Wednesday, May 18, 2022

अजय पीरामल को ब्रिटेन की महारानी ने प्रदान किया मानद ब्रिटिश पुरस्कार

पीरामल ग्रुप के चेयरमैन अजय गोपीकिषन पीरामल को ब्रिटेन की महारानी ने मानद कमांडर ऑफ द ऑर्डर ऑफ द ब्रिटिश एम्पायर (सीबीई) से सम्मानित किया है। उन्हें यूके-इंडिया सीईओ फोरम के भारत को-चेयर के रूप में यूके-भारत व्यापार संबंधों की दिषा में प्रदान की गई सेवाओं के लिए यह सम्मान मिला है।

श्री पीरामल यूके-भारत संबंधों को आगे बढ़ाने के प्रबल समर्थक हैं। उन्होंने यूके के लाइफ साइंस इकोसिस्टम में अपने निवेश के माध्यम से और दोनों देशों के लोगों के बीच संबंधों को और मजबूत बनाने के लिए अथक परिश्रम किया है। यूके-इंडिया सीईओ फोरम के को-चेयर के रूप में उन्होंने 2019 में लंदन में संयुक्त आर्थिक और व्यापार समिति (जेईटीसीओ) की बैठक, 2018 में राष्ट्रमंडल शासनाध्यक्षों की बैठक और 2016 में यूके के प्रधान मंत्री की भारत यात्रा में योगदान दिया है। श्री पीरामल ने लेबर मोबिलिटी पर नीति को अंतिम रूप देने, यूके में भारतीय निवेश के लिए एक फास्ट-ट्रैक मैकेनिज्म कायम करने और भारत में कॉर्पाेरेट टैक्स से संबंधित मुद्दों पर भी मदद की है।

इस सम्मान पर टिप्पणी करते हुए, पीरामल ग्रुप के चेयरमैन अजय पीरामल ने कहा, ‘‘महामहिम द क्वीन से यह मानद पुरस्कार प्राप्त करते हुए मैं खुद को सम्मानित महसूस कर रहा हूं। 2016 से भारत-यूके सीईओ फोरम के को-चेयर के रूप में हमारी कोषिष रही है कि अधिक से अधिक आर्थिक सहयोग के माध्यम से दोनों देशों के बीच मजबूत द्विपक्षीय संबंधों को और बेहतर बनाया जा सके। मुझे यकीन है कि यह मान्यता दोनों देशों के बीच व्यापार, कारोबार और उद्योग साझेदारी के विकास को प्रोत्साहित करेगी और आने वाले वर्षों में इसे और अधिक ऊंचाइयों पर ले जाएगी।’’

दक्षिण एशिया के लिए टेªड कमिष्नर और पश्चिमी भारत के ब्रिटिश उप उच्चायुक्त एलन जेमेल ने कहा, ‘‘मुझे खुशी है कि महारानी ने अपने जयंती वर्ष में यूके-इंडिया रिलेशनशिप में अजय पीरामल द्वारा निभाई गई अग्रणी भूमिका को मान्यता देते हुए उन्हें कमांडर ऑफ द ऑर्डर ऑफ द ब्रिटिश एम्पायर (सीबीई) से सम्मानित किया है। मैंने इस साल की शुरुआत में एडिनबर्ग के पास पीरामल फार्मा सॉल्यूशन की विश्व-अग्रणी एंटीबॉडी-ड्रग कॉन्जुगेट (एडीसी) निर्माण सुविधा का दौरा किया, ताकि सुविधा का विस्तार करने और लगभग 50 नए उच्च कुशल रोजगार सृजित करने के लिए उनके निवेश को देखा जा सके। इतने वर्षों में अजय के विशाल योगदान को इस तरह से चिह्नित करते हुए देखना सम्मान की बात है।’’

संपादकों के लिए नोट

श्री पीरामल ने पीरामल ग्रुप का नेतृत्व किया है, जिसने कंपनी को फार्मास्यूटिकल्स, वित्तीय सेवाओं और रियल एस्टेट में विविध हितों के साथ10 बिलियन पाउंड के वैश्विक व्यापार समूह में बदल दिया है। समूह का 30 से अधिक देशों में संचालन है, जो भारत के बाहर 37 प्रतिषत राजस्व उत्पन्न करता है। श्री पीरामल ‘डुइंग वेल एंड डुइंग गुड’ की जिम्मेदार उद्यमिता में विश्वास करते हैं, एक ऐसा दर्शन जिसने समूह के हितधारकों और समग्र रूप से समुदाय के लिए दीर्घकालिक मूल्य बनाया है।

द कमांडर ऑफ द ऑर्डर ऑफ द ब्रिटिश एम्पायर (सीबीई) सम्मान राष्ट्रीय स्तर पर प्रमुख भूमिका निभाने के लिए प्रदान किया जाता है।

No comments:

Post a Comment

जेईसीआरसी इनक्यूबेशन सेंटर ने किया वेंचर कैटेलिस्ट के साथ एमओयू साइन

स्टार्टअप कॉन्क्लेव इवेंट का हुआ आयोजन ,40+ स्टार्टअप ने लिया हिस्सा जयपुर। जेआईसी, जेईसीआरसी ने स्टार्टअपस और उभरते एंटरप्रेन्योरस के एक्सप...