Monday, May 16, 2022

क्लिक्स कैपिटल वित्तीय वर्ष 2023 के अंत तक लघु एवं मध्यम उद्यमों को देगी रु 1000 करोड़ के अनसिक्योर्ड लोन

16 मई, 2022ः भारत की अग्रणी डिजिटल-लेंडिंग एनबीएफसी क्लिक्स कैपिटल सर्विसेज़ लिमिटेड (क्लिक्स कैपिटल) ने लोन देने की प्रक्रिया को सुगम बनाने और वित्तीय समावेशन को बढ़ावा देने के उद्देश्य के साथ देश भर में लोन सेवाओं से वंचित छोटे उद्यमियों को रु 1000 करोड़ के अनसिक्योर्ड एमएसएमई लोन वितरित करने का लक्ष्य तय किया है। 

यह पेशकश दिल्ली, जयपुर, चण्डीगढ़, मुंबई, पुणे, अहमदाबाद, बैंगलोर, हैदराबाद और चेन्नई के लघु एवं मध्यम उद्यमों (एमएसएमई) के लिए उपलब्ध होगी। हाल ही में कंपनी ने जयपुर और अहमदाबाद में अपना संचालन फिर से शुरू किया है, इस वित्तीय वर्ष के अंत तक कंपनी ने पांच अन्य शहरों में अपने संचालन का विस्तार करने की योजनाएं बनाई हैं। 

‘‘देश भर में एमएसएमई के लिए कार्यशील पूंजी के लिए लोन लेना बड़ी चुनौती है, खासतौर पर महामारी की शुरूआत के बाद से मुश्किलें और भी बढ़ गई हैं। जहां एक ओर महामारी के चलते डिजिटल लेंडिंग को बढ़ावा मिला, वहीं दूसरी ओर देश के छोटे कारोबार आज भी औपचारिक डिजिटल सेवाआंे से वंचित हैं। क्लिक्स कैपिटल में हम इसी अंतर को दूर करने के लिए निरंतर प्रयासरत हैं। हमारे उपभोक्ताओं की कारोबार संबंधी ज़रूरतें चाहे कुछ भी हैं, चाहे उन्हें अपना कारोबार बढ़ाना हो या कार्यशील पूंजी की आवश्यकता हो, हम उनकी सभी ज़रूरतों को पूरा करते हैं। हमारे उपभोक्ताओं में निर्माताओं से लेकर रीटेलर, होलसेलर और यहां तक कि सेवा प्रदाता भी शामिल हैं, क्योंकि हम हर तरह के लघु एवं मध्यम उद्यमों (एमएसएमई) को अपनी सेवाएं प्रदान करते हैं। हम इन उद्यमों को महामारी के प्रभावों से उबरने में मदद करने के लिए प्रयास कर रहे हैं।’’ राकेश कौल, सीईओ- क्लिक्स कैपिटल ने कहा।

अपनी शुरूआत के बाद से कंपनी ने रु 15,000 करोड़ के वितरण का आंकड़ा पार कर लिया है। कंपनी ने यह भी बताया कि चालू वित्तीय वर्ष में रु 4000 करोड़ से अधिक वितरण का लक्ष्य तय किया है।

क्लिक्स कैपिटल छोटे एवं मध्यम आकार के उद्यमों को अनसिक्योर्ड लोन देने के लिए विशेष बिज़नेस लोन प्रोग्राम पेश करती है, जिसके तहत कारोबारों की ज़रूरत के अनुसार उन्हें रु 5 लाख से रु 50 लाख तक के लोन दिए जाते हैं। क्लिक्स दो प्रकार के अनसिक्योर्ड बिज़नेस लोन देती हैः बिज़नेस टर्म लोन और वर्किंग कैपिटल लोन। बिज़नेस टर्म लोन बड़े खर्चों जैसे कारोबार का विस्तार, उपकरण या मशीनरी की खरीद के लिए दिए जाते हैं। वहीं वर्किंग कैपिटल लोन कारोबार के रोज़मर्रा के संचालन को सुगम बनाने के लिए दिए जाते हैं। इन लोन सेवाओं के कुछ फीचर्स हैं- लोन की बड़ी राशि, कोलेटरल रहित लोन, लोन चुकाने के लिए प्रत्यास्थ विकल्प (12 से 36 महीने), और न्यूनतम दस्तावेजों के साथ जल्द से जल्द अनुमोदन।  


No comments:

Post a Comment

जेईसीआरसी इनक्यूबेशन सेंटर ने किया वेंचर कैटेलिस्ट के साथ एमओयू साइन

स्टार्टअप कॉन्क्लेव इवेंट का हुआ आयोजन ,40+ स्टार्टअप ने लिया हिस्सा जयपुर। जेआईसी, जेईसीआरसी ने स्टार्टअपस और उभरते एंटरप्रेन्योरस के एक्सप...