Wednesday, November 9, 2022

अंबुजा सीमेंट्स ने जल दक्षता, ग्रीनहाउस गैस उत्सर्जन और पर्यावरण में समग्र नेतृत्व के लिए ईएसजी इंडिया लीडरशिप अवार्ड्स 2022 हासिल किया

मुंबई, 09 नवंबर 2022- अदानी सीमेंट की सीमेंट और निर्माण सामग्री शाखा और अदानी ग्रुप की इकाई अंबुजा सीमेंट्स लिमिटेड ने जल दक्षता, ग्रीनहाउस गैस उत्सर्जन पर अंकुश लगाने और पर्यावरण श्रेणी में समग्र नेतृत्व पर अपनी पहल के लिए ईएसजी इंडिया लीडरशिप अवार्ड्स 2022 हासिल किया है।

अंबुजा सीमेंट्स ने हमेशा जलवायु संरक्षण, सर्कुलर इकोनॉमी, कम कार्बन उत्पाद बनाने, स्वच्छ ऊर्जा पर ध्यान केंद्रित करने और सस्टेनेबिलिटी के सिद्धांतों के आधार पर अपने सीएसआर कार्यक्रम के माध्यम से सामुदायिक पहुंच बढ़ाने पर जोर दिया है। कंपनी के ये प्रयास विविधता और साझा मूल्यों के साथ अपने ईएसजी फुटप्रिंट को बढ़ाने के लिए अडानी समूह की प्रतिबद्धता के अनुरूप हैं। यह भविष्य और राष्ट्र निर्माण के हमारे लक्ष्य की दिशा में एक आवश्यक कदम है। कंपनी यह भी सुनिश्चित करती है कि वह जो भी निर्णय करे, उनमें सभी में सामाजिक और पर्यावरणीय विचार अवश्य शामिल किए जाएं और इस तरह कंपनी को अपने लिए प्रतिस्पर्धात्मक बढ़त हासिल करने में सहायता मिलती है।

सस्टेनेबिलिटी के प्रति अंबुजा सीमेंट्स का एक विशिष्ट दृष्टिकोण है, जो इसे समाज और पर्यावरण पर पड़ने वाले प्रभाव को मापने में सक्षम बनाता है। इससे उसे अपने व्यवसाय के संचालन और उसके अनुसार कार्यों को जांचने में भी मदद मिलती है। कंपनी ने 2030 कार्बन उत्सर्जन में कमी के लक्ष्य विकसित किए हैं जिन्हें साइंस बेस्ड टार्गेट इनिशिएटिव्स (एसबीटीआई) द्वारा मान्य किया गया है। कंपनी ने डीकार्बाेनाइजेशन रोडमैप को लागू करने के लिए भारत के साइंस बेस्ड टार्गेट इनिशिएटिव्स इनक्यूबेटर कार्यक्रम के साथ भागीदारी की है।

अंबुजा सीमेंट्स जल सुरक्षा के लिए सीडीपी 2021 ‘सूची में शामिल होने वाली वैश्विक स्तर पर पहली सीमेंट कंपनी है। यह अपने भट्टों पर प्लास्टिक कचरे की को-प्रोसेसिंग के माध्यम से 8 गुना वाटर पॉजिटिव और 2.5 गुना प्लास्टिक निगेटिव है।

सीमेंट बिजनेस और अंबुजा सीमेंट्स के सीईओ श्री अजय कपूर ने कहा, ‘‘अपने सभी प्रकार के संचालन कार्यों में हमारी सस्टेनेबिलिटी संबंधी एप्रोच के कारण हमें ईएसजी इंडिया लीडरशिप अवार्ड्स 2022 में मान्यता प्राप्त होने की खुशी है। इसी एप्रोच के कारण हमने समाज और पर्यावरण के लिए स्थायी समाधान बनाने में उद्योग के मानक स्थापित किए हैं। हम एक महत्वाकांक्षी लो कार्बन इकोनॉमी मॉडल और जल दक्षता को बढ़ावा देना जारी रखेंगे। हमारे समूह के दृष्टिकोण के अनुरूप, हम देश में मोस्ट सस्टेनेबल सीमेंट और निर्माण सामग्री कंपनी बनने की इच्छा रखते हैं।’’

यह उपलब्धि पानी की कमी को दूर करने के लिए अंबुजा सीमेंट्स की प्रतिबद्धता की पुष्टि करती है। तीन पहलों - कंक्रीट मिक्स प्रपोर्शन, मॉड्यूलर क्यूरिंग, और रेन वाटर हार्वेस्टिंग ने कंपनी को 70 मिलियन लीटर पानी बचाने और टिकाऊ निर्माण पहल को बढ़ावा देने में मदद की है।

अंबुजा सीमेंट्स ने एनर्जी सोर्सिंग के लिए अपनी मूल्य श्रृंखला में रणनीतिक पहल की है और अपनी ऊर्जा जरूरतों को पूरा करने के लिए आंतरिक क्षमता भी विकसित की है। इनमें वेस्ट हीट रिकवरी सिस्टम (डब्ल्यूएचआरएस), अक्षय ऊर्जा, क्लिंकर फैक्टर में कमी, ऊर्जा दक्षता (थर्मल और इलेक्ट्रिकल) और वैकल्पिक ईंधन सहित वेस्ट-डिराइव्ड संसाधनों का उपयोग शामिल है। कंपनी के सबसे प्रमुख और सबसे ज्यादा बिकने वाले उत्पादों में से एक, अंबुजाकवच, एक ऐसा प्रोडक्ट है, जिसमें वाटर-रिपेलेंट संबंधी खूबियां शामिल हैं। इसे सोलर इंपल्स फाउंडेशन फॉर ग्रीन बिल्डिंग सॉल्यूशंस द्वारा समर्थन दिया गया था।

No comments:

Post a Comment

मंगलयान और चंद्रयान ने दिखाए बच्चों को अंतरिक्ष तक पहुंचने के सपने

-जेईसीआरसी यूनिवर्सिटी में हुआ तीन दिवसीय इसरो एग्जिबिशन का समापन - प्रिंसिपल मीट का हुआ आयोजन  जयपुर। जेईसीआरसी यूनिवर्सिटी में तीन दिवसीय ...