Thursday, May 5, 2022

स्कूलनेट राजस्थान सरकार के सहायक के रूप में 6,500 स्कूलों में जीनियो और ‘रीडटूमी’ प्रदान करेंगे

राजस्थान, 05 अप्रैल 2022: आज स्कूलनेट, जो स्कूलों को प्रौद्योगिकी आधारित शिक्षा सेवाएं प्रदान करने वाली एक अनूठी और अग्रणी एडटेक कंपनी है, ने राजस्थान सरकार के साथ मिलकर राजस्थान के सभी 33 जिलों में 6,500 सरकारी स्कूलों में जीनियो और रीडटुमी® के साथ शिक्षक प्रशिक्षण सेवाएं प्रदान करने की घोषणा की है। गूगल फॉर एजुकेशन की सहायता से इसके तहत राज्य भर के दस लाख से अधिक विद्यार्थी डिजिटल लर्निंग टेक्नोलॉजी के साथ पढ़ पाएंगे. इसके लिए शिक्षकों को डिजिटल शिक्षण में प्रशिक्षित भी किया जाएगा। जीनीओ एक किफ़ायती ऑनलाइन लर्निंग प्लेटफॉर्म हे जो विद्यार्थियों के लिए स्कूल के साथ और स्कूल के बाद की पढ़ाई में मदद करता हैं। यह स्कूल की पाठ्यपुस्तक के डिजिटल संस्करण का उपयोग करता है जिसके साथ अन्य प्रकार के शिक्षण संसाधनों भी उपलब्ध कराता है। यही कारण है कि जीनियो पढ़ाई को अधिक रुचिकर बना कर नवाचार को भी बढ़ावा देता है। ReadToMe® एक एआई-पावर्ड तकनीक है, जो टेक्स्ट-टू-स्पीच फ़ंक्शन का उपयोग करके अंग्रेजी में निर्धारित पाठ्यक्रम के बहु-संवेदी पठन को सक्षम बनाता है।

शिक्षा विभाग के साथ MOU पर डॉ. रश्मि शर्मा ( आईएएस, एसपीडी ), श्रीमती शीलावती मीना ( ए.एस.पी.डी. ) और उप आयुक्त, श्री मुकेश कुमार मुण्ड की उपस्थिति में हस्ताक्षर किए गए। उनके साथ श्री लोकेश बजाज, उपाध्यक्ष, स्कूलनेट और श्री दीपक सिंह, एसोसिएट उपाध्यक्ष, स्कूलनेट भी थे।
इसके द्वारा स्कूलनेट और राजस्थान सरकार का लक्ष्य समाज के विभिन्न वर्गों के विद्यार्थियों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षण समाधान प्रदान करना है।
भागीदारी पर टिप्पणी देते हुए, श्री आर.सी.एम. रेड्डी, एमडी एंड सीईओ, स्कूलनेट इंडिया लिमिटेड ने कहा "हम देश भर के विद्यार्थियों को प्रौद्योगिकी आधारित शिक्षण प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध हैं। राजस्थान सरकार के साथ साझीदारी उस दिशा में एक कदम है। हमें उम्मीद है कि इसके साथ हम विद्यार्थियों को दी गई शिक्षा की गुणवत्ता को बढ़ाने और राज्य के स्कूलों में डिजिटल रूपांतरण का अभियान शुरू कर सकेंगे।
उनके विचारों से सहमत होते हुए उपायुक्त ( आर ए एस ) आर.ई.आई., एस.एम.एस.ए., ने कहा, एस.एम.एस.ए. स्कूलनेट और राजस्थान सरकार के बीच MOU से उन्हें बहुत उम्मीदें हैं। इसके प्रयोग से लगभग 6500 स्कूलों और 10 लाख विद्यार्थियों को लाभ होगा। हमें उम्मीद है कि यह MOU विद्यार्थियों के लिए शिक्षा की गुणवत्ता बढ़ाने में सहायता करेगा, हमारी शुभकामनाएं। ”
इससे पहले स्कूलनेट राजस्थान ने सरकार के जनजातीय क्षेत्र विकास विभाग के साथ राज्य के 24 जिलों के विद्यार्थियों के लिए तकनीकी - संचालित शिक्षण कार्यक्रम कार्यान्वित किया है और 540 शिक्षकों को डिजिटल प्रशिक्षण की ट्रेनिंग दी हैं.
स्कूलनेट के बारे में
स्कूलनेट इंडिया लिमिटेड (www.schoolnetindia.com) यूएन एसडीजी 4.के आधारित स्कूली छात्रों और युवाओं के जीवन - कौशल को सुनिश्चित करने के लिए विभिन्न प्रकार की सेवाएं प्रदान करता है। एडटेक के क्षेत्र में अग्रणी संस्था के रूप में और 1997 से व्यावसायिक स्किलिंग सेवाओं के रूप में यह भारत के 400 जिलों में कार्यरत है और इसने शिक्षण और शिक्षा के लिए नवान्वेषी डिजिटल और डिजिटल आधारित समाधान विकसित किए हैं।
सरकार, निजी क्षेत्र, संस्थानों और अंतरराष्ट्रीय एजेंसियों के साथ अपनी बहु-हितधारक भागीदारी के माध्यम से स्कुलनेट 40,000 स्कूलों में 15 मिलियन विद्यार्थियों और शिक्षकों को अपनी सेवाओ से प्रभावित करता हैं.

No comments:

Post a Comment

बीते कल में आज की परछाई

बीते हुए कल में आज भी झांक कर देखता हूं तो बाबूजी की स्मृतियां और उनके साथ बीते अनेकों और अनगिनत पल आज भी मुझे अपने आस-पास घिरे जीवन से लड़ने...