Friday, April 8, 2022

इस विश्व स्वास्थ्य दिवस अपने परिवार के स्वास्थ्य को सुरक्षित बनाएं केयर हेल्थ इंश्योरेन्स के साथ

नेशनल, 8 अप्रैल, 2022ः इस विश्व स्वास्थ्य दिवस के मौके पर भारत के अग्रणी और विशेषज्ञ स्वास्थ्य बीमा सेवा प्रदाता केयर हेल्थ इंश्योरेन्स ने सभी के लिए व्यापक फैमिली हेल्थ कवर खरीदने की आवश्यकता पर ज़ोर दिया है।

हर साल स्वास्थ्य और इससे जुड़े पहलुओं के बारे में जागरुकता बढ़ाने के लिए 7 अप्रैल को विश्व स्वास्थ्य दिवस मनाया जाता है। स्वास्थ्य की देखभाल सबसे अच्छा निवेश है, इसी सोच के साथ केयर हेल्थ इंश्योरेन्स अपने उपभोक्ताओं को सेहतमंद जीवनशैली अपनाने के लिए प्रेरित करता है। केयर हेल्थ इंश्योरेन्स का मानना है कि किसी भी बीमारी के समय पर निदान, रोकथाम और उपचार का महत्व समझना बहुत ज़रूरी है। इस संदर्भ में आम और गंभीर बीमारियों के मामले में गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्य सेवाओं की लागत पर ध्यान देना भी ज़रूरी है, ताकि हर व्यक्ति सोच-समझ कर अच्छी फाइनैंशियल योजना बना सके।

इस अवसर पर अजय शाह, डायरेक्टर एवं हैड- रीटेल, केयर हेल्थ इंश्योरेन्स ने कहा, ‘‘स्वास्थ्य की समस्याएं और बीमारियां कभी बताकर नहीं आतीं। और इसीलिए ज़रूरी है कि हम सेहतमंद जीवनशैली अपनाएं, साथ ही ऐसी अप्रत्याशित बीमारियों के मामले में इलाज पर होने वाले खर्च के लिए आर्थिक योजना बनाकर चलें। केयर हेल्थ इंश्योरेन्स में हम स्वास्थ्य बीमा के व्यापक और किफ़ायती समाधान लेकर आते हैं, जो हर वर्ग के उपभोक्ता की हर ज़रूरत को पूरा कर सकें। आधुनिक तकनीक पर आधारित हमारी प्रक्रिया उपभोक्ताओं के लिए गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्यसेवाओं को सुलभ बनाती है। 

एक व्यापक हेल्थ इंश्योरेन्स पॉलिसी उपभोक्ता के लिए कई तरह से फायदेमंद होती है जैसे

बिना किसी चिंता के गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्यसेवाओं को सुलभ बनाती हैः मेडिकल एमरजेन्सी कभी भी आ सकती है। ऐसी स्थिति में समय पर गुणवत्तापूर्ण इलाज मिलने से कीमती ज़िंदगियों को बचाया जा सकात है। हालांकि कई बार एमरजेन्सी के मामले में इलाज के लिए पैसे जुटाना बहुत मुश्किल हो जाता है। लेकिन हेल्थ इंश्योरेन्स पॉलिसी इसके लिए अच्छा विकल्प है, जिसके ज़रिए मरीज़ को बिना किसी देरी के जल्द से जल्द अच्छा इलाज मिल सकता है। हेल्थ इंश्योरेन्स पॉलिसी न सिर्फ अस्पताल के बिल कवर करती है, बल्कि अस्पताल में भर्ती से पहले और बाद में होने वाले खर्च, ओपीडी के खर्च और एम्बुलेन्स के खर्च को भी कवर करती है। 

कुल बीमा राशि में बढ़ोतरीः बाज़ार में हेल्थ इंश्योरेन्स के ऐसे कई प्रोडक्ट उपलब्ध हैं जो हर साल  बीमा राशि बढ़ाकर आपको बोनस देते हैं, अगर आपने अस्पताल में भर्ती के लिए क्लेम न किया हो। यह बोनस 5 साल की अवधि में बीमा राशि का 150 फीसदी तक हो सकता है। इससे आप ज़रूरत पड़ने पर खर्च की चिंता किए बिना सर्वश्रेष्ठ अस्पताल में अच्छा इलाज पा सकते हैं। 

बीमा राशि का अनलिमिटेड ऑटोमेटिक रीचार्जः अगर क्लेम की वजह से कुल बीमा राशि खर्च हो जाती है, तो इस फीचर के साथ बीमा राशि रीचार्ज होकर फिर से मूल राशि पर आ जाती है। इस तरह उपभोक्ता को अतिरिक्त कवर मिलता है, इसी साल के दौरान दोबारा ज़रूरत पड़ने पर व्यक्ति इस राशि का उपयोग कर सकता है। 

इलाज पर बढ़ते खर्च से सुरक्षाः मुद्रास्फीती का असर जीवन के हर क्षेत्र पर पड़ा है और स्वास्थ्य सेवाएं भी इससे अछूती नहीं हैं। इलाज की लागत दिन-बदिन महंगी होती चली जा रही है, ऐसे में उपभोक्त को ऐसे हेल्थ इंश्योरेन्स पॉलिसी खरीदनी चाहिए, जिसकी बीमा राशि मुद्रास्फीती के साथ बढ़ती रहे। ताकि ज़रूरत पड़ने पर पॉलिसी का उचित लाभ मिल सके। केयर हेल्थ इंश्योरेन्स के केयर शील्ड के साथ आपकी बीमा राशि हर साल मुद्रास्फीती के साथ बढ़ती रहती है। 

सालाना स्वास्थ्य जांचः नियमित रूप से स्वास्थ्य की जांच करवाकर आप अपनी सेहत पर निगरानी रख सकते हैं। ऐसा करने से अगर किसी बीमारी की संभावना हो तो पहले से ही इसके बारे में पता चल जाता है और आप सतर्क होकर इलाज शुरू कर सकते हैं। 

कन्ज़्यूमेबल कवरः एक व्यापक हेल्थ इंश्योरेन्स प्लान चुनना चाहिए जो इलाज के दौरान और इससे जुड़े सभी खर्चों जैसे कन्ज़्यूमेबल्स को भी कवर करे, ताकि इलाज के दौरान आप सुरक्षित और तनावरहित रहें। केयर हेल्थ इंश्योरेन्स ऐसे ऐड-ऑन कवर देता है, जो 60 से अधिक गैर-देय कन्ज़्यूमेबल्स को कवर करते हैं, आमतौर पर अन्य हेल्थ इंश्योरेन्स पॉलिसियां इन खर्चों को कवर नहीं करती हैं। 

जीवनशैली से जुड़ी बीमारियों से सुरक्षाः आजकल गतिहीन जीवनशैली, तनाव, प्रदूषण, खाने-पीने की गलत आदतों के चलते जीवनशैली से जुड़े रोग आम हो गए हैं। मोटापा, डायबिटीज़, दिल की बीमारियां और सांस की समस्याएं, पहले अक्सर बुर्जुर्गों में होती थीं, लेकिन अब इनका असर युवाओं पर भी पड़ रहा है। ऐसे में कम उम्र में हेल्थ इंश्योरेन्स खरीदना बेहद महत्वपूर्ण हो गया है ताकि ज़रूरत पड़ने पर महंगे इलाज का खर्च भी आसानी से उठाया जा सके। 

कर के फायदेः हेल्थ इंश्योरेन्स खरीदने से आप आयकर में भी बचत कर सकते हैं। आयकर अधिनियम की धारा 80 डी के तहत हेल्थ इंश्योरेन्स खरीदने पर रु 25000 तक की प्रीमियम राशि पर और बुजु़र्ग माता-पिता के लिए हेल्थ इंश्योरेन्स खरीदने पर रु 30,000 तक की प्रीमियम राशि पर कर में छूट मिलती है। 

बीमारियों के बारे में जागरुकता होना बहुत ज़रूरी है, लेकिन साथ ही एक व्यापक हेल्थ इंश्योरेन्स प्लान खरीदना भी बेहद महत्वपूर्ण है, जो आपको चिंता से मुक्त जीवन जीने में मदद करता है। तो आइए, इस विश्व स्वास्थ्य दिवस के मौके पर अपने स्वास्थ्य और बचत को सुरक्षित रखने तथा सुरक्षित भविष्य के लिए मन की शांति बनाए रखने की शपथ लें। 

मेडिकल एमरजेन्सी क मामले में कौनसे विकल्प आपको सुरक्षित रख सकते हैं, इस बारे में अधिक जानकारी के लिए दिए गए लिंक पर क्लिक करें  https://www.careinsurance.com/


No comments:

Post a Comment

जेकेके में महाकाव्य महाभारत पर आधारित नाटक 'उरूभंगम' का हुआ मंचन

जयपुर।  जवाहर कला केंद्र (जेकेके) के  रंगायन  में पाक्षिक नाट्य योजना के तहत रंग साधना थिएटर ग्रुप, जयपुर द्वारा शनिवार शाम को नाटक 'उरू...