Tuesday, May 3, 2022

वोडाफोन आडिया ने InViCT की स्थापना के लिए ICRIER के साथ की साझेदारी- एक सेंटर जो अनुसंधान परामर्श, नीतिगत सहयोग तथा डिजिटल भारत मिशन में देगा योगदान

नई दिल्ली, 03 मई, 2022ः टेलीकॉम नीति, प्रशासन एवं विनियमन के क्षेत्र में अनुसंधान परामर्श एवं नीतिगत सहयोग तथा डिजिटल इंडिया मिशन को बढ़ावा देने के उद्देश्य से वोडाफोन आइडिया लिमिटेड ने टेलीकॉम सेंटर ऑफ एक्सीलेन्स ;(CoE) के लिए इंडियन काउन्सिल फॉर रीसर्च ऑन इंटरनेशनल इकोनोमिक रिलेशन्स (ICRIER) के साथ साझेदारी की है। इस सेंटर को नाम दिया गया है- InViCT( CRIER और वोडाफोन आइडिया सेंटर फॉर टेलीकॉम)।

इसके मद्देेनज़र देश की राजधानी में हाल ही में डॉ दीपक मिश्रा, डायरेक्टर एवं सीईओ, ICRIER और श्री बालाजी चीफ़ रेग्युलेटरी एण्ड कॉर्पोरेट अफ़ेयर्स ऑफिसर, वोडाफ़ोन आइडिया लिमिटेड के बीच समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए गए।

सेंटर ऑफ एक्सीलेन्स सरकार, अकादमिक जगत एवं उद्योग जगत के हितधारकों को एक ही मंच पर लेकर आएगा तथा भारत के टेलीकॉम सेक्टर के लिए उभरती तकनीकों एवं कारोबार रूझानों के अनुसार अनुकूल नीति निर्माण को बढ़ावा देगा।

भारत का टेलीकॉम सेक्टर दुनिया भर के सबसे बड़े टेलीकॉम बाज़ारों में से एक है, जो डिजिटल भारत यात्रा की रीढ़ बन चुका है। भारत 5 जी के दौर में प्रवेश कर रहा है, ऐसे में प्रतिभा को बढ़ावा देने, आधुनिक तकनीकों के लिए अनुकूल माहौल बनाने, देश की सूचना प्रणाली को सुरक्षित एवं सशक्त बनाने तथा बेहतर कनेक्टिविटी के ेद्वारा आर्थिक उत्थान को सुनिश्चित करना बेहद महत्वपूर्ण है।

InViCT सर्वश्रेष्ठ प्रथाओं के पहचान कर, जानकारी के आदान-प्रदान, विनियमों एवं नीति निर्माण तथा प्रशासन की सर्वश्रेष्ठ प्रथाआंे द्वारा इन सभी आवश्यकताओं को पूरा करेगा और भारतीय टेलीकॉम सेक्टर पर उल्लेखनीय प्रभाव उत्पन्न करेगा।

श्री पी. बालाजी, चीफ़ रेग्युलेटरी एण्ड कॉर्पोरेट अफेयर्स ऑफिसर, वोडाफोन आइडिया लिमिटेड ने कहा‘‘टेलीकॉम उद्योग भारत में डिजिटल क्रान्ति को बढ़ावा देने वाला महत्वपूर्ण कारक है। भारत की डेटा उन्मुख सोसाइटी हाई स्पीड नेटवर्क एवं उत्कृष्ट कनेक्टिविटी पर ही निर्भर है, 5 जी के आगमन से देश में नए अवसर खुलेंगे और इनोवेशन्स को बढ़ावा मिलेगा। ऐसे में नीति नियोजन के लिए डिजिटल कनेक्टिविटी को प्राथमिकता देना ज़रूरी है। ICRIER की साझेदारी में InViCT के गठन से हम टेलीकॉम नीति, प्रशासन एवं विनियमन पर हितधारकों के बीच वार्ता को प्रोत्साहित करेंगे तथा सेक्टर में स्थायी विकास को सुनिश्चित कर सरकार के डिजिटल भारत मिशन में योगदान देंगे।’’

डॉ दीपक मिश्रा, डायरेक्टर एवं सीईओदृ ICRIER ने कहा, ‘‘ ICRIER और वोडाफ़ोन आइडिया सेंटर फॉर टेलीकॉम ;(InViCT), देश में टेलीकॉम पॉलिसी रीसर्च के विश्लेषण को सशक्त बनाने ICRIER की दीर्घकालिक की प्रतिबद्धता को दर्शाता है। यह सेंटर ICRIER अनुसंधान की सशक्त क्षमता तथा वोडाफ़ोन आइडिया की व्यापक पब्लिक पॉलिसी आउटरीच का संयोजन है। हमें उम्मीद है कि यह सेंटर टेलीकॉम क्षेत्र में ज्ञान, नीतिगत विचारों एवं तकनीकी सहयोग के भरोसेमंद स्रोत के रूप में विकसित होगा।’’

InViCT एक स्वायत्त अनुसंधान केन्द्र की तरह काम करेगा, जो निजी क्षेत्र, अकादमिक जगत, सरकार के हितधारकों को एक ही मंच पर लाकर देश की प्रतिभा को सशक्त बनाएगा। अपने अनुसंधान में यह मुख्य रूप से टेलीकॉम एवं संबंधित सेक्टरों जैसे आईसीटी नीतियों, विनियमों पर ध्यान केन्द्रित करेगा तथा नियमित कार्यशालाओ एवं गोलमेज सम्मेलनों के माध्यम से उद्योग, सरकार, विनियामकों एवं अन्य अकादमिक संस्थानों को विचार-विमर्श के लिए मंच प्रदान करेगा।

आने वाले समय में InViCTअनुसंधान को बढ़ावा देने के लिए सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त इन्क्युबेटर्स के साथ क़रार भी करेगा। नई दिल्ली में स्थित इस सेंटर का प्रबन्धन बोर्ड द्वारा ICRIER और वीआईएल के लीडरशिप नॉमिनीज़ की सह-अक्ष्यक्षता में किया जाएगा। बोर्ड में दूरसंचार विभाग, टीआरएआई और सीओएआई के वरिष्ठ प्रतिनिधि भी शामिल हैं। 

No comments:

Post a Comment

जेकेके में दर्शकों ने शास्त्रीय व लोक संगीत की फ्यूजन प्रस्तुति का आनंद उठाया

जयपुर।  जवाहर कला केंद्र (जेकेके) में शुक्रवार शाम को मध्यवर्ती में अंतर्राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त फ़्यूज़न ‘कहरवा’ की प्रस्तुति ने दर्शकों क...