Sunday, April 3, 2022

'सिटी फॉर ऑल?' का नाटक प्रस्तुति और पब्लिक आर्ट परफॉर्मेंस के साथ हुआ समापन


जयपुर।
 बॉनजोर इंडियाज 'सिटी फॉर ऑल?' पब्लिक आर्ट फेस्टिवल का रविवार को जवाहर कला केंद्र में समापन हुआ। यह बॉनजोर इंडिया पहल का हिस्सा है, जो फ्रांस के दूतावास और इसकी सांस्कृतिक सेवा इंस्टिट्यूट फ्रांसे एन इंडे, एलायंस फ्रांसे नेटवर्क और फ़्रांस के वाणिज्य दूतावासों द्वारा एक कलात्मक, सांस्कृतिक, शैक्षिक और सामाजिक पहल है। समापन दिवस पर भारतीय महिला ब्लॉग द्वारा समर्थित सीताराम कच्ची बस्ती के बच्चों द्वारा लघु नाटक "बैक टू स्कूल प्रोग्राम" प्रस्तुत किया गया। यह नाटक प्रसिद्ध लेखिका महाश्वेता देवी के उपन्यास "क्यों क्यों लड़की" पर आधारित था। नाटक विशेष रूप से युवा लड़कियों द्वारा सवाल करने की आवश्यकता के बारे में बात करता है। हमारे आस-पास की हर चीज पर सवाल उठाने की ललक ही दुनिया की तरफ हमारी आंखें खोल सकती है और इसकी संभावनाएं और सवाल करने की शक्ति केवल शिक्षा और सशक्तिकरण से ही आ सकती है। इसके बाद माह स्पेस द्वारा एक इंटरैक्टिव पब्लिक आर्ट परफॉर्मेंस का आयोजन हुआ। जिसका नेतृत्व कामाक्षी सक्सेना और श्रेया अग्रवाल द्वारा किया गया। इस दौरान प्रतिभागियों को ईयरफोन के माध्यम से ऑडियो सुनाया गया और एक विशाल स्थानिक अनुभव के द्वारा सार्वजनिक स्थान में जेंडर और समावेशिता के प्रश्नों पर आधारित एक्टिविटीज कराई गई। गौरतलब है कि द सिटी फॉर ऑल? एग्जीबिशन पब्लिक आर्ट प्रोजेक्ट में जनता को शामिल करके भारतीय शहरों में सार्वजनिक स्थानों को महिलाओं और ट्रांसजेंडर लोगों के लिए अधिक सुलभ बनाने का प्रयास करती है। साथ ही इसका आयोजन 5 अन्य शहरों में 9 और 10 अप्रैल को चंडीगढ़, 16 और 17 अप्रैल को अहमदाबाद, 23 और 24 अप्रैल को पुणे, 29 और 30 अप्रैल को बैंगलोर और 7 और 8 मई को दिल्ली भी होगा। अंत में, यह लियॉन, फ्रांस में आयोजित होगा।

No comments:

Post a Comment

जेकेके में दर्शकों ने शास्त्रीय व लोक संगीत की फ्यूजन प्रस्तुति का आनंद उठाया

जयपुर।  जवाहर कला केंद्र (जेकेके) में शुक्रवार शाम को मध्यवर्ती में अंतर्राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त फ़्यूज़न ‘कहरवा’ की प्रस्तुति ने दर्शकों क...