Wednesday, June 1, 2022

सिटी पैलेस में सांस्कृतिक विरासत प्रशिक्षण शिविर का हुआ शुभारंभ


जयपुर । 
सिटी पैलेस जयपुर परिसर में बुधवार को सांस्कृतिक विरासत प्रशिक्षण शिविर का शुभारंभ हुआ। शिविर में प्रशिक्षणार्थियों को एक माह तक ध्रुवपद, कथक, पेंटिंग, बांसुरी और मांडना जैसी पारम्परिक कलाओं का निशुल्क प्रशिक्षण दिया जाएगा। यह शिविर महाराजा सवाई मान सिंह द्वितीय संग्रहालय, 'रंगरीत' एवं सरस्वती कला केन्द्र के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित किया जा रहा है। इस प्रशिक्षण शिविर में राजस्थान के प्रख्यात कलाकारों द्वारा प्रशिक्षणार्थियों को पारंपरिक कलाओं के गुर सिखाएंगे। जिसमें श्रीमती मधू भट्ट तैलंग 'ध्रुवपद' का प्रशिक्षण देंगीं। जहां डॉ. ज्योति भारती गोस्वामी जयपुर घराने के 'कथक' की बारीकियां सिखाएंगी, वहीं श्री आर.डी.गौड़ 'बांसुरी' का प्रशिक्षण देंगे। इसी प्रकार से  रामू रामदेव पारम्परिक चित्रकला में बेसिक लाइंस और खनिज रंगों के बारे,  हमेंत रामदेव कांगडा शैली और  बाबू लाल मारोटिया जयपुर स्टाइल के बारे में प्रशिक्षण देंगे।  लक्ष्मी नारायण कुमावत 'मांडना' कला का प्रशिक्षण देंगे। शिविर का शुभारंभ वैदिक मंत्रोच्चार के साथ दीप प्रज्वलित करके किया गया। कार्यक्रम में राजस्थान की सुप्रसिद्ध कलाकार ऊषा श्री ने मुख्य अतिथि के रूप में शिरकत की। वहीं कार्यक्रम में सभी प्रशिक्षकों के साथ महाराजा सवाई मान सिंह द्वितीय संग्रहालय की एग्जीक्यूटिव ट्रस्टी, रमा दत्त; एमएसएमएस द्वितीय संग्रहालय की डायरेक्टर, रीमा हूजा उपस्थित रहे। वहीं श्रीमती रमा दत्त ने सभी प्रशिक्षकों का माला पहनाकर स्वागत किया। इस अवसर पर श्रीमती रमा दत्त ने कहा कि जयपुर राज परिवार का यह प्रयास है कि लुप्त होती पारंपरिक कलाओं को जीवित रखा जाए। इस प्रयास के रूप में 2 साल बाद फिर से यह शिविर आयोजित किया जा रहा है जिससे कि बच्चों को पारंपरिक कलाओं का ज्ञान व समझ मिले और इसमें उनकी रूची बढ़े। शिविर के शुभारंभ पर शिविर के संयोजक रामू रामदेव ने प्रशिक्षणार्थियों को फ्रेस्को, टेम्परा और मिनीएचर पेंटिंग्स की जानकारी दी। प्रशिक्षणार्थियों ने सिटी पैलेस में बनी फ्रेस्को पेंटिंग्स और भित्ति चित्रों के बारे में भी जाना। साथ ही आर्ट गैलेरी भी विजिट की।

No comments:

Post a Comment

सीत कमल को विभिन्न श्रेणी में मिले दो अवार्ड

कपड़ा मंत्री पीयूष गोयल ने सीत कमल के  गौतम नाथानी को सम्मान से नवाज़ा नई दिल्ली। नई दिल्ली में हस्तशिल्प निर्यात संवर्धन परिषद (ईपीसीएच) ने ...