Saturday, May 7, 2022

श्रीजगदीश ककरालिया मेमोरियल हॉस्पिटल का भूमिपूजन कल

 




नवीन कुमावत
किशनगढ़ रेनवाल। फुलेरा विधानसभा क्षेत्र के प्रमुख किसान नेता एवं धरातल से जुडे सामाजसेवी स्वर्गीय जगदीश ककरालिया के राजनीतिक एवम् सामाजिक कार्यो को अनवरत चलाने की प्रेरणा से उनके परिजन आगे आएं हैं। इसी क्रम में उनकी पुण्य स्मृति में वे जनहितार्थ हाॅस्पिटल का निर्माण करा रहे है। रविवार 8 मई को चौमू-जयपुर - रेनवाल -जोबनेर चौराहे के पास श्रीजगदीश ककरालिया मेमोरियल हॉस्पिटल की नीव लगाई जा रही हैं।
स्व. श्री जगदीश ककरलिया के सुपुत्र राजेश ककरालिया ने बताया कि मेरे पिताजी का सपना था की ग्रामीण क्षेत्र के गरीब एवं जरूरतमंद लोगों के लिए उच्च स्तरीय चिकित्सा सुविधा उपलब्ध हो। इसी सोच को ध्यान में रखकर हम सब परिजन मिलकर आधुनिक सुविधाओं युक्त अस्पताल बनवा रहे हैं। यह 100 बेड का शहर का पहला अस्पताल होगा। 
हाॅस्पिटल निर्माण की व्यवस्था संभाल रही उनकी धर्मपत्नी गंगादेवी ककरालिया के अनुसार भूमि पूजन में सभी राजनीतिक पार्टीयो के स्थानीय जनप्रतिनिधिओ के साथ ही सामाजिक कार्यकर्ता, किसान, मजदूर एवं व्यापारी वर्ग से जुडे सभी शुभचिंतक मौजूद रहेंगे।

स्व. जगदीश ककरालिया जीवन परिचय :
स्व. जगदीश ककरालिया का सम्पूर्ण जीवन सामाजिक एवं राजनीतिक क्षैत्र से जुडा रहा है। इन्ही कार्यो की बदोलत वे हमेशा आम जनता से जुडे रहे। फुलेरा विधानसभा के रघुनंदनपुरा गांव में 26 अक्टूबर 1956 को जन्मे जगदीश ककरालिया शुरु से ही समाज के कार्यो से जुडे रहे। प्राथमिक शिक्षा भोजपुरा गांव से करने के बाद जोबनेर कृषि विद्यालय से 1973 में सीनियर पास की। उसके बाद रेनवाल को अपनी कर्मभूमि बनाते हुये 1985 से 1998 तक रेनवाल ट्रासपोर्ट के अध्यक्ष बने। जाट समाज संस्थान के तहसील अध्यक्ष के रुप में 1991 से लगातार किसान वर्ग से जुडे रहे। राजस्थान खेल परिषद,जयपुर विद्युत वितरण निगम,मेडीकल रिलीफ सोसायटी जयपुर, रेनवाल के सरकारी हास्पिटल एवं राजकीय सी सै हाई स्कुल सहित विभिन्न सामाजिक संस्थानो में सदस्य एवं पदाधिकारी के रुप में समाजसेवा कार्यो से जुडे रहे। इसी प्रकार लंबी राजनीतिक पारी के रुप में सन 2004 से 2010 तक जयपुर जिला कांग्रेस के सचिव, 2010 से 2018 तक रेनवाल ब्लाॅक कांग्रेस अध्यक्ष, 1998 से 2003 तक पूर्व विधायक स्व नानुराम ककरालिया के सहयोगी के रुप में, रेनवाल नगरपालिका एवं कृषि उपज मंडी में कांग्रेस का बोर्ड बनाकर अपनी कुशल राजनीतिज्ञ एवं रणनीतिकार के रुप में पहचान बनाई। पिछले वर्ष कोरोनाकाल में हुये आकस्मिक निधन से जहाॅ परिजनो को गहरा आघात लगा, वहीं शुभचिंतको में भी शोक की लहर छा गई थी।

No comments:

Post a Comment

जेकेके में महाकाव्य महाभारत पर आधारित नाटक 'उरूभंगम' का हुआ मंचन

जयपुर।  जवाहर कला केंद्र (जेकेके) के  रंगायन  में पाक्षिक नाट्य योजना के तहत रंग साधना थिएटर ग्रुप, जयपुर द्वारा शनिवार शाम को नाटक 'उरू...