Friday, July 8, 2022

हिमाचल प्रदेश में स्थित और दुनिया में सड़क से जुड़े सबसे ऊँचे गाँव, कोमिक में अब स्पाइस मनी अधिकारी के जरिए एटीएम सेवाएं उपलब्ध

मुंबई, 08 जुलाई, 2022: भारत में बैंकिंग के तरीके में क्रांतिकारी बदलाव ला रहे और देश के अग्रणी फिनटेक, स्पाइस मनी ने हिमाचल प्रदेश स्थित और दुनिया में सड़क से जुड़े सबसे ऊँचे गाँव, कोमिक में स्पाइस मनी मिनी-एटीएम सेवाओं की शुरुआत करके वहाँ आवश्यक वित्तीय सेवाओं को सुलभ करा दिया है। यह बड़ा कदम स्पाइस मनी को भारत जैसे विशाल देश के दूर-दराज के क्षेत्रों में कोने-कोने तक वित्तीय समावेशन को आगे बढ़ाने के दृष्टिकोण के प्रति उनकी प्रतिबद्धता को दर्शाता है।

दुनिया में सबसे ऊँचे गांव के रूप में लोकप्रिय, कोमिक 15500 फीट की ऊंचाई पर खूबसूरत स्पीति घाटी में स्थित है। इसकी कुल आबादी 114 है। बर्फ से ढके पहाड़ों और मनमोहक वादियों से घिरे इस गांव में अंतरराष्ट्रीय और भारतीय दोनों तरह के पर्यटकों का नियमित आगमन होता है। आवश्यक बैंकिंग और वित्तीय सेवाओं की कमी के साथ-साथ अपर्याप्त इंटरनेट कनेक्टिविटी यहाँ के निवासियों और पर्यटकों के लिए एक प्रमुख बाधा थी। नकद और भुगतान सेवाओं के लिए, उन्हें 18 किमी दूर चलकर जिला मुख्यालय, काजा के एटीएम में जाना पड़ता था। इससे न केवल निवासियों को बड़ी असुविधा होती थी बल्कि यह गांव के आर्थिक विकास में भी बाधा थी। स्पाइस मनी ने स्थानीय किराना स्टोर के मालिक को स्पाइस मनी अधिकारी बनाकर और शून्य लागत पर उन्हें उनकी डिजिटल दुकान खोलने का अधिकार देकर इस समस्या का समाधान किया। यह डिजिटल दुकान अब एईपीएस नकद निकासी, मिनी-एटीएम, बिल भुगतान और ऋण संग्रह केंद्र के रूप में कार्य करेगी।
भारत के भीतरी इलाकों में एटीएम की पहुंच अपर्याप्त रही है। औसतन प्रत्येक दस गांव पर एक एटीएम की सुविधा उपलब्ध है। ऐसे में, स्पाइस मनी मिनी एटीएम और लाखों अधिकारियों के अपने मजबूत नेटवर्क की मदद से इस ग्रामीण-शहरी विभाजन की खाई को पाट रहा है। पिछले साल मई में, स्पाइस मनी ने हिमाचल प्रदेश में भारत के आखिरी बसे हुए गांव चितकुल में मिनी-एटीएम सेवाएं शुरू की थीं। कंपनी ने निवासियों और पर्यटकों को कैश-इन कैश-आउट सेवाएं प्रदान करने के लिए गांव के केवल दो किराना स्टोरों में से एक को स्पाइस मनी 'डिजिटल दुकान' में बदल दिया।
स्पाइस मनी के सह-संस्थापक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी, संजीव कुमार ने कहा, "भारत के अधिकांश गांवों में अभी भी बैंकिंग बुनियादी ढांचे और एटीएम नेटवर्क की कमी है। स्पाइस मनी में, हमारा मिशन भारत के छोटे-से-छोटे शहरों और गांवों को सशक्त बनाना और आवश्यक बैंकिंग एवं वित्तीय सेवाओं को उनके दरवाजे तक पहुंचाना है। कोमिक में मिनी एटीएम सेवा की शुरुआत देश के भीतरी इलाकों में पहुंच की समस्या को हल करने के प्रति हमारे समर्पण का प्रमाण है। हम दुनिया के सबसे ऊंचे गांव में अपनी उपस्थिति दर्ज कराने और अपने डिजिटल रूप से सक्षम मंच के माध्यम से निवासियों और पर्यटकों के सामने आने वाली समस्याओं का समाधान करके बेहद खुश हैं।"
स्पाइस मनी के पास देश के अर्ध शहरी और ग्रामीण हिस्सों में 10,00,000 अधिकारियों (व्यापारी / नैनोप्रेन्योर) का एक विशाल नेटवर्क है, जो बैंकिंग और वित्तीय सेवाएं उपलब्ध कराकर ग्रामीण आबादी की सहायता करने के लिए लगातार काम कर रहे हैं। स्पाइस मनी ने एक व्यापक असिस्टेड-डिजिटल इकोसिस्टम स्थापित किया है जिसकी पैठ 95% ग्रामीण पिन कोड में है, यह 700 जिलों और 5,000 ब्लॉकों को कवर करता है और 10 करोड़ से अधिक परिवारों को सेवा प्रदान करता है।

No comments:

Post a Comment

उत्कर्ष : तिरंगा थीम पर आयोजित विशाल रक्तदान शिविर का उत्साहपूर्ण समापन

जोधपुर।  उत्कर्ष क्लासेस द्वारा शिक्षाविद एवं समाजसेवी तथा संस्था के संस्थापक व निदेशक डॉ. निर्मल गहलोत के 44वें जन्मदिवस के अवसर पर शनिवार,...