Thursday, April 7, 2022

चार दिवसीय 'रियल एस्टेट एक्सपो' का कल से होगा आगाज

जयपुर। जयपुर के राजमहल पैलेस में चार दिवसीय 'रियल एस्टेट एक्सपो' का आगाज  कल (8 अप्रेल) से होने जा रहा है। क्रेडाई (कंफडरेशन ऑफ रियल एस्टेट डवलपर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया) राजस्थान द्वारा प्रस्तुत इस एक्सपो में रियल एस्टेट डेवलपर्स अपने सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन के लिए तैयार हैं। क्रेडाई राजस्थान के प्रेसीडेंट, श्री धीरेंद्र मदान ने बताया कि कल दोपहर 12 बजे एक्सपो का उद्घाटन किया जाएगा। उद्घाटन समारोह में राजस्थान सरकार की उद्योग मंत्री शकुंतला रावत; केबिनेट मंत्री श्री महेश जोशी; आरटीडीसी के चेयरमैन धर्मेंद्र राठौड़ और रेरा के चेयरमैन  एन.सी. गोयल उपस्थित रहेंगे। 11 अप्रेल तक चलने वाले इस चार दिवसीय एक्सपो का दौरा करने के लिए कई मंत्रियों व ब्यूरोक्रेट्स द्वारा पुष्टि की गई है। एक्सपो के कन्वीनियर,  गिरराज अग्रवाल ने बताया कि यहां 4 लाख से लेकर 6 करोड़ तक की प्रॉपर्टीज ऑफर पर उपलब्ध होंगी। इनमें प्रीमियम रेजीडेंशियल, अफोर्डेबल हाउसिंग, विला, टाउनशिप, कॉमर्शियल शॉप व ऑफिस, स्टूडियो, फॉर्म हाउस, रिसॉर्ट हाउसिंग सहित खेत जैसी प्रोपर्टीज शामिल होंगी। क्रेडाई राजस्थान के महासचिव, राजेंद्र सिंह पचार ने जानकारी दी कि एक्सपो के तहत 36 प्रमुख डेवलपर्स द्वारा जयपुर, एनसीआर, जोधपुर तथा राजस्थान के अन्य शहरों के 300 से अधिक प्रोजेक्ट्स को प्रदर्शित किया जाएगा। यहां एक बड़ा कैफेटेरिया बनाया गया है, जिसमें आगंतुकों को बुफे व अंतरराष्ट्रीय व्यंजन परोसे जाएंगे। इसके अलावा आगंतुकों को डेली लकी ड्रा कूपन दिए जाएंगे, जिससे उन्हें एसी, टीवी व फ्रिज जीतने के अलावा लक्जरी होटल में ठहरने का भी मौका मिलेगा। उन्होंने यह भी बताया कि भारत में पहली बार इस एक्सपो के माध्यम से खेत भी बेचे जाएंगे। क्रेडाई राजस्थान के चेयरमैन,  अनुराग शर्मा ने बताया कि निर्माण में इस्तेमाल होने वाले कच्चे माल की कीमत में बढ़ोतरी के कारण निर्माण लागत में 500 रुपये प्रति वर्ग फुट की वृद्धि हुई है। इसे देखते हुए प्रमुख डेवलपर्स ने एक्सपो के बाद प्रोपर्टीज की बिक्री की कीमत बढ़ाने का फैसला किया है। हालांकि इस एक्सपो में भाग ले रहे डेवलपर्स ने अपनी प्रोपर्टीज को 11 अप्रेल तक पुरानी कीमतों पर ही उपलब्ध कराने का फैसला किया है।

No comments:

Post a Comment

बीते कल में आज की परछाई

बीते हुए कल में आज भी झांक कर देखता हूं तो बाबूजी की स्मृतियां और उनके साथ बीते अनेकों और अनगिनत पल आज भी मुझे अपने आस-पास घिरे जीवन से लड़ने...