Thursday, April 21, 2022

कैम्पस एक्टिववियर लिमिटेड - आईपीओ 26 अप्रैल, 2022 को खुलेगा

मुंबई, 21 अप्रैल, 2022: कैम्पस एक्टिववियर लिमिटेड (“सीएएल”या“ कंपनी”), मंगलवार, 26 अप्रैल, 2022 को कुल 47,950,000 इक्विटी शेयरों के ऑफर फॉर सेल (“ऑफर”) सहित ₹5 अंकित मूल्य के इक्विटी शेयरों (“इक्विटी शेयर”) का आईपीओ खोलने की योजना बना रहा है। एंकर निवेशकों द्वारा बोली लगाए जाने की तारीख सोमवार, 25 अप्रैल, 2022 होगी। ऑफर का प्राइस बैंड ₹278 से ₹ 292 प्रति इक्विटी शेयर तय किया गया है। न्यूनतम 51 इक्विटी शेयर और उसके बाद 51 इक्विटी शेयरों के गुणकों में बोली लगाई जा सकती है।

ऑफर में हरि कृष्ण अग्रवाल के 8,000,000 इक्विटी शेयर, निखिल अग्रवाल (सामूहिक रूप से, "प्रमोटर सेलिंग शेयरधारक") के 4,500,000 इक्विटी शेयर, टीपीजी ग्रोथ III एसएफ प्रा. लिमिटेड के 29,100,000 इक्विटी शेयर, ओआरजी एंटरप्राइजेज लिमिटेड (सामूहिक रूप से,"निवेशक विक्रेता शेयरधारक") के 6,050,000 इक्विटी शेयर, राजीव गोयल के 100,000 इक्विटी शेयर और राजेश कुमार गुप्ता (सामूहिक रूप से "अन्यविक्रेता शेयरधारक ") के 200,000 इक्विटी शेयर का ऑफर फॉर सेल शामिल है। ऑफर में पात्र कर्मचारियों (“कर्मचारी आरक्षण हिस्सा”) द्वारा सब्सक्रिप्शन के लिए भी आरक्षण भी है।

इक्विटी शेयरों की पेशकश कंपनी के रेड हेरिंग प्रॉस्पेक्टस (“ आरएचपी ”) के माध्यम से की जा रही है, जो 18 अप्रैल, 2022 को नई दिल्ली में रजिस्ट्रार ऑफ कंपनीज,दिल्ली और हरियाणा के यहाँ दायर की गई है और ये इक्विटी शेयर्स बीएसई लिमिटेड (“ बीएसई ”)और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज ऑफ इंडिया लिमिटेड (“ एनएसई ”) पर सूचीबद्ध होने के लिए प्रस्तावित हैं। ऑफर के प्रयोजनों के लिए, नामित स्टॉक एक्सचेंज बीएसई होगा।

यह ऑफर भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड (पूंजी और प्रकटीकरण आवश्यकताओं का निर्गम) विनियम, 2018, यथा संशोधित (सेबी आईसीडीआर विनियमन") के विनियमन 31 के साथ प्रतिभूति संविदा (विनियमन) नियम, 1957 के नियम 19(2) (बी) की शर्तों, यथा संशोधित, के अनुसार उपलब्ध कराया जा रहा है। यह प्रस्ताव सेबी आईसीडीआर विनियमों के विनियमन 6(1) के अनुसार बुक बिल्डिंग प्रक्रिया के माध्यम से किया जा रहा है, जिसमें नेट ऑफर का 50% से अनधिक हिस्सा पात्र संस्थागत खरीदारों ("क्यूआईबी” और इस तरह का हिस्सा, "क्यूआईबी पोर्शन") को आनुपातिक आधार पर आवंटन के लिए उपलब्ध होगा, हालांकि कंपनी और टीपीजी ग्रोथ III एसएफ प्राइवेट लिमिटेड, बुक रनिंग लीड मैनेजर्स के परामर्श से एंकर निवेशकों ("एंकर निवेशक भाग") को विवेकानुसार क्यूआईबी हिस्से के 60% तकआवंटित कर सकते हैं। एंकर निवेशक हिस्से का एक तिहाई केवल घरेलू म्यूचुअल फंड के लिए आरक्षित होगा, बशर्ते सेबी आईसीडीआर विनियमों के अनुसार एंकर निवेशक ("एंकर निवेशक आवंटन मूल्य") को किये जाने वाले के मूल्य पर या उससे अधिक पर घरेलू म्यूचुअल फंड से वैध बोलियां प्राप्त हों। एंकर निवेशक हिस्से के कम सब्सक्रिप्शन या अनावंटन की स्थिति में, शेष इक्विटी शेयरों को क्यूआईबी हिस्से (एंकर निवेशक भाग को छोड़कर) में शामिल कर दिया जायेगा ("नेट क्यूआईबी पोर्शन”)। आगे, नेट क्यूआईबी हिस्से का 5% आनुपातिक आधार पर केवल म्यूचुअल फंड के आवंटन के लिए उपलब्ध होगा, और नेट क्यूआईबी का शेष हिस्सा म्यूचुअल फंड्स सहित सभी क्यूआईबी बोलीदाताओं (एंकर निवेशकों को छोड़कर) के लिए आनुपातिक आधार पर आवंटन के लिए उपलब्ध होगा, बशर्ते ऑफर मूल्य पर या उससे वैध बोलियां प्राप्त हों।

आगे, नेट ऑफर का कम से कम 15% गैर-संस्थागत बोलीदाताओं के लिए आनुपातिक आधार पर आवंटन के लिए उपलब्ध होगा और नेट ऑफर का कम से कम 35% खुदरा व्यक्तिगत बोलीदाताओं को आवंटन के लिए उपलब्ध होगा जो सेबी आईसीडीआर विनियमों के अनुसार होगा, बशर्ते ऑफर मूल्य या इससे अधिक पर वैध बोलियाँ प्राप्त हों। गैर-संस्थागत हिस्से के तहत गैर-संस्थागत बोलीदाताओं को आवंटन के लिए उपलब्ध इक्विटी शेयर निम्नलिखित के अधीन होंगे: (i) गैर-संस्थागत बोलीदाताओं के लिए उपलब्ध हिस्से का एक तिहाई ₹ 0.20 मिलियन से अधिक और ₹ 1.00 मिलियन तक के आवेदन आकार वाले आवेदकों के लिए आरक्षित होगा, और (ii) गैर - संस्थागत बोलीदाताओं के लिए उपलब्ध हिस्से का दो - तिहाई ₹ 1.00 मिलियन से अधिक के आवेदन आकार वाले आवेदकों के लिए आरक्षित होगा, हालांकि उपर्युक्त उप - श्रेणियों में से किसी भी एक में बिना सब्सक्राइब किया गया हिस्सा गैर - संस्थागत बोलीदाताओं के अन्य उप - श्रेणी में आवेदकों को आवंटित किया जा सकता है।

एंकर निवेशकों के अलावा सभी बोलीदाताओं को अनिवार्य रूप से अपने-अपने एएसबीए खाते का विवरण (खुदरा व्यक्तिगत बोलीदाताओं केमामले में यूपीआई आईडी सहित) प्रदान करके एप्लिकेशन सपोर्टेड बाय ब्लॉक्ड एमाउंट ("एएसबीए") प्रक्रिया के जरिए ऑफर में भाग लेना होगा, जिसमें संबंधित बोली राशि को एससीएसबी या स्पॉन्सर बैंकों द्वारा यूपीआई मेकेनिज्म, जो भी लागू हो, के तहत बोली राशि अवरुद्ध कर दी जाएगी। एंकर निवेशकों को एएसबीए प्रक्रिया के माध्यम से एंकर निवेशक हिस्सा में भाग लेने की अनुमति नहीं है। इसके अलावा, 200,000 इक्विटी शेयर कर्मचारी आरक्षण हिस्से के तहत आवेदन करने वाले पात्र कर्मचारियों को आनुपातिक आधार पर आवंटित किए जाएंगे, बशर्ते उनसे ऑफर मूल्य पर या उससे अधिक पर वैध बोलियां प्राप्त हों। विवरण के लिए, आरएचपी के पृष्ठ 395पर "प्रस्ताव प्रक्रिया" नामक अनुभाग देखें।

जेएम फाइनेंशियल लिमिटेड, बोफा सिक्योरिटीज इंडिया लिमिटेड, सीएलएसए इंडिया प्राइवेट लिमिटेड और कोटक महिंद्रा कैपिटल कंपनी लिमिटेड इस ऑफर के बुक रनिंग लीड मैनेजर हैं।

यहां बड़े अक्षरों में उपयोग किए गए किंतु अपरिभाषित सभी शब्द का अर्थ वही होगा जैसा कि आरएचपी में वर्णित है।

No comments:

Post a Comment

वी बेहतर कल के लिए पेश करते हैं 5 जी

नई   दिल्ली , 04   अक्टूबर , 2022 :   अग्रणी   दूरसंचार   सेवा   प्रदाता   वी   ने   नई   दिल्ली   के   प्रगति   मैदान   में   आयोजित   इंडि...