Monday, April 25, 2022

रेनबो चिल्ड्रन्स मेडिकेयर लिमिटेड: 27 अप्रैल, 2022 को खुलेगा आईपीओ

 

  •  प्राइस बैंड 10 रु. अंकित मूल्य पर 516 रु. से 542 रु. प्रति इक्विटी शेयर तय
  •      आईपीओ शुक्रवार, 29 अप्रैल, 2022 को बंद होगा 

रेनबो चिल्ड्रन्स मेडिकेयर लिमिटेड , जो भारत का एक अग्रणी मल्टी-स्पेशियाल्टी पीडियाट्रिक, ऑब्सटेट्रिक्स व गायन्कोलॉजी हॉस्पिटल चेन है और छह शहरों (हैदराबाद, बेंगलुरू, चेन्नई, नई दिल्ली, विजयवाड़ा और विशाखापत्तनम) में 14 अस्पतालों व तीन क्लीनिकों का संचालन करता है और जिनकी कुल बेड क्षमता 31 दिसंबर, 2021 को 1,500 बेड्स की रही, का आईपीओ बुधवार, 27 अप्रैल 2022 को खुलेगा।
ऑफर का प्राइस बैंड 10 रु. अंकित मूल्य पर 516 रु. से 542 रु. प्रति इक्विटी शेयर तय किया गया है। न्यूनतम 27 इक्विटी शेयर और उसके बाद 27 इक्विटी शेयरों के गुणकों में बोली लगाई जा सकती है।
इस आईपीओ में कुल 280 करोड़ रुपये का फ्रेश इश्यूऔर प्रवर्तक विक्रेता शेयरधारकों, निवेशक विक्रेता शेयरधारकों और अन्य विक्रेता शेयरधारकों द्वारा 24,000,900 इक्विटी शेयरों तक का ऑफर फॉर सेल शामिल है। इस ऑफर में 300,000 इक्विटी शेयरों तक का कर्मचारी आरक्षण हिस्सा भी शामिल है।
कंपनी ने फ्रेश इश्यू से होने वाली शुद्ध आय का उपयोग, कंपनी द्वारा अपने समूह की कंपनियों में से एक, सीडीसी इमर्जिंग मार्केट्स लिमिटेड को जारी किए गए एनसीडी के शीघ्र मोचन (रिडेम्पशन)के लिए 40 करोड़ रु. की पूरी राशि चुकाने ; नए अस्पतालों की स्थापना और ऐसे नए अस्पतालों के लिए चिकित्सा उपकरणों की खरीद के लिए 170 करोड़ रु. के पूंजीगत व्यय ; और शेष राशि का उपयोग सामान्य कॉर्पोरेट उद्देश्यों के लिए करने का प्रस्ताव किया है।
क्रिसिल की रिपोर्ट के अनुसार, 31 मार्च, 2021 तक रेनबो चिल्ड्रन्स मेडिकेयर में मैटर्निटी और पीडियाट्रिक हेल्थकेयर डिलिवरी सेक्टर से जुड़े अन्य प्रतिस्पर्धियों के बीच अस्पताल के बिस्तरों की संख्या सबसे अधिक थी। संस्थापक प्रवर्तक डॉ रमेश कंचरला के नेतृत्व में, रेनबो ने जटिल बीमारियों के प्रबंधन में मजबूत नैदानिक विशेषज्ञता के साथ मल्टी-स्पेशियाल्टी पीडियाट्रिक सेवाओं में एक अग्रणी के रूप में अपनी प्रतिष्ठा स्थापित की। इसने प्रसूति और स्त्री रोग सेवाओं को शामिल करने के लिए परिचालनों का भी विस्तार किया, जिससे यह रोगियों को व्यापक प्रसवकालीन सेवाएं प्रदान करता है। रेनबो के पांच अस्पताल एनएबीएच द्वारा मान्यता प्राप्त हैं और इसके तीन अस्पताल ईडीजीई द्वारा प्रमाणित हैं।
रेनबो ऐसे डॉक्टर एंगेजमेंट मॉडल का अनुसरण करता है जिससे इसके अधिकांश प्रमुख स्पेशलिस्ट्स पूर्णकालिक रिटेनर आधार पर अस्पतालों में विशेष रूप से काम करते हैं। यह मॉडल सुनिश्चित करता है कि इसके अधिकांश मुख्य स्पेशलिस्ट्स अस्पतालों में रोस्टर आधार पर 24/7 उपलब्ध हों, जो विशेष रूप से बच्चों की आपातकालीन, नवजात और बाल चिकित्सा गहन देखभाल सेवाओं के लिए महत्वपूर्ण है। 31 दिसंबर, 2021 तक, रेनबो में 641 पूर्णकालिक डॉक्टर और 1,947 अंशकालिक/विजिटिंग डॉक्टर थे। रेनबो के पूर्णकालिक डॉक्टर मॉडल के साथ - साथ मजबूत मध्यम ग्रेड डॉक्टर पूल अपने अस्पतालों में निर्बाध स्वास्थ्य देखभाल सेवा सुनिश्चित करता है, जिसके परिणामस्वरूप रोगी को अत्यंत संतुष्टि की अनुभूति होती है।
कोटक महिंद्रा कैपिटल कंपनी लिमिटेड, जेपी मॉर्गन इंडिया प्राइवेट लिमिटेड और आईआईएफएल सिक्योरिटीज लिमिटेड, बुक रनिंग लीड मैनेजर हैं।

No comments:

Post a Comment

जेकेके में दर्शकों ने शास्त्रीय व लोक संगीत की फ्यूजन प्रस्तुति का आनंद उठाया

जयपुर।  जवाहर कला केंद्र (जेकेके) में शुक्रवार शाम को मध्यवर्ती में अंतर्राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त फ़्यूज़न ‘कहरवा’ की प्रस्तुति ने दर्शकों क...