Saturday, April 2, 2022

जेईएन को बदलने से सुधरेगा जलापूर्ति सिस्टम ?

 




-- मीडिया में खबरों के बाद आए जलदाय विभाग के आलाधिकारी
-- वही ढाक के तीन पात,जोबनेर के जेईएन विद्याधर स्वामी को लगाया कार्यवाहक

नवीन कुमावत
किशनगढ़ रेनवाल। रेनवाल कस्बे में पिछले कई महीनों से जलापूर्ति सिस्टम गड़बड़ाया हुआ है। कभी अनियमित आपूर्ति तो कभी कम दबाव से जलापूर्ति होना यहां की नियति बन गई है। अधिकतर वार्डों में तो एक सप्ताह तक जलापूर्ति नहीं की जाती है। इससे कस्बेवासियों में रोष व्याप्त है। आलाधिकारियों को जागरूक नागरिकों द्वारा शिकायत करने और मीडिया में खबर प्रसारित प्रकाशित करने के बाद शनिवार को जलदाय विभाग के एक्सईएन बी. एल. गालव, एईएन जग्गाराम वर्मा और तत्कालीन कार्यवाहक जेईएन ओमप्रकाश वर्मा ने कस्बे का दौरा कर वस्तुस्थिति का जायजा लिया।
पिछले कई महीनों से कस्बे का जलापूर्ति सिस्टम गड़बड़ाया हुआ है। इसको लेकर कस्बेवासियों ने जलदाय मंत्री महेश जोशी,उनके सचिव गिरधारी लाल शर्मा और अन्य कई जनप्रतिनिधियों को शिकायत की थी। वहीं शनिवार को पालिकाध्यक्ष अमित कुमार ओसवाल ने भी आलाधिकारियों से इस संबंध में बात की थी। इसके बाद चारों ओर से शिकायतों के बाद विभाग ने सांभरलेक के जेईएन ओमप्रकाश वर्मा कार्यवाहक जेईएन रेनवाल को यहां से कार्यमुक्त कर जोबनेर के जेईएन विद्याधर स्वामी को यहां का अतिरिक्त जिम्मा दिया है। लेकिन ये भी रोचक है कि यहां की आबादी जोबनेर और सांभर से अधिक है, भौगोलिक स्थिति भी जटिल और विशाल है इसके बावजूद यहां स्थाई जेईएन की नियुक्ति नहीं की जा रही है।

No comments:

Post a Comment

जेकेके में महाकाव्य महाभारत पर आधारित नाटक 'उरूभंगम' का हुआ मंचन

जयपुर।  जवाहर कला केंद्र (जेकेके) के  रंगायन  में पाक्षिक नाट्य योजना के तहत रंग साधना थिएटर ग्रुप, जयपुर द्वारा शनिवार शाम को नाटक 'उरू...