Friday, May 27, 2022

पिरामल एंटरप्राइजेज लिमिटेड ने चौथी तिमाही और वित्त वर्ष 2022 के समेकित परिणाम घोषित किए



मुंबई, भारत, 27 मई, 2022- पिरामल एंटरप्राइजेज लिमिटेड  ने 31 मार्च, 2022 को समाप्त वित्त वर्ष 22 की चौथी तिमाही  और वर्ष के समेकित परिणाम आज घोषित किए।

Consolidated Highlights

ओवरऑल परफॉर्मेंस

क्यू4 एफवाई22 रेवेन्यू ग्रोथ 22 प्रतिशत सालाना के हिसाब से 4,163 करोड़ रुपए पर, एफवाई22 में राजस्व 13,993 करोड़ पर।

क्यू4 एफवाई22 में 151 करोड़ रुपए का शुद्ध लाभ। एफवाई22 शुद्ध लाभ 1,999 करोड़ रुपए।

क्यू4 एफवाई22 में 822 करोड़ रुपए के अतिरिक्त प्रावधान में रिपोर्ट किए गए शुद्ध लाभ कारक और 215 करोड़ रुपए का इंटरेस्ट रिवर्सल (कुल 1,037 करोड़ रुपए)

लाभांश

- बोर्ड ने एजीएम में शेयरधारकों की मंजूरी के अधीन 33 रुपए प्रति शेयर के लाभांश की सिफारिश की है, कुल लाभांश भुगतान 788 करोड़ रुपए (39 प्रतिशत का लाभांश भुगतान अनुपात) होगा।

वित्तीय सेवाएं (एफएस)

- डीएचएफएल का अधिग्रहण वित्त वर्ष 2022 में पूरा हुआ, शाखाएं एकीकृत और फिर से सक्रिय

- क्यू4 एफवाई22 में 1,480 का रिटेल लोन डिस्बर्समेंट 100 प्रतिशत क्यूओक्यू।

- जीएनपीए में सालाना आधार पर 70 बीपीएस से 3.4 प्रतिशत और एनएनपीए में 50 बीपीएस 1.6 प्रतिशत की गिरावट

- चरण -2 में होलसेल नॉन-आरई एसेट्स के लिए अतिरिक्त प्रावधान बनाए गए, एयूएम के 5.7 प्राितशत के बराबर समग्र प्रावधान

- अगले 5 वर्षों में, यानी वित्त वर्ष 2027 के अंत तक, हासिल करने की ख्वाहिश-

 2/3 खुदरा और 1/3 थोक का रिटेल होलसेल मिक्स

 एफएस लेंडिंग बिजनेस को दोगुना करें

 खुदरा संवितरण वृद्धि 40-50 प्रतिशत (5-वर्ष सीएजीआर)

फार्मा व्यवसाय

- अप्रैल 2022 में यापन बायो में अतिरिक्त हिस्सेदारी का अधिग्रहण किया, कुल हिस्सेदारी 33 फीसदी तक और बायोलॉजिक्स स्पेस में हमारी सेवाओं का विस्तार किया।

- 23 मिलियन डॉलर के विस्तार के बाद ऑरोरा प्लांट ने परिचालन शुरू किया

- मई 2022 में पीथमपुर में ओरल सॉलिड डोसेज फॉर्म के लिए नया प्रोडक्शन ब्लॉक लॉन्च किया गया

- ग्रेंजमाउथ और मोरपेथ में एंटीबॉडी ड्रग कॉन्जुगेट्स और एपीआई के लिए 74 मिलियन डॉलर के विस्तार की घोषणा की

- डेवलपमेंट ऑर्डर बुक में अच्छी वृद्धि दर्ज की गई

- यूएस में प्रमुख जीपीओ के साथ कई अनुबंध एक्सटेंशन निष्पादित

- वित्त वर्ष 2012 में भारत के उपभोक्ता हेल्थकेयर व्यवसाय में 40 नए उत्पाद लॉन्च किए गए

- एफवाई22 राजस्व में लिटल ने 100 करोड़ रुपए का आंकड़ा पार किया और टेटमोसोल 50 करोड़ के पार

पिरामल एंटरप्राइजेज लिमिटेड के चेयरमैन श्री अजय पिरामल कहते हैं, ‘‘हमने महामारी और प्रतिकूल आर्थिक स्थितियों के बावजूद चौथी तिमाही और वित्त वर्ष 22 में वित्तीय सेवाओं और फार्मास्यूटिकल्स के क्षेत्र में एक लचीला प्रदर्शन दिया है। वित्तीय सेवाओं में, हमने डीएचएफएल के साथ एकीकरण पूरा किया और वित्त वर्ष 22 की चौथी तिमाही में खुदरा ऋण संवितरण में तिमाही आधार पर 100 प्रतिशत वृद्धि हासिल की। हमने लगभग सभी शाखाओं को फिर से सक्रिय कर दिया है और न केवल डीएचएफएल के 3,000 से अधिक कर्मचारियों को बनाए रखा है, बल्कि पूरे भारत में विलय की गई इकाई में 3,000 से अधिक नई नौकरियां भी पैदा की हैं। हम टेलेंट और टैक्नोलॉजी में अपेक्षित निवेश करना जारी रखेंगे, ताकि भारत के बाजार में छिपे व्यावसायिक अवसरों का लाभ उठाने की हमारी क्षमता को मजबूत किया जा सके। डीएचएफएल के अधिग्रहण के बाद, अब हम अगले 5 वर्षों में अपने एयूएम को दोगुना करने के लिए अपने बड़े रिटेल लेंडिंग प्लेटफॉर्म का लाभ उठाएंगे, जिससे रिटेल के हमारे मिक्स में काफी सुधार होगा।

तिमाही के दौरान, हमने स्टेज 2 की परिसंपत्तियों के लिए अतिरिक्त प्रावधान करके अपनी बैलेंस शीट को और मजबूत किया। हम महामारी संबंधी जोखिमों के लिए मार्च 2020 में किए गए असाधारण प्रावधानों को भी बरकरार रखते हैं।

फार्मास्यूटिकल्स में, हम अपने सभी व्यवसायों में व्यवस्थित और इनऑर्गेनिक तरीके से निवेश कर रहे हैं। हमारे सभी प्रमुख व्यवसायों के पास अपने विकास के लिए एक बेहतर योजना है और चुनौतीपूर्ण और विपरीत स्थितियों के बावजूद अपनी संबंधित रणनीतिक प्राथमिकताओं के अनुरूप काम करना जारी रखा है। हम वित्त वर्ष 2013 की तीसरी तिमाही तक फार्मास्युटिकल व्यवसाय के डीमर्जर को पूरा करने के लिए मजबूती से ट्रैक पर आगे बढ़ रहे हैं और इसी क्रम में हम अपने हितधारकों के लिए महत्वपूर्ण मूल्य अनलॉक करते हैं।’’      

प्रमुख व्यवसाय हाईलाइट्स

वित्तीय सेवाएं

महत्वपूर्ण एयूएम वृद्धि और विविधीकरण

- मार्च-2022 तक एयूएम सालाना आधार पर 33 फीसदी बढ़कर 65,185 करोड़ रुपये हो गया।

- समग्र ऋण पुस्तिका में खुदरा की हिस्सेदारी मार्च-2021 में 12 प्रतिशत से बढ़कर मार्च-2022 में 36 फीसदी हो गई

- रिटेल लोन बुक सालाना 306 प्रतिशत बढ़कर 21,552 करोड़ रुपए हो गई।

- क्यू4 एफवाई22 में खुदरा ऋण संवितरण तिमाही आधार पर 100 प्रतिशत बढ़कर 1,480 करोड़ रुपए हो गया।

- वित्त वर्ष 2012 की चौथी तिमाही में 132,000 ग्राहकों को अपने साथ जोड़ा गया

- 125के डाउनलोड के साथ लॉन्च किया गया मोबाइल ऐप

- क्यू4 में डिस्बर्समेंट यील्ड्स में सुधार जारी रहा और क्यू4 में यह 12.5 प्रतिशत रहा, जबकि क्यू1 एफवाई21 में यह 11.3 फीसदी था

- क्यू3 एफवाई23 में 2,500-3,500 करोड़ रुपए का डिस्बर्समेंट मार्गदर्शन प्राप्त करने के लिए ऑन-ट्रैक (अर्थात पूर्व-विलय स्तरों का 5-7 गुना)

होलसेल पोर्टफोलियो की बढ़ती ग्रैन्युलैरिटी

- नेट वर्थ के 10 प्रतिशत से ज्यादा कोई एक्सपोजर नहीं, और रियल एस्टेट बुक का 90 प्रतिशत नेट वर्थ से 7 प्रतिशत कम है

- होलसेल लेंडिंग 2.0- छोटे ऋणों और नकदी प्रवाह-समर्थित उधार पर ध्यान देने के साथ कैलिब्रेटेड एप्रोच

हमारे ग्राहकों पर महामारी या वृहद अर्थव्यवस्था में हाल के उतार-चढ़ाव के किसी भी स्थायी प्रभाव का पता लगाने के लिए थोक पोर्टफोलियो का पुनर्मूल्यांकन किया।

- इस आकलन के आधार पर, हमने अपने कुछ गैर-रियल एस्टेट एक्सपोजर को स्टेज 2 में स्थानांतरित कर दिया है और इस प्रकार, हमने कुल 1,037 करोड़ रुपए का अतिरिक्त प्रावधान और ब्याज रिवर्सल किया है। (822 करोड़ रुपए का अतिरिक्त प्रावधान और 215 करोड़  रुपए के ब्याज रिवर्सल सहित।)

- ये ‘होल्डको’ स्ट्रक्चर के तहत किए गए हाई-यील्ड, स्ट्रक्चर्ड मेजेनाइन ऋण थे। हमने इस तरह के सौदे करना बंद कर दिया है।

 

तिमाही आधार पर जीएनपीए और एनएनपीए अनुपात स्थिर

- जीएनपीए अनुपात 3.4 प्रतिशत और एनएनपीए 1.6 प्रतिशत

- 3,735 करोड़ रुपए के कुल प्रावधान, हमारे एयूएम के 5.7 प्रतिशत के बराबर

मजबूत देयता प्रबंधन

- क्यू4 एफवाई22 में एवरेज कॉस्ट ऑफ बॉरोइंग सालाना आधार पर 180 बीपीएस गिरकर 9.1 प्रतिशत हो गई; 79 प्रतिशत बॉरोइंग निश्चित दर पर

21 प्रतिशत के पूंजी पर्याप्तता अनुपात और 2.7 गुना के शुद्ध डेट-टू-इक्विटी को देखते हुए मूल्य अभिवृद्धि अधिग्रहण के साथ-साथ ऑर्गेनिक ग्रोथ के लिए पर्याप्त पूंजी उपलब्ध है

 

फार्मा

- एफवाई 2022 के लिए राजस्व सालाना आधार पर 16 प्रतिशत बढ़कर 6,701 करोड़ रुपए हो गया

- इंडिया कंज्यूमर हेल्थकेयर रेवेन्यू में साल दर साल 48 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई

- कॉम्प्लेक्स हॉस्पिटल जेनरिक रेवेन्यू में साल-दर-साल 20 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई

- सीडीएमओ के राजस्व में सालाना आधार पर 10 प्रतिशत की वृद्धि हुई

- एफवाई 2022 के लिए 1,206 करोड़ रुपए का ईबीआईटीडीए वितरण, ईबीआईटीडीए मार्जिन 18 प्रतिशत पर

- विशिष्ट क्षमताओं आदि में निवेश/क्षमता विस्तार

 

सीडीएमओ

- बायोलॉजिक्स क्षेत्र में सेवाओं का विस्तार करने के लिए यापन बायो में अतिरिक्त हिस्सेदारी हासिल की, अब 33 फीसदी स्वामित्व

- ऑरोरा फेसिलिटी में 23 मिलियन डॉलर के एपीआई के विस्तार के बाद संचालन शुरू हुआ

- मई 2022 में पीथमपुर में ओरल सॉलिड डोसेज फॉर्म के लिए नया प्रोडक्शन ब्लॉक लॉन्च किया गया

- एंटीबॉडी ड्रग कॉन्जुगेट्स और एपीआईएटी ग्रेंजमाउथ और मोरपेथ फेसिलिटी के लिए 74 मिलियन डॉलर के विस्तार की घोषणा की

- रिवरव्यू में एचपीएपीआई सहित ड्रग सब्सटेंसेज के विस्तार की घोषणा

- डेवलपमेंट ऑर्डर बुक में अच्छी वृद्धि और एपीआई सेवाओं में मजबूत मांग

कॉम्प्लैक्स हॉस्पिटल जेनरिक

- कॉम्प्लैक्स हॉस्पिटल जेनरिक व्यवसाय में अमेरिका में प्रमुख जीपीओ के साथ कई अनुबंध एक्सटेंशन क्रियान्वित किए गए

- अमेरिका में इनहेल्ड एनेस्थीसिया की मजबूत बिक्री देखी जा रही है

- इंट्राथेकल पोर्टफोलियो ने यूएस में अपने नेतृत्व की स्थिति को कायम रखा

इंडिया कंज्यूमर हेल्थकेयर

- भारत के उपभोक्ता उत्पाद कारोबार में पावर ब्रांड्स में मजबूत प्रदर्शन

- एफवाई22 में 40 नए उत्पाद लॉन्च किए, अप्रैल-20 से लॉन्च किए गए नए उत्पाद बिक्री में 15 प्रतिशत का योगदान करते हैं

- एफवाई22 राजस्व में लिटल ने 100 करोड़ रुपए का आंकड़ा पार कर लिया। और टेटमोसोल 50 करोड़ रुपए को पार कर गया।

 

No comments:

Post a Comment

आईसीआईसीआई डायरेक्ट ने लॉन्च किया आईसीआईसीआई डायरेक्ट आई लर्न

मुंबई - 1 जुलाई, 2022- विभिन्न वित्तीय सेवाओं के लिए एक डिजिटल प्लेटफॉर्म आईसीआईसीआई डायरेक्ट का संचालन करने वाली कंपनी आईसीआईसीआई सिक्योरिट...