Saturday, April 30, 2022

स्पाइस मनी और रेलिगेयर ब्रोकिंग की साझेदारी से एलआईसी आईपीओ पहुंचेगा 10 करोड़ ग्रामीण परिवारों तक

मुंबई, 30 अप्रैल, 2022: भारत के बैंकिंग के तरीके में क्रांति ला रही भारत की अग्रणी ग्रामीण फिनटेक कंपनी, स्पाइस मनी ने आज ग्रामीण नागरिकों को मेगा एलआईसी आईपीओ के लिए आवेदन करने में सक्षम बनाने के लिए रेलिगेयर ब्रोकिंग लिमिटेड (आरबीएल) के साथ भागीदारी करने की घोषणा की है। यह अपनी तरह का पहला निवेश अवसर है। इस एसोसिएशन के द्वारा, रेलिगेयर ब्रोकिंग और स्पाइस मनी का उद्देश्य, ग्रामीण नागरिकों को निवेश के अवसरों तक समान पहुंच प्रदान करना है, जिससे ग्रामीण और शहरी विभाजन में कमी आए और वित्तीय समावेशन को बढ़ाने में सफलता मिले। इसके अलावा, यह एसोसिएशन 95% से ज़्यादा ग्रामीण पिन कोड तक के लोगों को भविष्य में आर्थिक मज़बूती देने के लिए इक्विटी, म्यूचुअल फंड, कमोडिटी, करंसी और एनपीएस जैसे कैपिटल मार्किट से जुड़े अवसरों में निवेश करने के लिए सहायक फिजिटल प्लेटफॉर्म तक पहुंच प्राप्त करने की सुविधा उपलब्ध कराएगा। यह बिज़नेस पार्टनरशिप ग्रामीण क्षेत्र में बाज़ार के नए निवेशकों को बड़े पैमाने पर वित्तीय समावेशन और वित्तीय स्वतंत्रता के लिए आगे का अवसर प्रदान करेगा।

रेलिगेयर ब्रोकिंग मौजूदा समय में देश के 400+ शहरों में 1100+ शाखाओं और बिज़नेस पार्टनर्स के अपने पैन इंडिया नेटवर्क के माध्यम से 10 लाख से अधिक डीमैट ग्राहकों को सेवा दे रहा है। दूसरी ओर, स्पाइस मनी एक जानी-मानी ग्रामीण फिनटेक कंपनी है, जिसके 10 लाख से अधिक व्यापारी (जो कि स्पाइस मनी अधिकारी कहलाते हैं) का व्यापक नेटवर्क है, जो भारत के भीतरी क्षेत्रों के 700+ जिलों में 10 करोड़ से अधिक परिवारों को अपनी डिजिटल सेवाएं प्रदान करता है। इस प्रकार, रेलिगेयर ब्रोकिंग और स्पाइस मनी के बीच इन्वेस्टमेंट सर्विसेज़ की साझेदारी से ग्रामीण भारत को डीमैट अकाउंट तक सीधी और सहायक पहुंच प्राप्त करने और कैपिटल मार्केट से जुड़े उत्पादों में निवेश करने में सुविधा मिलेगी।

नए जमाने की प्रौद्योगिकी कंपनियां अग्रणी हैं, जिसके चलते भारत ने दो दशकों में "सर्वश्रेष्ठ आईपीओ ईयर" (2021) का रिकॉर्ड बनाया है, इसके बावजूद जागरूकता और सहायता की कमी के कारण देश के ग्रामीण हिस्सों से निवेशकों का प्रतिशत बेहद कम रहा है। स्पाइस मनी के सबसे समावेशी और तेज़ी से विकास करने वाले विश्वसनीय समुदाय, यानी इसके 10 लाख अधिकारी, जिन्हें सम्मानित बैंकों के प्रतिनिधि के तौर पर देखा जाता है, ऐसे ग्रामीण नागरिकों की सहायता के लिए वन पॉइंट कांटेक्ट के रूप में कार्य करेंगे, जो एलआईसी शेयरों में निवेश तो करना चाहते हैं, लेकिन यह नहीं जानते कि कहां से शुरू करें। स्पाइस मनी अधिकारी उन्हें डीमैट अकाउंट खोलने और एलआईसी आईपीओ के लिए आवेदन करने और भविष्य में अन्य उत्पादों में निवेश करने में सहायता करेंगे। 

स्पाइस मनी के सह-संस्थापक और सीईओ संजीव कुमार का कहना है, “देश के सबसे बड़े आईपीओ को भारत के भीतरी इलाकों में ले जाने के लिए रेलिगेयर ब्रोकिंग के साथ साझेदारी करके हम बहुत ख़ुश हैं। स्पाइस मनी के जरिए हम देश के लिए वित्तीय समावेशन को बढ़ावा देने के मिशन पर हैं और यह साझेदारी ग्रामीण नागरिकों के लिए भविष्य में मेगा आईपीओ और अन्य कैपिटल मार्केट से जुड़े उत्पादों में हमारे मार्केटप्लेस प्लेटफॉर्म के माध्यम से भाग लेने का अवसर प्रदान करेगी। एलआईसी जैसे देश के सर्वाधिक विश्वसनीय ब्रांड के आईपीओ तक पहुंच बनाने से ग्रामीण नागरिकों को निवेश के उन अवसरों के बारे में भी जानकारी हासिल करने में मदद मिलेगी, जिनसे वे अब तक अनजान थे।”

संजीव ने यह भी कहा कि "अधिकांश ग्रामीण परिवार के लोगों में फ़ाइनेंशियल लिटरेसी बहुत कम या बिल्कुल नहीं है और अधिकांश लोग अपना पैसा बैंकों में जमा रखना पसंद करते हैं। नतीजन उन्हें कम ब्याज दर के साथ ही संतोष करना पड़ता है, जबकि कैपिटल मार्केट में स्मार्ट इन्वेस्टमेंट करके अपनी संपत्ति बढ़ाने का बड़ा मौका मिलता है। अवसरों का लाभ उठाने से न केवल ग्रामीण नागरिकों के वित्तीय विकास में मदद मिलेगी, बल्कि ग्रामीण अर्थव्यवस्था के पुनरोद्धार में भी सहायता मिलेगी। यह 5 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था बनने और आत्मानिर्भर भारत बनाने के देश के लक्ष्य में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा। यह साझेदारी लोगों को आर्थिक रूप से स्वतंत्र बनाने के आपसी तालमेल को साझा करती है। डिजिटल और टेक्नोलॉजिकल इनोवेशंस को आगे बढ़ाते हुए स्पाइस मनी का लक्ष्य सभी ग्रामीण वित्तीय जरूरतों के लिए वन स्टॉप प्लेटफॉर्म बनना है।”

पार्टनरशिप की घोषणा के दौरान रेलिगेयर ब्रोकिंग के सीईओ नितिन अग्रवाल ने कहा, “हम स्पाइस मनी के साथ हाथ मिला कर बहुत खुश हैं। एलआईसी आईपीओ के रूप में एक बड़ा अवसर नए निवेशकों और इसके पॉलिसी होल्डर्स का इंतजार कर रहा है। रेलिगेयर और स्पाइस मनी संयुक्त रूप से ग्रामीण भारत के फ़ाइनेंशियल इन्क्लूजन मॉडल को बनाने, मानव सहायता के साथ नए युग की तकनीक के संयोजन और घर-घर डीमैट अकाउंट लाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे। स्पाइस अधिकारियों की मदद से, आईपीओ में निवेश करने के इच्छुक सभी निवेशक Dynami ऐप पर एक डीमैट अकाउंट खोल सकते हैं और इन्वेस्टमेंट प्रोडक्ट्स की बड़ी श्रृंखला में इन्वेस्ट के लिए सही चुनाव कर सकते हैं।”

रेलिगेयर ब्रोकिंग के सीओओ गुरप्रीत सिदाना ने कहा ”सिम्पलीफाईड इन्वेस्टमेंट जर्नी और इनोवेटिव सर्विसेज़ के अपने वादे को बरकरार रखते हुए, इस बार हम सबसे सस्ता डीमैट अकाउंट खोलने के लिए स्पाइस मनी के साथ बड़े पैमाने पर फिजिटल DIY सुविधा का निर्माण कर रहे हैं। जनता सहित बाजार में नए ग्राहकों के लिए, रेलिगेयर ब्रोकिंग ने हाल ही में नई पेशकश की घोषणा की है, जो डिलीवरी ट्रेडों पर शून्य ब्रोकरेज, गैर-लाभकारी इंट्राडे ट्रेडों पर ज़ीरो ब्रोकरेज और 5 रुपये प्रति लॉट पर ऑप्शंस ट्रेडिंग प्रदान करती है। हमारे DIY अकाउंट खोलने की जर्नी और ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म अत्याधुनिक नई तकनीक और सरलीकृत ट्रेडिंग अनुभव द्वारा समर्थित हैं। टिकट के आकार या स्थान के बावजूद, एक निवेशक कैपिटल मार्केट से जुड़े अवसरों में सहज और किफायती रूप से भाग ले सकता है।

स्पाइस मनी के बारे में:

स्पाइस मनी भारत की प्रमुख ग्रामीण फिनटेक कंपनी है, जिसमें 10 लाख से ज़्यादा अधिकारी (उद्यमी) नकद जमा, नकद निकासी के लिए आधार सक्षम भुगतान प्रणाली, मिनी एटीएम, बीमा ऋण, बिल भुगतान, ग्राहक/एजेंटों/NBFC/बैंकों के प्रतिनिधि के लिए कैश कलेक्शन सेंटर/बैंक. एयरटाइम रिचार्ज, टूर और ट्रैवल, ऑनलाइन शॉपिंग, पैन कार्ड और mPoS सेवाएं प्रदान करते हैं। स्पाइस मनी डीजीस्पाइस टेक्नोलॉजीज़ की 100% सहायक कंपनी है। कंपनी का बड़ा नेटवर्क भारत के 95% ग्रामीण पिनकोड को कवर करता है और हर महीने 2 करोड़ से ज़्यादा ग्राहकों को सेवा प्रदान करता है। स्पाइस मनी, स्पाइस मनी ऐप (अधिकारी ऐप) और वेब पोर्टल पर उपलब्ध हैं। यूज़र फ़्रेंडली इंटरफेस और बेहतर तकनीक वाले प्लेटफ़ॉर्म की वजह से ऐप को गूगल प्ले स्टोर पर 4.4 की उत्कृष्ट रेटिंग हासिल करने में कामयाबी मिली है। स्पाइस मनी अपनी अत्याधुनिक तकनीक और स्पाइस मनी अधिकारियों के विस्तृत नेटवर्क के माध्यम से, भारत के कोने-कोने में जनता के लिए विभिन्न वित्तीय सेवाओं तक पहुंच के बीच मौजूद अंतर को कम करने का प्रयास कर रही है। जानकारी के लिए कृपया विजिट करें:  https://spicemoney.com

रेलिगेयर ब्रोकिंग लिमिटेड के बारे में:

रेलिगेयर ब्रोकिंग लिमिटेड (आरबीएल) भारत में नामचीन सिक्यूरिटी फर्म्स में से एक है, जो ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों प्लेटफॉर्म पर 10 लाख से अधिक ग्राहकों को सेवा प्रदान करती है। बड़े पैमाने पर यह देश के हर हिस्से में मौजूद है; रेलिगेयर ब्रोकिंग इक्विटी, करंसी, कमोडिटी, म्यूचुअल फंड, बीमा, एनपीएस और डिपॉजिटरी सर्विसेज़ में सेवाएं प्रदान करता है। रेलिगेयर Dynami आज बाजार में सबसे उन्नत मोबाइल ट्रेडिंग एप्लीकेशंस में से एक है, जिसमें नए निवेशकों के लिए गेस्ट लॉगिन सुविधा मौजूद है। कंपनी को हाल ही में ग्रेट प्लेस टू वर्क संगठन के रूप में भी प्रमाणित किया गया है, जो अपने आप में संगठन के शानदार वर्क कल्चर और एम्प्लॉयी समावेश नीतियों को जाहिर करता है। एनएसई/बीएसई के एक सदस्य और एनएसडीएल और सीडीएसएल के साथ एक डिपॉजिटरी प्रतिभागी, रेलिगेयर ब्रोकिंग भी चयनित शाखाओं में TIN सुविधा और PAN सुविधा प्रदान करता है - PAN,TAN और TDS/TCS रिटर्न संबंधी आवश्यकताओं वाले व्यक्ति की मदद करने के लिए एक अनूठी सेवा। वर्तमान में, रेलिगेयर ब्रोकिंग देश के 400+ शहरों में 1100+ से अधिक शाखाओं और व्यापार भागीदारों के नेटवर्क के साथ 1 मिलियन से अधिक डीमैट अकाउंट धारकों को सेवा दे रहा है।

No comments:

Post a Comment

अजय पीरामल को ब्रिटेन की महारानी ने प्रदान किया मानद ब्रिटिश पुरस्कार

पीरामल ग्रुप के चेयरमैन अजय गोपीकिषन पीरामल को ब्रिटेन की महारानी ने मानद कमांडर ऑफ द ऑर्डर ऑफ द ब्रिटिश एम्पायर (सीबीई) से सम्मानित किया है...