स को एक सफल एंटरप्रेन्योर बनाने के लिए भी गाइड करता है। इसी के साथ छात्रों को कॉलेज के विभिन्न क्षेत्रों के बारे में विस्तृत रूप से जानकारी दी। "परिचय 22" छात्रों के लिए कॉलेज के इकोसिस्टम को समझने का एक सुनहरा अवसर रहा।

No comments:

Post a Comment

मंगलयान और चंद्रयान ने दिखाए बच्चों को अंतरिक्ष तक पहुंचने के सपने

-जेईसीआरसी यूनिवर्सिटी में हुआ तीन दिवसीय इसरो एग्जिबिशन का समापन - प्रिंसिपल मीट का हुआ आयोजन  जयपुर। जेईसीआरसी यूनिवर्सिटी में तीन दिवसीय ...