Wednesday, October 12, 2022

अवादा ग्रुप और एयरटच सोलर ने भारत में रोबोटिक क्लीनिंग सॉल्यूशंस की आपूर्ति और रखरखाव के लिए की साझेदारी

मुंबई, 12 अक्टूबर, 2022- ऊर्जा बदलाव संबंधी भारत की अग्रणी कंपनी अवादा ग्रुप ने रोबोटिक क्लीनिंग सॉल्यूशंस का उपयोग करके अपने सौर मॉड्यूल के रखरखाव के लिए इज़राइल स्थित एयरटच सोलर के साथ दीर्घकालिक अनुबंध पर हस्ताक्षर किए हैं। 25 वर्षों की अवधि के लिए किए गए इस समझौते में अवादा सौर फार्मों में एयरटच रोबोटिक क्लीनिंग सिस्टम की आपूर्तिनिर्माणपरीक्षणकमीशनिंगसंचालन और रखरखाव शामिल होगा।

अवादा ग्रुप के सीओओ किशोर नायर ने इस साझेदारी के बारे में विस्तार से जानकारी देते हुए कहा, ‘‘एयरटच रोबोटिक टेक्नोलॉजी सॉल्यूशंस हमारे सौर मॉड्यूल पर जमी धूल को साफ करके हमारे संयंत्र की परिचालन क्षमता में सुधार करेंगेजिससे नुकसान कम होगा। एयरटच के साथ हमारा जुड़ाव शुष्क क्षेत्र में पानी बचाने के माध्यम से स्थिरता के प्रति हमारी प्रतिबद्धता को मजबूत करेगा। मेड इन इंडिया’ के साथ सटीक इज़राइल तकनीक दोनों कंपनियों के लिए एक जीत है।’’

एयरटच सोलर्स के सीईओ ताल लॉफर ने इस साझेदारी पर टिप्पणी करते हुए कहा, ‘‘हम भारत में अपनी गतिविधियों का विस्तार करना जारी रखते हैं जो दुनिया में सबसे तेजी से बढ़ते बाजारों में से एक है। अवादा जैसे अग्रणी डेवलपर्स से हमें जो ऑर्डर मिले हैंवह एयरटच रोबोट की गुणवत्ता और विश्वसनीयता का प्रमाण है। पिछले वर्षों में हमने लोकल प्रोडक्शनलॉजिस्टिकसेवा और बिक्री संबंधी इन्फ्रास्ट्रक्चर कायम किया हैजिसकी सहायता से हमने ग्राहकों के साथ निकटता के साथ-साथ सेवा की गुणवत्ता और प्रतिक्रिया समय में सुधार किया है।’’

रोबोटिक क्लीनिंग सॉल्यूशंस को लागू करना आसान है और मिट्टी के कारण होने वाले नुकसान का को भी यह ऑप्टिमाइज करता है। इन रोबोटों को तैनात करकेहम उत्पादन और राजस्व में महत्वपूर्ण लाभ और बहुत तेज सफाई चक्र का अनुभव करने के अलावासालाना 80 से 100 किलो लीटर पानी/मेगावाट की बचत करने में सक्षम होंगे।’’

अवादा ग्रुप के सीओओ किशोर नायर ने आगे कहा, ‘‘सभी के लिए बिजली- सरकार का मिशन है और सौर ऊर्जा इस मिशन को हासिल करने में अहम भूमिका निभाएगी। 2030 तक 500 गीगावॉट अक्षय ऊर्जा क्षमता के सरकारी लक्ष्य के साथ अवादा ग्रुप अपनी बढ़ी हुई आरई क्षमता और एयरटच के सपोर्ट के साथ जल संरक्षण और परियोजनाओं की बेहतर दक्षता के माध्यम से इस लक्ष्य को प्राप्त करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।’’

इस समझौते के हिस्से के रूप मेंएयरटच राजस्थान में अपने भादला संयंत्र और महाराष्ट्र के पनगांव और दमनगांव में सौर मॉड्यूल को ड्राई क्लीन करने के लिए अपने रोबोटिक समाधानों का उपयोग करेगा। एयरटच इन परियोजनाओं के लिए 0.6 मिलियन अमरीकी डालर की राशि के रोबोटों की आपूर्ति और स्थापना करेगा। इसके अलावाएयरटच 1.4 मिलियन अमरीकी डालर की राशि के लिए 25 वर्षों के लिए व्यापक वार्षिक रखरखाव भी प्रदान करेगा।

कंपनी ने ड्राई (वाटर फ्री) रोबोटिक क्लीनिंग सॉल्यूशन विकसित किया हैवह सौर पैनलों पर धूल जमा होने की समस्या का एक बेहतर और श्रेष्ठ समाधान है। वर्ष 2025 के लिए रोबोटिक सफाई समाधानों का लक्षित बाजार 11 अरब डॉलर होने का अनुमान है। अंदाजा है कि अभी बाजार का लगभग 95 प्रतिशत हिस्सा रोबोटिक सफाई समाधान के बिना काम कर रहा है।

No comments:

Post a Comment

मंगलयान और चंद्रयान ने दिखाए बच्चों को अंतरिक्ष तक पहुंचने के सपने

-जेईसीआरसी यूनिवर्सिटी में हुआ तीन दिवसीय इसरो एग्जिबिशन का समापन - प्रिंसिपल मीट का हुआ आयोजन  जयपुर। जेईसीआरसी यूनिवर्सिटी में तीन दिवसीय ...