Tuesday, May 10, 2022

डीसीबी बैंक ने वित्त वर्ष 2022 के वित्तीय परिणाम घोषित किए

10 मई, 2022, मुंबईः डीसीबी बैंक लिमिटेड (बीसईः 532772, एनएसईः डीसीबी) के निदेशक मंडल ने 07 मई, 2022 को मुंबई में अपनी बैठक में चौथी तिमाही (क्यू 4 एफवाई 2022) और 31 मार्च, 2022 को समाप्त वर्ष (एफवाई 2022) के लेखा परीक्षित वित्तीय परिणामों को दर्ज किया।

 

हाईलाइट्स

 

1- प्रॉफिट आफ्टर टैक्स

क्यू4 एफवाई 2022 के लिए बैंक का कर पश्चात लाभ (पीएटी) 113 करोड़ रुपये था, जबकि वित्त वर्ष 2021 की चौथी तिमाही में कर पश्चात लाभ 78 करोड़ रुपये था, 46 प्रतिशत की वृद्धि।

पीएटी वित्त वर्ष 2021 में 336 करोड़ रुपए के मुकाबले वित्त वर्ष 2022 में 288 करोड़ रुपये।

2- ऑपरेटिंग प्रॉफिट

क्यू4 एफवाई 2022 के लिए परिचालन लाभ 221 करोड़ रुपये, क्यू4 वित्त वर्ष 2021 के 201 करोड़ रुपये के मुकाबले।

वित्तीय वर्ष 2022 के लिए परिचालन लाभ 797 करोड़ रुपये था, जबकि पिछले वर्ष की इसी अवधि के लिए यह राशि थी 886 करोड़ रुपये। अनुकूल ब्याज दर में उतार-चढ़ाव के कारण वित्त वर्ष 2021 में एकमुश्त बहुत अधिक ट्रेजरी आय का लाभ हुआ।

3- नेट इंट्रेस्ट इनकम

क्यू4 एफवाई 2022 के लिए बैंक ने 380 करोड़ रुपये की शुद्ध ब्याज आय अर्जित की, जबकि क्यू4 एफवाई 2021 में यह राशि थी 311 करोड़ रुपये।

वित्त वर्ष 2022 में शुद्ध ब्याज आय 1,358 करोड़ रुपये थी, 1,287 करोड़ रुपये के मुकाबले।

क्यू4 एफवाई 2022 में शुद्ध ब्याज मार्जिन (एनआईएम) 3.93 प्रतिशत था, जबकि क्यू4 एफवाई 2021 में 3.46 प्रतिशत था।

वित्त वर्ष 2022 में एनआईएम 3.56 प्रतिशत था जबकि वित्त वर्ष 2021 में 3.59 प्रतिशत था।

4- गैर-ब्याज आय

वित्त वर्ष 2022 में, गैर-ब्याज आय (शुल्क) 452 करोड़ रुपये थी, इसी अवधि के 446 करोड़ रुपये के मुकाबले। जैसा कि ऊपर उल्लेख किया गया है, अनुकूल ब्याज दर के कारण वित्त वर्ष 2021 में बहुत अधिक एकमुश्त ट्रेजरी आय का लाभ अर्जित किया गया।

5- लागत आय अनुपात

वित्त वर्ष 2021 में 48.87 प्रतिशत की तुलना में वित्त वर्ष 2022 के लिए लागत आय अनुपात (सीआई) 55.96 फीसदी रहा। हालांकि कोविड-19 महामारी के कारण चुने हुए स्व-रोजगार खंड में व्यवसाय के अवसर कम हो रहे हैं, लेकिन बैंक आने वाले महीनों में फ्रंटलाइन हेडकाउंट/स्टेप-अप ग्रोथ की क्षमता में अपनी वृद्धि जारी रखने में कामयाब रहा है।

चूंकि बैंक मुख्य रूप से स्मॉल टिकट सिक्योर्ड और एसएमई/एमएसएमई व्यवसाय में है, हेडकाउंट/क्षमता वृद्धि से शुरू में सीआई अनुपात प्रभावित हुआ है। यदि व्यवसाय की मात्रा योजना के अनुसार बढ़ती है, तो समय के साथ सीआई अनुपात में गिरावट आने की उम्मीद है।

6- रिटर्न ऑन इक्विटी

क्यू4 एफवाई 2022 में रिटर्न ऑन इक्विटी (आरओई) (वार्षिक) 12.12 प्रतिशत था, जबकि क्यू4 एफवाई 2021 में 8.96 प्रतिशत था।

वित्त वर्ष 2021 में 9.99 प्रतिशत की तुलना में वित्त वर्ष 2022 में आरओई 7.92 प्रतिशत था।

7- लाभांश

निदेशक मंडल ने आगामी वार्षिक आम बैठक में सदस्यों के अनुमोदन के अधीन 31 मार्च, 2022 को समाप्त वर्ष के लिए 10 प्रतिशत की दर से 1 रुपये प्रति शेयर के लाभांश की सिफारिश की है।

8- पूंजी पर्याप्तता

पूंजी पर्याप्तता मजबूत बनी हुई है और 31 मार्च, 2022 तक, पूंजी पर्याप्तता अनुपात 18.92 प्रतिशत (टियर वन के साथ 15.84 प्रतिशत और टियर टू के साथ 3.08 प्रतिशत बेसल थ्री मानदंडों के अनुसार) था।

9- जमा

बैंक लगातार रिटेल टर्म डिपॉजिट (2 करोड़ रुपये से कम) बढ़ा रहा है और बल्क डिपॉजिट्स को कम कर रहा है। 31 मार्च, 2022 तक, शीर्ष 20 जमा अनुपात 6.31 प्रतिशत था।

वित्त वर्ष 2022 में, बैंक ने पिछले वर्ष की तुलना में 37 प्रतिशत की सीएएसए वृद्धि हासिल की।

31 मार्च, 2022 को कासा अनुपात 26.75 प्रतिशत था, जबकि 31 मार्च, 2021 को यह 22.85 प्रतिशत था।

10- अग्रिम

बैंक का मुख्य लक्षित बाजार एमएसएमई/एसएमई खंड है। उत्पादों के संदर्भ में, बैंक गृह ऋण, व्यवसाय ऋण (एलएपी), स्वर्ण ऋण, एमएसएमई/एसएमई (सीसी/ओडी/टर्म), केसीसी (किसान क्रेडिट कार्ड), ट्रैक्टर ऋण, एमएफआई और एमएफआई-बीसी लोन को बढ़ाने पर केंद्रित है। वित्त वर्ष 2022 में बैंक ने को-लेंडिंग पार्टनरशिप के माध्यम से टीआरईडीएस प्लेटफॉर्म में और गोल्ड लोन देना भी शुरू किया।

कॉरपोरेट सेगमेंट में, बैंक सावधानी से अल्पकालिक ऋणों को लक्षित करना जारी रखता है।

31 मार्च, 2022 तक, शुद्ध अग्रिम 29,096 करोड़ रुपये पर, पिछले वर्ष की तुलना में 13 प्रतिशत की वृद्धि।

क्यू4 एफवाई 2022 में, बैंक ने 5,043 करोडऋ रुपये का वितरण किया। (मॉर्गेज 1,115 करोड़, स्वर्ण ऋण 309 करोड़, कृषि और समावेशी बैंकिंग 782 करोड़, एमएसएमई/एसएमई 112 करोड़, निर्माण वित्त 244 करोड़, वाणिज्यिक वाहन 24 करोड़, कॉर्पाेरेट बैंकिंग 503 करोड़, को-लेंडिंग 1,954 करोड़ रुपये)।

11- पुनर्वित्त

31 मार्च, 2022 तक बैंक पुनर्वित्त (नाबार्ड, एनएचबी और सिडबी) 3,477 करोड़ रुपये पर था। अग्रिमों की प्रकृति को देखते हुए, बैंक का पोर्टफोलियो समय-समय पर सिडबी, नाबार्ड और एनएचबी से दीर्घकालिक पुनर्वित्त विकल्प प्राप्त करने के लिए पात्र है।

12- लिक्विडिटी

क्यू4 एफवाई 2022 के लिए औसत एलसीआर 125.33 प्रतिशत था।

पारंपरिक तौर पर, बैंक ने हमेशा की तरह व्यवसाय की तुलना में उच्च स्तर पर दैनिक लिक्विडिटी बनाए रखी थी। हालांकि, जैसे-जैसे स्थिति में सुधार हो रहा है, बैंक धीरे-धीरे अतिरिक्त लिक्विडिटी को नियंत्रित कर रहा है।

13- लागत

(ए) फ्रंटलाइन हेडकाउंट में वृद्धि (बी) वेतन वृद्धि (सी) नई शाखा में वृद्धि (डी) टैक्नोलॉजी में निवेश के कारण लागत बढ़ रही है। इसके परिणामस्वरूप लागत/आय अनुपात में निकट अवधि में वृद्धि हो सकती है। व्यापार की मात्रा में वृद्धि के साथ लागत/आय अनुपात और लागत से औसत संपत्ति दोनों में समय के साथ लगातार गिरावट की उम्मीद है।

14- प्रावधान

31 मार्च, 2022 तक, बैंक के पास निम्नलिखित प्रावधान हैं-

 

Item

INR Cr.

Provision for Gross NPA

595

Floating Provision

122

a. Sub Total

717

Specific Standard Assets Provision

29

Contingency Provision on Restructured and Stressed Assets

70

Restructured Standard Assets

287

b. Sub Total

386

Standard Assets Provisions (as required by RBI guidelines)

94

c. Sub Total

94

Total – a + b + c

1,197

 

 

15- ऐसेट क्वालिटी

31 मार्च, 2022 को सकल एनपीए 4.32 प्रतिशत था, जबकि 31 दिसंबर, 2021 में यह 4.78 फीसदी था।

31 मार्च, 2022 को नेट एनपीए 1.97 प्रतिशत था, जबकि 31 दिसंबर,2021 में यह 2.55 फीसदी था।

जैसा कि बैंक के पास ज्यादातर सुरक्षित पोर्टफोलियो है, जैसे-जैसे माहौल में सुधार होता है, बैंक का रिकवरी और अपग्रेड्स में मजबूत प्रदर्शन जारी है।

क्यू4 एफवाई 2022 में एनपीए चूक 378 करोड़ रुपए थी, रिकवरी और अपग्रेड्स 426 करोड़ रुपये या 113 प्रतिशत थे। गोल्ड लोन को छोड़कर महीने-दर-महीने स्लिपेज में लगातार गिरावट आई है और यह लगभग पूर्व-कोविड -19 स्तरों पर वापस आ गया है। हम संग्रह, वसूली और उन्नयन में सुधार करना जारी रखते हैं।

31 मार्च, 2022 को प्रावधान कवरेज अनुपात (पीसीआर) 67.84 प्रतिशत पर था और गोल्ड लोन एनपीए पर विचार किए बिना पीसीआर 72.49 प्रतिशत था।

 

16- संग्रह क्षमता (प्रतिशत)

 

 

 

Jan 2020

Mar 2021

Apr 2021

Jul 2021

Sep 2021

Dec 2021

Jan 2022

Feb 2022

Mar 2022

Business Loans (LAP)

 

98.9

 

97.0

 

94.3

 

97.3

 

97.2

 

96.0

 

97.2

 

96.9

 

97.7

 

Home Loans

 

99.2

 

98.1

 

96.3

 

98.8

 

98.8

 

98.7

 

98.9

 

98.5

 

99.0

 

CV Loans

 

96.0

 

90.0

 

82.5

 

85.0

 

84.6

 

85.2

 

84.8

 

83.0

 

85.1

 

 

The Collections Efficiency Overall (including delinquent and restructured)

 

 

Jan 2020

Mar 2021

Apr 2021

Jul 2021

Sep 2021

Dec 2021

Jan 2022

Feb 2022

Mar 2022

Business Loans (LAP)

 

97.5

 

95.2

 

91.5

 

93.2

 

95.8

 

94.8

 

95.7

 

95.2

 

96.7

Home Loans

98.5

96.8

94.5

96.5

98.1

98.2

98.2

97.7

98.5

CV Loans

92.1

86.0

76.7

77.9

80.8

84.6

84.2

82.0

85.2

 

संग्रह क्षमता

व्यवसाय ऋण (एलएपी)- जिन ग्राहकों (दोषी और पुनर्गठित सहित) ने 1 अप्रैल, 2020 से 31 मार्च, 2022 तक किसी भी किस्त का भुगतान नहीं किया है, उनकी दर 0.59 प्रतिशत थी।

01 अप्रैल, 2020 से 31 मार्च, 2022 तक 3 ईएमआई या उससे अधिक का भुगतान करने वाले पोर्टफोलियो का प्रतिशत 98.5 प्रतिशत था।

होम लोन- जिन ग्राहकों (दोषी और पुनर्गठित सहित) ने 1 अप्रैल, 2020 से 31 मार्च, 2022 तक किसी भी किस्त का भुगतान नहीं किया है, वे 1.53 प्रतिशत थे।

01 अप्रैल, 2020 से 31 मार्च, 2022 तक 3 ईएमआई या उससे अधिक का भुगतान करने वाले पोर्टफोलियो का प्रतिशत 94.6 प्रतिशत था।

वाणिज्यिक वाहन- जिन ग्राहकों (दोषी और पुनर्गठित सहित) ने 1 अप्रैल, 2020 से 31 मार्च, 2022 तक किसी भी किस्त का भुगतान नहीं किया है, उनकी संख्या 2.83 प्रतिशत थी।

01 अप्रैल, 2020 से 31 मार्च, 2022 तक 3 ईएमआई या उससे अधिक का भुगतान करने वाले पोर्टफोलियो का प्रतिशत 95.4 प्रतिशत था।

17- क्रेडिट लागत

संग्रह, वसूली और अपग्रेड्स पर लगातार ध्यान केंद्रित करते हुए बैंक पारंपरिक आधार पर प्रावधान करने की संभावना रखता है।

18- ईसीएलजीएस

ईसीएलजीएस के तहत बैंक ने अब तक 1,285 करोड़ रुपये का वितरण किया है। (15,002 ग्राहक)।

19- पुनर्गठन

कोविड -19 की पहली लहर के विपरीत, दूसरी लहर की अप्रत्याशित गंभीरता ने अधिक ग्राहकों को पुनर्गठन की तलाश करने के लिए प्रेरित किया क्योंकि उनका व्यवसाय/आजीविका प्रभावित हुई थी।

बैंक ने ग्राहकों से मिले पुनर्गठन संबंधी अनुरोध के लिए सतर्क रुख अपनाया था। 31 मार्च, 2022 तक, कोविड -19 राहत सहित शुद्ध पुनर्गठित मानक अग्रिम 1,869 करोड़ रुपये थे। ज्यादातर मॉर्गेज, वाणिज्यिक वाहन और एसएमई/एमएसएमई द्वारा योगदान दिया।

20- शाखा नेटवर्क

31 मार्च, 2022 तक बैंक का शाखा नेटवर्क 400 था। बैंक का इरादा अगले 12-15 महीनों में 25-35 शाखाएँ जोड़ने का है। शाखा विस्तार की गति अन्य बातों के साथ-साथ व्यावसायिक अवसरों और प्रदर्शन पर निर्भर करेगी।

21- कार्यबल

31 मार्च, 2022 को बैंक के कर्मचारियों की संख्या 8,077 थी (31 मार्च, 2021 को 6,432 और 31 मार्च, 2020 को 6,845)। विकास के लिए क्षमता निर्माण करने के लिहाज से बैंक की अपनी अग्रिम पंक्ति के कर्मचारियों की संख्या में वृद्धि जारी रखने की योजना है।

22- डिजिटल एजेंडा को तेज करना

बैंक ने रणनीतिक लागत प्रबंधन के हिस्से के रूप में ग्राहक यात्रा/सेवा की गुणवत्ता में व्यापक सुधार लाने और लागत को कम करने के इरादे से डिजिटल एजेंडा में तेजी लाने की शुरुआत की है। बैंक ने 852 डिजिटल परियोजनाओं (105 - बड़ी, 465 - मध्यम और 282 - छोटी) की पहचान की है, जिनमें से 275 परियोजनाएं पहले ही पूरी हो चुकी हैं।

वित्त वर्ष 2022 के परिणामों पर टिप्पणी करते हुए मैनेजिंग डायरेक्टर श्री मुरली एम. नटराजन ने कहा, ‘‘मासिक एनपीए स्लिपेज में लगातार गिरावट आ रही है, जबकि रिकवरी और अपग्रेड मजबूत बने हुए हैं। व्यापार की मात्रा बढ़ रही है, और हमारा इरादा बढ़ी हुई फ्रंटलाइन क्षमता का उपयोग करते हुए और गति प्राप्त करना है। तिमाही के दौरान बैंक ने 400 शाखाओं की एक महत्वपूर्ण उपलब्धि हासिल की।’’

 

Key Balance Sheet Parameters

 

INR Cr.

Mar 31,

2022

Dec 31,

2021

Sep 30,

2021

Jun 30,

2021

Mar 31,

2021

Total Assets

44,840

41,178

41,475

40,308

39,602

Deposits

34,692

32,231

31,769

30,602

29,704

Net Advances

29,096

27,343

26,537

25,290

25,737

Investments

9,098

8,583

8,626

9,107

8,414

Shareholders’ Equity

4,049

3,934

3,858

3,793

3,759

Gross NPA Ratio

4.32%

4.78%

4.73%

4.91%

4.13%

Net NPA Ratio

1.97%

2.55%

2.66%

2.84%

2.31%

Coverage Ratio

67.84%

62.17%

60.46%

59.42%

62.35%

CASA Ratio

26.75%

25.94%

25.38%

21.69%

22.85%

Credit Deposit Ratio

83.87%

84.84%

83.53%

82.64%

86.65%

 

 

DCB Bank Audited Results for the Quarter ended March 31, 2022

 

INR Cr.

FY 2021-22

Q4 FY 2021-22

Q3 FY 2021-22

Q2 FY 2021-22

Q1 FY 2021-22

FY 2020-21

Interest Income

3,513

920

878

869

846

3,458

Interest Expense

(2,155)

(540)

(533)

(546)

(537)

(2,171)

Net Interest Income

1,358

380

345

323

309

1,287

Non-Interest Income

452

115

118

98

121

446

Total Income

1,810

495

463

421

430

1,733

Operating Expenses

(1,013)

(274)

(264)

(246)

(228)

(847)

Operating Profit

797

221

199

175

202

886

Provisions other than Tax

(407)

(68)

(97)

(86)

(156)

(433)

Net Profit Before Tax

390

153

102

89

46

453

Tax

(102)

(40)

(27)

(24)

(12)

(117)

Net Profit After Tax

288

113

75

65

34

336

 

डीसीबी बैंक के बारे में- डीसीबी बैंक लिमिटेड, निजी क्षेत्र में एक  नई पीढ़ी का बैंक है, जिसकी 18 राज्यों और 2 केंद्रशासित प्रदेशों में 400 शाखाएं हैं। यह भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा विनियमित एक अनुसूचित वाणिज्यिक बैंक है। बैंक का प्रबंधन और संचालन बहुत पेशेवर है। व्यक्तिगत इंटरनेट बैंकिंग के साथ-साथ बिजनेस बैंकिंग ग्राहकों के लिए बैंक नए दौर की प्रौद्योगिकी और बुनियादी ढांचे से लैस है, साथ ही साथ डीसीबी बैंक के पास अत्याधुनिक रूप से भारत का पहला आधार नंबर और बॉयोमीट्रिक फिंगरप्रिंट आधारित एटीएम है।

बैंक के व्यापार क्षेत्रों में रिटेल, माइक्रो-एसएमई, एसएमई, मिड-कॉर्पोरेट, माइक्रोफाइनेंस इंस्टीट्यूशंस (एमएफआई), एग्रीकल्चर, कमोडिटी, सरकार, सार्वजनिक क्षेत्र, भारतीय बैंक, सहकारी बैंक और गैर बैंकिंग वित्त कंपनियां (एनबीएफसी)शामिल हैं। डीसीबी बैंक में 10,00,000 से अधिक सक्रिय ग्राहक हैं। निवेशकों के लिए अलग से प्रजेंटेशन उपलब्ध है, कृपया विजिट करें- www.dcbbank.com

सेफ हार्बर - यहां दिए गए कुछ बयान फॉरवर्ड लुकिंग स्टेटमेंट हैं। ये कथन वर्तमान में हमारे पास उपलब्ध जानकारी पर आधारित हैं। कुछ जोखिम और अनिश्चिितताओं के कारण वास्तविक परिणाम अलग हो सकते हैं। बदलती हुई स्थितियों में हम इन बयानों को अपडेट करने की कोई जिम्मेदारी नहीं लेते हैं।

No comments:

Post a Comment

“वाविन-वेक्टस” की संयुक्तरूप से प्रथम चैनल पार्टनर मीट जश्न के साथ संपन्न हुई

जयपुर। बिल्डिंग और इंफ्रास्ट्रक्चर इंडस्ट्री के ग्लोबल लीडर वाविन ने वॉटर स्टोरेज टैंक्स और पाइपिंग सिस्टम के क्षेत्र में देश की बहुप्रतिष्ठ...