Tuesday, March 29, 2022

एलएंडटी ने डीआरडीओ के लिए रिकॉर्ड 45 दिनों में 7 मंजिला सुविधा का निर्माण किया

मुंबई, मार्च 29, 2022- लार्सन एंड टुब्रो के बिल्डिंग्स बिजनेस ने रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (डीआरडीओ) के लिए 7-मंजिला, अत्याधुनिक फ्लाइट कंट्रोल सिस्टम (एफसीएस) इंटीग्रेशन फैसिलिटी का निर्माण कर एक कीर्तिमान स्थापित किया है। लार्सन एंड टुब्रो ने इंटीग्रेटेड हाइब्रिड मॉड्यूलर कंस्ट्रक्शन टेक्नोलॉजी (आईएचएमसीटी) का उपयोग करते हुए रिकॉर्ड 45 दिन में यह निर्माण पूरा किया। इस सुविधा का उद्घाटन 17 मार्च, 2022 को माननीय कंेद्रीय रक्षा मंत्री श्री राजनाथ सिंह ने किया। इस अवसर पर कर्नाटक के माननीय मुख्यमंत्री श्री बसवराज बोम्मई और सचिव, रक्षा अनुसंधान एवं विकास विभाग और अध्यक्ष, डीआरडीओ डॉ जी सतीश रेड्डी की गरिमामय उपस्थिति रही।

डीआरडीओ के अध्यक्ष डॉ जी सतीश रेड्डी ने कहा, ‘‘यह सुविधा दर्शाती है कि भारत कम समय में कुछ भी बना सकता है।’’ इस प्रोजेक्ट के कॉन्सेप्ट और टैक्नीकल डिजाइन को डीआरडीओ ने विकसित किया और विस्तृत इंजीनियरिंग और इसका क्रियान्वयन एल एंड टी की टीम ने किया। आईआईटी-मद्रास और आईआईटी-रुड़की की टीमों ने डिजाइन की जांच की और तकनीकी सहायता प्रदान की।

भारतीय रक्षा की रणनीतिक क्षमताओं को आधुनिक बनाने और बढ़ाने के लिए एक महत्वपूर्ण विकास, यह सुविधा एलएंडटी के अद्वितीय एकीकृत ऑफसाइट और ऑनसाइट निर्माण दृष्टिकोण का परिणाम है। होलटाइम डायरेक्टर और सीनियर एक्जीक्यूटिव वाइस प्रेसीडेंट एम वी सतीश ने कहा, ‘‘हमने भारतीय निर्माण उद्योग में पहली बार उपयोग किए जाने वाली टैक्नोलॉजी आईएचएमसीटी को अपनाया और इसमें इंजीनियरों, आर्किटेक्ट्स और डिजाइनरों की एक समर्पित टीम को भी साथ लिया ताकि प्रोजेक्ट को पूरा करने में लगने वाले समय को कम किया जा सके। इसी टीम ने यह मुश्किल लगने वाला टास्क समय से पूर्व पूरा कर दिखाया। हमने 1 फरवरी, 2022 को परियोजना शुरू की, और मॉड्यूलर इंटीरियर, अग्रभाग और एमईपी सहित अधिरचना को 17 मार्च, 2022 को निर्धारित समय पर पूरा किया। इस तरह डिजाइन से डिलीवरी तक केवल 45 दिन लगे।’’

130,000 वर्ग फुट के कुल निर्मित क्षेत्र पर निर्मित, साइट टीम को डिजाइन, संरचना, वास्तुकला और एमईपी सेवाओं को एकीकृत करने के लिए 21 ऑफ-साइट स्थानों के साथ समन्वय करना पड़ा। आगे जाकर, एलएंडटी द्वारा विकसित यह हाइब्रिड निर्माण प्रणाली उत्पादकता बढ़ाने, संसाधन उपयोग को अनुकूलित करने, अपव्यय के कारण होने वाले नुकसान को कम करने और निर्माण की गति को तेज करने में मदद करेगी।

पृष्ठभूमि- लार्सन एंड टुब्रो एक भारतीय बहुराष्ट्रीय कंपनी है जो ईपीसी प्रोजेक्ट्स, हाई-टेक मैन्युफैक्चरिंग और सर्विसेज में जुटी हुई है। यह दुनिया भर के 50 से अधिक देशों में काम करती है। एक मजबूत, ग्राहक-केंद्रित दृष्टिकोण और उच्च श्रेणी की गुणवत्ता के लिए निरंतर खोज ने एलएंडटी को पिछले आठ दशक से अपने कार्य क्षेत्र में अग्रणी भूमिका में कायम रखा है।

No comments:

Post a Comment

अंतरिक्ष की कहानियों ने बच्चों के मन में सजाए सपने

-जेईसीआरसी यूनिवर्सिटी में हुआ तीन दिवसीय इसरो एग्जिबिशन का आगाज़ -पद्म श्री डॉ. ए एस किरण कुमार (सदस्य, अंतरिक्ष आयोग) ने स्कूली बच्चों से ...