Friday, April 29, 2022

एसबीआई लाइफ इंश्योरेंस ने 31 मार्च, 2022 को समाप्त वर्ष के लिए ₹25,457 करोड़ का न्यू बिजनेस प्रीमियम दर्ज किया

देश में अग्रणी जीवन बीमा कंपनियों में से एक एसबीआई लाइफ इंश्योरेंस ने 31 मार्च, 2022 को समाप्त वर्ष के लिए ₹25,457 करोड़ का न्यू बिजनेस प्रीमियम दर्ज किया, जबकि 31 मार्च, 2021 को समाप्त वर्ष के दौरान यह राशि ₹20,624 करोड़ थी। 31 मार्च, 2021 को समाप्त हुए वर्ष की तुलना में नियमित प्रीमियम में 25 प्रतिशत की वृद्धि हुई है।

सुरक्षा पर एक स्पष्ट ध्यान केंद्रित करते हुए, एसबीआई लाइफ का प्रोटेक्शन न्यू बिजनेस प्रीमियम 31 मार्च, 2022 को समाप्त वर्ष के लिए 24 प्रतिशत की वृद्धि के साथ ₹3,052 करोड़ रहा। प्रोटेक्शन इंडिविजुअल न्यू बिजनेस प्रीमियम मंे भी 26 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई और 31 मार्च, 2022 को समाप्त वर्ष के लिए यह ₹938 करोड़ रुपए रहा। इंडिविजुअल न्यू बिजनेस प्रीमियम ₹16,500 करोड़ रुपये है, जिसमें 31 मार्च, 2021 को समाप्त वर्ष की तुलना में 32 प्रतिशत की वृद्धि हुई है।  

31 मार्च, 2022 को समाप्त वर्ष के लिए एसबीआई लाइफ का कर पश्चात लाभ ₹1,506 करोड़ रहा।

कंपनी का सॉल्वेंसी अनुपात 1.50 की नियामक आवश्यकता के मुकाबले 31 मार्च, 2022 को 2.05 पर मजबूत बना हुआ है।

एसबीआई लाइफ का एयूएम भी 31 मार्च, 2022 को 21 प्रतिशत की वृद्धि के साथ ₹2,67,409 करोड़ रहा, जो 31 मार्च, 2021 को ₹2,20,871 करोड़ था, जिसमें 71-29 का ऋण-इक्विटी मिश्रण था। 96 प्रतिशत से अधिक ऋण निवेश एएए और सॉवरेन उपकरणों में है।  

कंपनी के पास 2,05,717 प्रशिक्षित बीमा पेशेवरों का एक विविध वितरण नेटवर्क है और देश भर में 952 कार्यालयों के साथ कंपनी की व्यापक मौजूदगी है, जिसमें मजबूत बैंकएश्योरेंस चैनल, एजेंसी चैनल और अन्य शामिल हैं जिनमें कॉर्पाेरेट एजेंट, दलाल, माइक्रो एजेंट, सामान्य सेवा केंद्र, इंश्योरेंस मार्केटिंग फर्म, वेब एग्रीगेटर और प्रत्यक्ष व्यवसाय शामिल हैं।

31 मार्च 2022 को समाप्त वर्ष के लिए प्रदर्शन--

  • वैल्यू ऑफ न्यू बिजनेस (वीओएनबी) में 39 प्रतिशत की वृद्धि, ₹3,704 करोड़ पर।
  • वीओएनबी मार्जिन 270 बीपीएस बढ़कर 25.9 प्रतिशत हो गया।
  • एंबेडेड वैल्यू पर ऑपरेटिंग रिटर्न 20.6 प्रतिशत है।
  • 23.4 प्रतिशत हिस्सेदारी के साथ 12,872 करोड़ रुपए के इंडिविजुअल रेटेड प्रीमियम (आईआरपी) में प्राइवेट मार्केट लीडरशिप।
  • इंडिविजुअल न्यू बिजनेस प्रीमियम में 32 प्रतिशत से ₹16,500 करोड़ की मजबूत वृद्धि।
  • प्रोटेक्शन न्यू बिजनेस प्रीमियम में 24 प्रतिशत की मजबूत वृद्धि से ₹3,052 करोड़।
  • इंडिविजुअल न्यू बिजनेस सम अश्योर्ड में 16 प्रतिशत की वृद्धि
  • 13वें महीने का निरंतरता अनुपात 85.18 फीसदी है।
  • प्रबंधन के तहत संपत्ति (एयूएम) 21 प्रतिशत बढ़कर ₹ 2,67,409 करोड़ हो गई।
  • 2.05 के मजबूत सॉल्वेंसी अनुपात के साथ ₹ 2.0 प्रति शेयर का अंतरिम लाभांश।

No comments:

Post a Comment

बीते कल में आज की परछाई

बीते हुए कल में आज भी झांक कर देखता हूं तो बाबूजी की स्मृतियां और उनके साथ बीते अनेकों और अनगिनत पल आज भी मुझे अपने आस-पास घिरे जीवन से लड़ने...