Tuesday, March 1, 2022

जयपुर बुकमार्क 2022 के प्रोग्राम की घोषणा


जयपुर ‘धरती के सबसे बड़े लिटरेरी शो’ का 15वां संस्करण 5-14 मार्च 2022 को आयोजित होने जा रहा है, जिसमें दुनिया के श्रेष्ठ लेखक, चिन्तक, मानवतावादी, राजनेता, बिजनेस लीडर्स और कलाकार हिस्सा लेंगे| गुलाबी नगरी की खूबसूरत पृष्ठभूमि पर सुसज्जित जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल साहित्य, कला और संगीत का कुम्भ है|
जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल के समानांतर चलने वाला जयपुर बुकमार्क (जेबीएम), फेस्टिवल का B2B प्लेटफ़ॉर्म है| यह दुनियाभर के प्रकाशकों, लिटरेरी एजेंट्स, अनुवाद एजेंसियों और लेखकों को एक मंच पर आकर, इंडस्ट्री की असीम संभावनाओं को तराशने का मौका देता है| 2022 में भी जेबीएम कुछ बेहतरीन सत्रों के साथ हाज़िर है|
फेस्टिवल की को-डायरेक्टर और लेखिका नमिता गोखले ने कहा, “जयपुर बुकमार्क जेएलएफ के वर्चुअल और ऑन-ग्राउंड प्रोग्राम का अभिन्न हिस्सा है| जब महामारी ने प्रकाशन उद्योग की चुनौतियों को और बढ़ा दिया है, तब इंडस्ट्री के विशेषज्ञ आगे आकर प्रकाशन और साहित्य के भिन्न पहलुओं और नित बदलते स्वरूप की चर्चा करेंगे|”
पुरस्कृत जर्मन लेखक फ्रेडरिक एनी का ज़बरदस्त क्राइम नॉवेल, किलिंग हैप्पीनेस, विषाद और सत्य को उजागर करता है| दिल दहला देने वाला केस, दुखों की श्रृंखला, निर्मम सबूत और भयावह यादें एनी के द नेमलेस डे के नायक, इंस्पेक्टर जेकब फ्रेंक को झकझोर देती हैं| अतीत में हुए क़त्ल की अनसुलझी यादें, फ्रेंक को एक नए नजरिये से केस समझने की प्रेरणा देती हैं| जाने-माने प्रकाशक, कवि और फोटोग्राफर नवीन किशोर से संवाद में एनी अपने रोमांचक अपराध उपन्यासों  की तहें खोलेंगे|         
‘महिलाओं के शरीर के आभूषण’ वास्तव में, पुरुषों द्वारा उन पर की गई हिंसा को बयां करते हैं| लेखिका कैथरीना विंकलर का पहला उपन्यास, ब्लू ज्वेलरी: प्राइवेट प्रॉपर्टी एक हिंसक शादी और युवती की दृढ़ता की कहानी कहता है| विंकलर ने इस उपन्यास में साठ घंटे तक लिए गए एक इंटरव्यू को शामिल किया है, जहाँ पीड़िता ने खुद अपनी दुखद यात्रा बताई| एक अन्य सत्र में, विंकलर लेखिका और कार्यकर्त्ता मीना कंडासामी के साथ संवाद में हिंसा के साहित्य की जड़ें, प्रक्रिया पर रौशनी डालेंगी|         
भारत के श्रेष्ठ और प्रसिद्ध पब्लिशिंग हाउस में से एक, सीगल बुक्स, वैश्विक साहित्य और संस्कृति के प्रति नवीन किशोर के नजरिये को प्रतिबिंबित करता है| सीगल को 2021 में ओटवे अवार्ड से सम्मानित किया गया| नवीन किशोर के डायरेक्शन में, सीगल बुक्स ने प्रमुख यूरोपीय, लैटिन अमेरिकी, अफ़्रीकी और एशियाई लेखकों की 500 से अधिक किताबें प्रकाशित की| आपकी किताबों में नोबेल पुरस्कार से सम्मानित मो यान, हेर्ता मुलर; और मैन बुकर से सम्मानित लेखकों की रचनाएँ शामिल हैं| प्रकाशन की 40वीं वर्षगांठ पर, स्पेशल इंप्रिंट, सीगल@40 के तहत दुनियाभर के अभूतपूर्व लेखकों की किताबें छापने की योजना है| पत्रकार प्रज्ञा तिवारी से संवाद में नवीन सीगल बुक्स की धरोहर पर प्रकाश डालेंगे|      

भाषा एक जीवित, निरंतर विकसित होने वाली और समाज के बदलाव से ताल मिलाने की प्रक्रिया है, जो हमेशा आसान नहीं होती| एक महत्वपूर्ण चर्चा भिन्न भाषाओँ के बदलते स्वरूपों पर होगी| इस सत्र में लेखक विवेक तेजूजा प्रकाशकों से समझने की कोशिश करेंगे कि वे भाषा की इन चुनौतियों का सामना कैसे करते हैं| इस सत्र में शामिल होंगी इंडिया की पहली नारीवादी प्रकाशक और लेखिका उर्वशी बुटालिया

No comments:

Post a Comment

ज्योतिष हमारी वैदिक परंपरा का हिस्सा : राज्यपाल

राज्यपाल ने किया अंतर्राष्ट्रीय एस्ट्रोलॉजी कॉन्फ्रेंस का उद्घाटन जयपुर. यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्नोलॉजी और पाल बालाजी ज्योतिष संस्थान जयपुर जोधपु...