Tuesday, July 12, 2022

भारतपे ने विकास की रफ्तार को और तेज कियाः वित्त वर्ष 2023 की पहली तिमाही में 3600 करोड़ रुपए से अधिक के ऋण की सुविधा दी

नई दिल्ली, 12 जुलाई, 2022- भारत की सबसे तेजी से बढ़ती फिनटेक कंपनियों में से एक भारतपे ने आज कंपनी के इतिहास में सबसे अधिक विकास दर वाली तिमाही हासिल की है। कंपनी ने वित्त वर्ष 2023 की पहली तिमाही में 3600 करोड़ रुपए से अधिक के ऋण की सुविधा देकर सफल अंतिम तिमाही (वित्त वर्ष 2022 की चौथी तिमाही) से दोगुनी वृद्धि की, पिछली तिमाही में 112 फीसदी की आश्चर्यजनक वृद्धि दर्ज की। भारतपे ने सबसे ज्यादा 18.5 बिलियन डॉलर सालाना टीवीपी अर्जित किया, 2022 की की चौथी तिमाही की तुलना में 50 फीसदी से ज्यादा की वृद्धि।

कंपनी ने वित्त वर्ष 2022 की अंतिम तिमाही में 66,000 व्यापारियों की तुलना में वित्त वर्ष 2023 की पहली तिमाही में 1.2 लाख से अधिक व्यापारियों को ऋण वितरण की सुविधा प्रदान की। ऋण के लिए शीर्ष व्यापारी श्रेणियों में किराना, खाद्य और पेय पदार्थ, सड़क के किनारे के कियोस्क और स्ट्रीट वेंडर, साथ ही खुदरा आउटलेट शामिल हैं। इसके अतिरिक्त, भारतपे के अन्य प्रोडक्ट ऑफर, जिसमें कार्ड स्वीकृति पीओएस व्यवसाय (भारत स्वाइप) और व्यापारियों के लिए इसके निवेश प्लेटफॉर्म शामिल हैं, में पिछली तिमाही की तुलना में 30 फीसदी से अधिक लगातार विकास दर्ज किया गया।

इस उपलब्धि की बात करते हुए भारतपे के सीईओ श्री सुहैल समीर ने कहा, ’महामारी के चलते देश में डिजिटल भुगतान और कर्ज के सेगमेंट में व्यापक स्तर पर बढ़ोतरी दर्ज की गई। टैक्नोलॉजी और डेटा के नए पावर सेंटर के साथ भारतपे इस बदलाव में सबसे आगे रहा है। एक सफल वित्त वर्ष 2022 के बाद, जिसे हमने मर्चेंट लोन में 3 गुना वृद्धि, भुगतान में 2.5 गुना वृद्धि और राजस्व में 4 गुना उछाल के साथ बंद किया, भारतपे ने वित्त वर्ष 2023 की पहली तिमाही में अपनी अब तक की सबसे अच्छी तिमाही दर्ज की है। हम एक अद्भुत विकास यात्रा पर हैं, जो डिजिटल भुगतान मोड के प्रति व्यवहार में भारी बदलाव, यूपीआई के उदय और नए जमाने के फिनटेक उत्पादों की बढ़ती स्वीकृति से प्रेरित है। हमने कुल ऋण सुविधा में 112 फीसदी की वृद्धि के साथ पिछली तिमाही को पूरा किया है। ये आंकड़े उस भरोसे का प्रमाण हैं, जो लाखों ऑफलाइन मर्चेंट पार्टनर्स और उपभोक्ताओं ने हम पर किया है।’

सुहैल ने आगे कहा, ‘यह ड्रीम रन हमारी विश्व स्तरीय टीम की प्रतिबद्धता और कड़ी मेहनत के बिना संभव नहीं होती। हमने पिछली तिमाही के अपने प्रदर्शन में ऐतिहासिक सुधार किया है और हम अपने प्रमुख सेगमेंट भुगतान और क्रेडिट व्यवसायों को बढ़ाने पर ध्यान केंद्रित करना जारी रखेंगे। हम वित्तीय समावेशन को अंतिम छोर यानी टियर 3,4 और 5 शहरों और कस्बों में लाने के अपने मिशन के मूल में बने हुए हैं। हम वित्त वर्ष 2023 के अंत तक उपभोक्ता और मर्चेंट व्यवसाय दोनों में सुविधा प्रदान किए गए ऋण (हमारे एनबीएफसी / बैंक भागीदारों के माध्यम से) में 2 बिलियन डॉलर से अधिक के अपने लक्ष्य को प्राप्त करने के साथ-साथ मार्च 2023 तक टीपीवी को 30 बिलियन डॉलर तक बढ़ाने के लिए ट्रैक पर हैं। इसके अतिरिक्त, हम नए जमाने के फिनटेक उत्पादों को लॉन्च करने के लिए बैंकों के साथ साझेदारी के अवसरों की तलाश जारी रखेंगे।’

‘उधार देने के सीधे-सीधे दृष्टिकोण से आगे बढ़ते हुए, भारतपे ने हमारे ऋण देने वाले भागीदारों के साथ साझेदारी में 10 लाख रुपये तक के छोटे-़ऋण, अल्पकालिक और आसानी से चुकाने वाले ऋणों के रूप में क्रेडिट को सुरक्षित कर लिया है। 12 महीने तक के लचीले कार्यकाल विकल्पों के साथ, छोटे व्यवसायों के व्यवसाय चक्र के अनुरूप बनाया गया समाधान तैयार किया गया है। भारतपे ने इस साल की शुरुआत में, अपने एनबीएफसी भागीदारों के साथ साझेदारी में, सुरक्षित ऋण देने में भी कदम रखा, और वित्तीय वर्ष के अंत तक सोने पर आधारित ऋण उत्पाद को 20 शहरों तक पहुंचाने की योजना है।

No comments:

Post a Comment

इंश्योरेंस में प्रोडक्ट इनोवेशनः सुकून भरे रिटायरमेंट के लिए नई जरूरत

आम तौर पर बीमा कंपनियां उभरते जोखिमों और उपभोक्ता प्रवृत्तियों को ध्यान में रखते हुए उत्पाद बनाती हैं। इस बीच, अक्सर उत्पादों की सादगी नवाचा...