Thursday, February 10, 2022

बजट में दशकों तक कायम रहने वाले विकास की शुरूआत है- सांसद दीयाकुमारी

जयपुर। सांसद दीया कुमारी ने समग्र बजट पेश करने के लिए आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण का आभार व्यक्त किया। सांसद ने बताया कि बजट भारत की प्रगति की कल्पना के साथ एक दृष्टिकोण भी निर्धारित करता है। संसद में बजट पर बोलते हुए सांसद दीयाकुमारी ने 'मेड इन इंडिया' टीके विकसित करने के लिए अथक प्रयास करने और करोड़ों लोगों का टीकाकरण करने के लिए प्रधानमंत्री को धन्यवाद दिया, जिससे कोरोना वायरस के प्रभाव को कम करने और इसके प्रसार को रोकने में मदद मिली। आज देश की अर्थव्यवस्था नौ प्रतिशत की दर से बढ़ रही है जो विश्व की प्रमुख अर्थव्यवस्थाओं में सर्वाेच्च स्थान पर है। इसी प्रकार 'मेक इन इंडिया' अभियान ने दुनिया को दिखा दिया है कि भारत में विश्व स्तरीय उत्पादों का निर्माण हो सकता है। इस अभियान ने अधिक से अधिक रोजगार उत्पन्न करने में भी मदद की है। 2022-23 के बजट के बारे में सांसद ने बताया कि यह दूरदर्शी और विकासोन्मुखी बजट है और इसमें गेम चेंजर बनने की क्षमता है। सांसद ने कहा कि बजट आगामी दशकों तक कायम रहने वाले विकास की शुरूआत करेगा। इसके अलावा, सरकार ने एक लाख करोड़ रुपये के अभूतपूर्व ब्याज मुक्त ऋण आवंटित करके राज्यों के साथ काम करने के अपने इरादे का स्पष्ट संकेत दिया है। इंफ्रास्ट्रक्चर के संदर्भ में, बजट में राष्ट्रीय राजमार्ग नेटवर्क में 25,000 किलोमीटर का विस्तार करने का प्रावधान है, जो ग्रामीण क्षेत्रों व दूरदराज के गांवों तक की अत्यंत आवश्यक कनेक्टिविटी सुनिश्चित करेगा। 60,000 करोड़ रुपये के महत्वपूर्ण आवंटन के साथ 'जल जीवन मिशन' का विस्तार और छह नदियों को आपस में जोड़ने से 'हर घर जल' सुनिश्चित हो सकेगा। गरीबों व वंचितों के जीवन में सुधार के लिए प्रौद्योगिकी पर ध्यान केंद्रित करते हुए महिलाओं व बच्चों को भी समर्थन की पहल की जा रही है। डिजिटल करेंसी का उपयोग करने और सक्षम आंगनबाड़ियों को बढ़ाने जैसी पहल भी उल्लेखनीय हैं। इस बजट में वाकई ऐसे प्रावधान हैं, जो देश के विकासात्मक प्रयासों का महिलाओं द्वारा नेतृत्व सुनिश्चित करने में मदद करेंगे। दीयाकुमारी ने अपने उद्बोधन के अंत में कहा कि यह बजट मजबूत एवं जीवंत भारत का उदाहरण प्रस्तुत करता है, जो तेजी से विभाजित हो रही दुनिया में शांति व समृद्धि सुनिश्चित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा।

No comments:

Post a Comment

ज्योतिष हमारी वैदिक परंपरा का हिस्सा : राज्यपाल

राज्यपाल ने किया अंतर्राष्ट्रीय एस्ट्रोलॉजी कॉन्फ्रेंस का उद्घाटन जयपुर. यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्नोलॉजी और पाल बालाजी ज्योतिष संस्थान जयपुर जोधपु...