Saturday, April 2, 2022

मुहाना मंडी जयपुर में सभी धर्मो के लोगो ने सिन्धियों का सबसे बड़ा त्योहार चेटीचण्ड हर्ष उल्लास से मनाया

जयपुर 02 अप्रैल 2022 - चैत्र मास की प्रथम किरण के उदय होते ही विक्रम संवत का शंखनाद हो उठता है और इसी शंखनाद के गुंजन से गूंजती है- एकता व भाईचारे की आवाज़। यही आवाज़ न केवल सिंधी समुदाय को बल्कि समूचे राष्ट्र को एक नयी  राह दिखलाती है। चंद्रमास की द्वितीय तिथि को सिंधी दिवस-‘चेटीचण्ड’ का महान् पर्व मनाया जाता है।  

चेटीचंड के अवसर पर सभी धर्मो के लोगो ने एकता व भाईचारे से मुहाना मंडी जयपुर में चेटीचण्ड’ का महान् पर्व मनाया।इस कार्येकर्म का आयोजन झामनदास कुंगूमल जे के मामा बी- 129 , जयपुर फल थोक विक्रेता संघ,जयपुर केला थोक विक्रेता संघ, जयपुर फल सब्जी आढ़तिया संघ, मुहाना व्यापर संघ के दुवारा किया गया। इस अवसर पर भगवान झूलेलाल व प्रथम नवरात्री पर माता रानी की मनोरम झांकी सजाई गयी।  भगवान झूलेलाल व मातारानी की पूजा अर्चना करके कार्येक्रम की शुरवात हुई वही पर मुहाना मंडी में समाजहित में कार्य करने वाले बड़े बुजर्गो का सम्मान भी किया गया। भगवान झूलेलाल का जन्मोत्सव केक काटकर व आतिशबाजी करके मनाया गया। साथ में ही भंडारे का भी आयोजन किया गया। 

चेटीचण्ड’ के महान् पर्व पर मशहूर गायक कलाकार मनोज मामनानी और उनकी भजन मण्डली ने एक से बढ़ाकर एक भजन प्रश्तुत करके श्रदालुओ का मन मोह लिया । जिसमें महिलाएं बच्चे एवं पुरुष भक्तिमय वातावरण में बड़ी संख्या में उपस्थित रहे। कार्येक्रम का शुभारंभ मंडी के सभी व्यापारियों के दुवारा किया गया।

No comments:

Post a Comment

जेकेके में महाकाव्य महाभारत पर आधारित नाटक 'उरूभंगम' का हुआ मंचन

जयपुर।  जवाहर कला केंद्र (जेकेके) के  रंगायन  में पाक्षिक नाट्य योजना के तहत रंग साधना थिएटर ग्रुप, जयपुर द्वारा शनिवार शाम को नाटक 'उरू...