Tuesday, July 12, 2022

महिला सशक्तिकरण और सामुदायिक विकास की दिशा में अपने प्रयासों के लिए अंबुजा सीमेंट फाउंडेशन का सम्मान

मुंबई, 12 जुलाई 2022- अंबुजा सीमेंट्स की सीएसआर शाखा अंबुजा सीमेंट फाउंडेशन को सामुदायिक विकास और महिला सशक्तिकरण की दिशा में वास्तविक धरातल पर प्रभावशाली तरीके से काम करने के लिए सम्मानित किया गया है। महिला सशक्तिकरण, स्वास्थ्य, पेयजल और समग्र सामुदायिक विकास की दिशा में अपने प्रयासों के लिए कंपनी को समय-समय पर मान्यता प्रदान की गई है।

कंपनी ने संकरैल और फरक्का में अपनी महिला सशक्तिकरण और जल संसाधन प्रबंधन और स्वास्थ्य देखभाल संबंधी पहल के लिए लगातार चौथी बार आईसीसी सोशल इम्पैक्ट अवार्ड्स 2022 हासिल किया। इसी तरह, राबरियावास में महिला सशक्तिकरण के लिए किए गए फाउंडेशन के प्रयासों को भी मान्यता दी गई और इंदिरा महिला शक्ति प्रोत्साहन और सम्मान पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

चिड़ावा में स्किलिंग सेंटर को महिला सशक्तिकरण के क्षेत्र में सर्वश्रेष्ठ कौशल संस्थान के रूप में   उत्कृष्ट कार्य के लिए इंदिरा महिला शक्ति सम्मान पुरस्कार मिला। केंद्र को लैंगिक समानता में अपने काम के लिए मान्यता दी गई थी। केंद्र के पाठ्यक्रमों में पुरुष और महिला प्रशिक्षुओं की 50-50 प्रतिशत भागीदारी सुनिश्चित की गई है और साथ ही, महिलाओं को इलेक्ट्रीशियन, सुरक्षा गार्ड जैसे पाठ्यक्रमों में नामांकन के लिए प्रोत्साहित किया गया है। ये ऐसे कोर्स हैं जिनमें आम तौर पर पुरुषों को ही नामांकित किया जाता है।

फाउंडेशन की स्किलिंग टीम ने हिंदुस्तान जिंक के कौशल और उद्यमिता विकास संस्थान के पाठ्यक्रमों को भी लागू करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है, जिसे महिला और बालिका सशक्तिकरण पर अपने काम के लिए राजस्थान सरकार ने इंदिरा महिला शक्ति प्रोत्साहन पुरस्कार से सम्मानित किया है।

इंडिया होल्सिम के सीईओ और अंबुजा सीमेंट्स लिमिटेड के एमडी और सीईओ श्री नीरज अखौरी ने कहा, ‘‘हम जिला और राज्य दोनों स्तरों पर पुरस्कारों के साथ महिला सशक्तिकरण की दिशा में अपने प्रयासों के लिए पहचाने जाने पर सम्मानित महसूस कर रहे हैं। यह सम्मान सामुदायिक स्तर पर जीवन में बदलाव लाने के हमारे प्रयासों को निश्चित तौर पर और गति प्रदान करेगा। इस अवसर पर हम यही कहना चाहते हैं कि हम समुदायों में महिलाओं को एक कदम आगे बढ़ाने और प्रभाव पैदा करने के लिए सशक्त बनाने के अपने प्रयास जारी रखेंगे।’’

सामुदायिक मोर्चे पर अनेक संस्थानों और लाभार्थियों को सामुदायिक प्रभाव तैयार करने में उनके काम के लिए जिला और राज्य स्तर पर पुरस्कार मिले। रोपड़ में रूपनगर किसान उत्पादक कंपनी ने पंजाब में 16 एफपीओ में सर्वश्रेष्ठ किसान उत्पादक संगठन (एफपीओ) प्राप्त किया। बठिंडा में नाबार्ड ने एक महिला समूह की दो महिलाओं को उत्कृष्ट उद्यमी पुरस्कार से सम्मानित किया। कंपनी को क्षेत्र में कृषि क्षेत्र में अपने काम के लिए सर्वश्रेष्ठ एनजीओ पुरस्कार से भी सम्मानित किया गया था।

दरलाघाट में, महिला सहकारी समिति, महिला संघ और वाटरशेड समिति की तीन महिला नेताओं को हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री ने सम्मानित किया। उन्हें अपने संस्थानों में अधिक महिलाओं को सशक्त बनाने और शामिल करने और उन्हें अपनी आवाज बुलंद करने के लिए प्लेटफॉर्म उपलब्ध कराने पर सम्मानित किया गया।

No comments:

Post a Comment

उत्कर्ष : तिरंगा थीम पर आयोजित विशाल रक्तदान शिविर का उत्साहपूर्ण समापन

जोधपुर।  उत्कर्ष क्लासेस द्वारा शिक्षाविद एवं समाजसेवी तथा संस्था के संस्थापक व निदेशक डॉ. निर्मल गहलोत के 44वें जन्मदिवस के अवसर पर शनिवार,...