Thursday, March 3, 2022

जेकेके द्वारा 5 से 13 मार्च तक परफोर्मिंग आर्ट फेस्टीवल-‘रसरंगम’ का होगा आयोजन

जयपुर। जवाहर कला केन्द्र द्वारा परफोर्मिंग आर्ट फेस्टीवल-रसरंगम का आयोजन दिनांक 5 से 13 मार्च 2022 तक रखा जायेगा। इस फेस्टीवल में शास्त्रीय गायन, वादन, शास्त्रीय नृत्य एवं रंगमंच की प्रस्तुतियों के साथ ही हास्य कवि सम्मेलन तथा पेंटर्स आर्टिस्ट कैम्प के  आयोजन प्रस्तुतिकरण में सम्मिलित किये जायेंगे। रसरंगम फेस्टीवल का औपचारिक उद्घाटन डॉ. बी.डी.कल्ला, मंत्री कला,  साहित्य, संस्कृति, पुरातत्व एवं शिक्षा राजस्थान सरकार के कर कमलों से दिनांक 5 मार्च 2022 को सायं 6.30 बजे केन्द्र के रंगायन सभागार में होगा। फेस्टीवल में दिनांक 5 मार्च 2022 को पंडित सलिल भट्ट द्वारा सात्विक स्वर संवाद का प्रस्तुतिकरण, दिनांक 6 मार्च 2022 को प्रातः 7.00 बजे मोहम्मद अमान का शास्त्रीय गायन, डॉ. विकास गुप्ता का सितार वादन मॉर्निंग रागाज की ऋंखला में होगा। सायं 5.00 बजे मोहित टाकलकर द्वारा निर्देशित ’’हुंकारो’’ नाटक सायं7.00 बजे जोधपुर के लोक कलाकारों द्वारा राजस्थानी सूफी नाईट-रेतीला बैण्ड दिनांक 7 मार्च 2022 को मध्यान्ह पश्चात सायं 5.00 बजे मनोज नायर भोपाल के निर्देशन में ’’नेपथ्य में शकुंतला’’ नाटक, मोहित गंगानी के निर्देशन में प्रोजेक्ट त्रिवेणी-’’कथक, भरतनाट्य की फ्यूजन’’ प्रस्तुतिकरण रखी जायेगी। फेस्टीवल की इस श्रृंखला में दिनांक 8 मार्च 2022 को अंतराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर पूर्वा नरेश नादिरा जहीर बब्बर, इप्शिता चक्रवर्ती सिंह एवं रुचि भार्गव द्वारा रोल ऑफ वुमेन इन थियेटर विषय पर कला परिचर्चा प्रातः 11.00 बजे रखी जायेगी। दिनांक 8 मार्च 2022 को सायं 5.00 बजे सुश्री सुनीता तिवाडी नागपाल के निर्देशन में “हत्या एक आकार की” नाट्य प्रस्तुति, सायं 7.00 बजे प्रोफेसर सुमन यादव द्वारा शास्त्रीय गायन, डॉ. रेखा ठाकर के निर्देशन में ’’शक्ति’’ शास्त्रीय नृत्य कथक पर आधारित प्रस्तुति रखी जायेगी। 9 मार्च 2022 को अभिषेक मुद्गल के निर्देशन में सायं 5.00 बजे ’’रश्मि रथी’’ नाटक एवं सायं 7.00 बजे अजितेश गुप्ता एवं मोहित अग्रवाल के निर्देशन में ’’जो डूबा सो पार’’ नाट्य प्रस्तुति एवं दिनांक 10 मार्च 2022 को सायं 5.00 बजे रुचि भार्गव के निर्देशन में ’’धूप का एक टुकडा’’ एवं सायं 7.00 बजे गुलजार हुसैन के निर्देशन में वाधवृंद-वायलिन, सितार, क्लारनेट, दिलरुबा, गिटार एवं तबला की जुगलबंदी, देवेन्द्र मंगलामुखी द्वारा राग-ऐ-दरबार-मुगलिया कथक, मनीषा गुलियानी द्वारा कथक की प्रस्तुति रखी जायेगी। 11 मार्च 2022 को सायं 7.00 बजे प्रोफेसर चेतना पाठक द्वारा शास्त्रीय गायन एवं डॉ. रीमा गोयल द्वारा बसंत होरी का प्रस्तुतिकरण होगा। दिनांक 12 मार्च 2022 को सायं 5.00 बजे डॉ. सुरेश प्रसाद रंगा के निर्देशन में ’’दी कम्पलीट वुमेन’’ नाटक की प्रस्तुति एवं सायं 7.00 बजे पीयूष चैहान एवं प्रीति शर्मा के निर्देशन में ’’स्वरा-कन्टेम्परेरी डांस-कथक ईग्नाईट’’ की प्रस्तुति रखी  जायेगी। 13 मार्च 2022 को मॉर्निंग रागाज के अंतर्गत प्रातः 7.00 बजे अंकित भट्ट का सितार वादन एवं अमित गोस्वामी बीकानेर का सरोद वादन रखा जायेगा। गोपाल आचार्य (भीलवाडा) के निर्देशन में भोपा भैंरुनाथ नाट्य प्रस्तुति एवं सायं 7.00 बजे से फाग रंग-कवि सम्मेलन रखा जायेगा।

No comments:

Post a Comment

वी बिज़नेस ने एमएमएसई की डिजिटल यात्रा को आसान बनाने के लिए लॉन्च किया ‘रैडी फॉर नेक्स्ट’

मुंबई, 27 जून, 2022ः महामारी के चलते कारोबार पर पड़े प्रभावों, बहुत अधिक लिक्विडिटी और अन्य बदलावों के चलते एमएसएमई संवेदनशील हो गए हैं। इन्ह...