Thursday, March 10, 2022

वोडाफोन आइडिया फाउन्डेशन ने किया -‘वुमेन ऑफ वंडर’ का अनावरण- प्रेरक महिलाओं की कहानियों का संकलन जिन्होंने सभी मुश्किलों का बहादुरी से सामना करते हुए समाज में अपनी खास जगह बनाई है

मुंबई, 10 मार्च 2022ः वोडाफ़ोन आइडिया फाउन्डेशन ने एक पुस्तक -‘वुमेन ऑफ वंडर’ के अनावरण के साथ अन्तर्राष्ट्रीय महिला दिवस का जश्न मनाया, यह पुस्तक 17 प्रेरणादायी महिलाओं की कहानियों का संकलन है, जिन्होंने बहादुरी के साथ सभी मुश्किलों का सामना करते हुए अपनी व्यक्तिगत आज़ादी हासिल की और समाज में अपने लिए खास जगह बनाई है। 

पुस्तक का अनावरण वृंदा सरूप, आईएएस, पूर्व सचिव स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता, शिक्षा मंत्रालय और पूर्व सचिव, भोजन एवं सार्वजनिक वितरण, भारत सरकार द्वारा किया गया। आज आयोजित इस वर्चुअल कार्यक्रम में अन्य गणमान्य दिग्गजों ने भी हिस्सा लिया। इनमें अरूणा शर्मा, आईएएस, पूर्व आईटी सचिव; शेरीन भान, मैनेजिंग एडीटर, सीएनबीसी-टीवी 18; श्री पी बालाजी, चीफ़ रेग्युलेटरी एण्ड कॉर्पोरेट अफे़यर्स ऑफिसर, वीआईएल और डायरेक्टर वोडाफ़ोन आइडिया फाउन्डेशन; तथा डॉ निलय रंजन, हैड, वोडाफोन आइडिया फाउन्डेशन शामिल थे।

इन प्रेरक महिला लीडरों ने विभिन्न क्षेत्रों जैसे कृषि, शिक्षा, आजीविका सृजन आदि में वीआईएफ के विभिन्न सामाजिक प्रोग्रामों के महिला लाभार्थियों को भी सम्बोधित किया।  

इस विशेष अवसर पर वीआईएफ ने अपने सामाजिक प्रोग्रामों के महिला लाभार्थियों को सम्मानित भी किया, जिन्होंने व्यक्तिगत, सामाजिक एवं आर्थिक बाधाओ का सामना कर अपने कार्यक्षेत्र में सफलता हासिल की है तथा समाज के अन्य लोगों के लिए अनुकरणीय उदाहरण प्रस्तुत किया है।’ 

कार्यक्रम के दौरान पी बालाजी, चीफ़ रेग्युरेटरी एण्ड कॉर्पोरेट अफ़ेयर्स ऑफिसर, वीआईएल एवं डायरेक्टर, वोडाफ़ोन आइडिया फाउन्डेशन ने कहा, ‘‘एक अग्रणी दूरसंचार सेवा प्रदाता होने के नाते, वोडाफ़ोन आइडिया फाउन्डेशन में हम आधुनिक तकनीक का उपयोग कर स्थायी समाधानों के निर्माण द्वारा समाज पर सकारात्मक प्रभाव उत्पन्न करने के लिए प्रयासरत हैं। इस दिशा में हम महिला सशक्तीरण एवं आजीविका सृजन पर विशेष रूप से ध्यान केन्द्रित करते हैं। हमने पहचाना कि महिला सशक्तीकरण समाज में सकारात्मक बदलाव लाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है। हमारा मानना है कि जब आप समाज के एक महिला को शिक्षित एवं सशक्त बनाते हैं, उसे सहयोग प्रदान करते हैं, तब आप उसके पूरे परिवार पर तथा समुदाय पर भी सकारात्मक प्रभाव उत्पन्न करते हैं। इस तरह महिलाओं को सशक्त बनाने के परिणाम देश के समग्र सामाजिक एवं आर्थिक विकास के रूप में सामने आते हैं।’’


No comments:

Post a Comment

ज्योतिष हमारी वैदिक परंपरा का हिस्सा : राज्यपाल

राज्यपाल ने किया अंतर्राष्ट्रीय एस्ट्रोलॉजी कॉन्फ्रेंस का उद्घाटन जयपुर. यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्नोलॉजी और पाल बालाजी ज्योतिष संस्थान जयपुर जोधपु...