Sunday, April 17, 2022

जेईसीआरसी में 120 सुपर हीरोज़ को किया सम्मानित


 - जेईसीआरसी के आशाएं क्लब ने आयोजित किया कार्यक्रम, रक्तदान और एसडीपी दान करने वाले वालंटियर्स को किया सम्मानित 

जयपुर : जयपुर इंजीनियरिंग कॉलेज एंड रिसर्च सेंटर में शनिवार को 120 रक्तदाताओं और सिंगल डोनर प्लेटलेट्स (एसडीपी) देने वाले वालंटियर्स को सम्मानित किया गया। आशाएं क्लब की ओर से कॉलेज के ऑडिटोरियम में आयोजित इस कार्यक्रम में जेईसीआरसी के चेयरपर्सन  ओपी अग्रवाल, कार्यक्रम के मुख्यातिथि लेफ्टिनेंट कर्नल पीयूष जैन, कैप्टन  धर्मवीर सिंह व प्राचार्य प्रोफेसर डॉ वीके चांदना  ने इन सुपर हीरोज़ को सम्मानित किया । इस दौरान जेईसीआरसी के चेयरमैन ओपी अग्रवाल ने कहा कि जैसे एक पेड़ में कई बरसातों का पानी होता है, वैसे ही जेईसीआरसी में भी है। यहां के स्टूडेंट्स पूरी दुनिया मे फैले हुए हैं और इस तरह के सामाजिक कार्य कर रहे हैं। हमें इस बात का गर्व है। उन्होंने बताया कि पिछले 15 सालों में अब तक 16, 886 यूनिट रक्त और 1800 से अधिक एसडीपी भी दान किया जा चुका है। 

वहीं, जेईसीआरसी के वाइस चेयरपर्सन अमित अग्रवाल ने बताया कि आशाएं क्लब के माध्यम से बहुत से मिथकों को तोड़ा भी है। उन्होंने कहा कि समाज में आज भी ऐसी भ्रांतियां हैं कि आंख दान कर देंगे तो अगले जन्म में अंधे पैदा होंगे। ऐसी ही भ्रांतियों को तोड़ने का काम जेईसीआरसी कर रही है। जेईसीआरसी के एलुमनाई और कार्यक्रम के मुख्यातिथि लेफ्टिनेंट कर्नल पीयूष जैन ने बताया कि विद्यार्थियों द्वारा किया जा रहा ये सामाजिक कार्य सराहनीय है। वालंटियर्स न सिर्फ रक्त दान कर रहे हैं बल्कि लोगों को जीवन जीने की उम्मीद भी दे रहे हैं। वहीं, कैप्टन धर्मवीर सिंह ने छात्राओं और महिलाओं को भी रक्तदान करने के लिए प्रेरित किया।  जेईसीआरसी के सीनियर एडवाइजर ओपी जैन ने स्वागत किया।  जेईसीआरसी के प्राचार्य प्रोफेसर डॉ वीके चांदना, जेईसीआरसी के आशाएं क्लब के फैकल्टी को-ऑर्डिनेटर कुलदीप शर्मा ने भी अपने विचार व्यक्त किए। इस दौरान जेईसीआरसी के डायरेक्टर अर्पित अग्रवाल, डिजिटल स्ट्रेटेजी के हेड धीमान्त अग्रवाल, जेईसीआरसी यूनिवर्सिटी के रजिस्ट्रार एसएल अग्रवाल और अभ्युदय की को-ऑर्डिनेटर प्रोफेसर सपना शर्मा समेत फैकल्टी, स्टूडेंट एवं आशाएं के वालंटियर्स मौजूद रहे। 

एसडीपी डोनेट करने वालों ने साझा किए अपने अनुभव 

एसएमएस हॉस्पिटल और महात्मा गांधी हॉस्पिटल समेत अन्य दूसरे हॉस्पिटल्स में एसडीपी डोनेट करने वालों ने कार्यक्रम के दौरान अपने अनुभव साझा किए। गणेश, समीर मित्तल, मोहम्मद बोहरा, कमल कारिल, निखिल बिंदल ने बताया कि उन्होंने कठिन परिस्थितियों में एसडीपी और ब्लड डोनेट किया। कई बार उन्होंने ऐसे मौकों पर एसडीपी डोनेट किया जिससे ज़रूरतमंद की जान बचाई गयी। 

इन रक्तवीरों को किया गया सम्मानित 

आरुषि वशिष्ठ, प्राची, यश चौधरी, मोहित माथुर, निखिल, प्रथम मित्तल, कमल, शुभम गोयल, अर्पित जैन, राहुल, केशव भारती, गगन गोयल, सुमित, नागेंद्र, नमन सोमानी, हितेश, हिमांशु, अनुज खंडेलवाल, शुभम सैनी, निष्कर्ष शर्मा, वैभव यादव, राहुल जांगिड़, शुभम तिवारी, तुषार अग्रवाल , विवेक राजपुरोहित समेत अन्य वालंटियर्स को सम्मानित किया गया।

No comments:

Post a Comment

वी बेहतर कल के लिए पेश करते हैं 5 जी

नई   दिल्ली , 04   अक्टूबर , 2022 :   अग्रणी   दूरसंचार   सेवा   प्रदाता   वी   ने   नई   दिल्ली   के   प्रगति   मैदान   में   आयोजित   इंडि...