Sunday, May 22, 2022

जयपुर में 'पिक अ बुक' सेशन में 'माई एपिटाफ' पर हुई चर्चा


लिटरेरी डिवाइस एक कविता को अधिक निखार सकती हैं - जगदीप सिंह

जयपुर। सिम्बल्स, मेटाफर्स, इमेजिस, ऑलिट्रेशंस, अल्यूजंस आदि जैसे लिटरेरी डिवाइस एक कविता में निखार लाने के लिए महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। इन डिवाइस के उपयोग से एक कविता को प्रभावी ढंग से विकसित किया जा सकता है। यह बात जयपुर के कवि जगदीप सिंह ने जयपुर में आयोजित 'पिक अ बुक' सेशन में अपने काव्य संकलन 'माई एपिटाफ' पर चर्चा के दौरान कही। वे शिक्षाविद् प्रियंका जैन से बातचीत कर रहे थे। दोनों ने सिंह के संकलन की कुछ कविताओं पर चर्चा की। कन्फेशनल कवि सिल्विया प्लैथ पर चर्चा करते हुए श्री सिंह ने कहा कि कन्फेशनल कवियों के लिए विषयों पर कोई पाबंदी नहीं थी। उन्होंने अपने अंदर छिपी भावनाओं पर स्पष्ट रूप से लिखा। मानसिक बीमारी, आत्महत्या करने की इच्छा, मृत्यु, प्रेम-घृणा संबंध जैसे कुछ गंभीर विषय थे जिन पर उन्होंने कविताएं लिखी थी। सिंह ने यह भी बताया कि कैसे वर्षों के साथ उनकी कविताओं में विकास हुआ। उन्होंने बाद में क्लब मेम्बर्स के सवालों के जवाब दिए। उन्होंने यह भी बताया कि उनका नये कविता संग्रह में महामारी पर भी कई कविताएं हैं, जो कि जल्द ही प्रकाशित होंगी। गौरतलब है कि 'पिक अ बुक' जयपुर के सिटी प्रेसिडेंट अक्षय गोयल हैं। इससे पहले रीजनल हेड, ऑपरेशंस, अंशु हर्ष की उपस्थिति में, 'पिक अ बुक' क्लब के सेक्रेटरी वरुण भंसाली और कोषाध्यक्ष ऋतु शर्मा ने अपने संस्थान के उद्देश्यों के बारे में बताया।

No comments:

Post a Comment

डब्लयूटीपी पर स्टूडेंटस का ऊर्जावान फ्लैश मॉब

जयपुर। जयपुरिया इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट , जयपुर का 16 वां राष्ट्रीय युवा उत्सव ‘ अभ्युदय -2022’ आगामी 9-10 दिसंबर को होगा। इस ...