Monday, April 4, 2022

एसबीआई ने सीमा सुरक्षा बल के साथ समझौता ज्ञापन पर किए हस्ताक्षर, सेवारत और सेवानिवृत्त कर्मचारियों और पारिवारिक पेंशनभोगियों को प्रदान किए जाएंगे विशेष लाभ

मुंबई, 4 अप्रैल, 2022- देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) ने सीमा सुरक्षा बल के साथ एक समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए हैं। इस एमओयू के तहत सेंट्रल आर्म्ड पोलिस सेलेरी पैकेज (सीएपीएसपी) स्कीम के तहत बीएसएफ के सेवारत और सेवानिवृत्त कर्मचारियों और पारिवारिक पेंशनभोगियों को विशेष लाभ प्रदान किए जाएंगे।

एमओयू सुरक्षा बलों को कॉम्प्लिमेंट्री पर्सनल और एयर एक्सीडेंटल इंश्योरेंस (डेथ) कवर, ऑन-ड्यूटी डेथ के मामले में अतिरिक्त कवर और स्थायी पूर्ण विकलांगता/आंशिक विकलांगता कवर सहित व्यापक लाभ सुनिश्चित करेगा। एमओयू के तहत बच्चों की पढ़ाई और मृत बीएसएफ कर्मियों की बालिकाओं की शादी के लिए भी सपोर्ट प्रदान किया जाएगा। सेवानिवृत्त कार्मिक, उम्र पर ध्यान दिए बिना कॉम्प्लिमेंट्री पर्सनल एक्सीडेंटल इंश्योरेंस (डेथ) कवर के लिए पात्र होंगे, जबकि पारिवारिक पेंशनभोगियों को भी अनेक फायदे हासिल होंगे।

बीएसएफ कर्मियों द्वारा प्रदान की गई निस्वार्थ सेवाओं को ध्यान में रखते हुए स्टेट बैंक राष्ट्र-निर्माण में उनके योगदान को मान्यता प्रदान करने के लिहाज से उन्हें अनेक सुविधाएं प्रदान करेगा। इनमें सेवा शुल्क की छूट के साथ जीरो बैलेंस बचत बैंक खाते की सुविधा भी शामिल है। इसके अलावा स्टेट बैंक सेवारत कर्मियों को आकर्षक ब्याज दरों पर होम, कार, शिक्षा और एक्सप्रेस क्रेडिट पर्सनल लोन प्रदान करेगा और प्रोसेसिंग फीस पर भी रियायत प्रदान करेगा।

इस महत्वपूर्ण अवसर पर एसबीआई के अध्यक्ष श्री दिनेश खारा ने कहा, ‘‘एसबीआई में, हम अपने देश और नागरिकों की सुरक्षा के लिए बीएसएफ कर्मियों द्वारा किए गए अथक प्रयासों का समर्थन करने के लिए अपनी ओर से सर्वश्रेष्ठ प्रयास करते हैं। हम सीमा सुरक्षा बल के साथ साझेदारी करने और ऐसे समाधान प्रदान करने का प्रयास कर रहे हैं जिनका उद्देश्य बीएसएफ कर्मियों और उनके परिवारों को फायदे प्रदान करते हुए उनके लिए वित्तीय सुरक्षा सुनिश्चित करना है। इस बल के साथ जुड़ना और हमारे केंद्रीय सशस्त्र पुलिस वेतन पैकेज (सीएपीएसपी) के माध्यम से कई विशिष्ट लाभों की पेशकश करना हमारे लिए सम्मान और गर्व की बात है। ये ऐसे कदम हैं जिनके माध्यम से उन्हें और उनके परिवारों को बैंकिंग सुविधाओं तक आसानी से पहुंच सुनिश्चित की जा सकेगी।’’

एमओयू को इस तरह डिजाइन किया गया है कि यह बीएसएफ कर्मियों, पेंशनभोगियों और उनके परिवारों की आवश्यकताओं को बेहतर तरीके से पूरा कर सके। नई दिल्ली में इस एमओयू पर हस्ताक्षर के दौरान श्री एस.एल. थाओसेन आईपीएस, विशेष महानिदेशक बीएसएफ, श्रीमती सलोनी नारायण डिप्टी मैनेजिंग डायरेक्टर (रिटेल बिजनेस) एसबीआई, श्री देवेंद्र कुमार चीफ जनरल मैनेजर (पर्सनल बैंकिंग) एसबीआई, श्री कृष्ण चौधरी आईपीएस (सेवानिवृत्त) सलाहकार (सीएपीएफ) एसबीआई, श्री रवि गांधी आईजी (एडमिनिस्ट्रेशन) बीएसएफ, श्री मनोज कुमार यादव डीआईजी (फाइनेंस) बीएसएफ, श्री विकास कुमार डीआईजी (एडमिनिस्ट्रेशन) बीएसएफ, श्री पी एस यादव डीजीएम (सेलेरी पैकेज अकाउंट्स) एसबीआई और बीएसएफ और एसबीआई के अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद रहे।

 

No comments:

Post a Comment

जेकेके में महाकाव्य महाभारत पर आधारित नाटक 'उरूभंगम' का हुआ मंचन

जयपुर।  जवाहर कला केंद्र (जेकेके) के  रंगायन  में पाक्षिक नाट्य योजना के तहत रंग साधना थिएटर ग्रुप, जयपुर द्वारा शनिवार शाम को नाटक 'उरू...