Saturday, February 19, 2022

पीएम मोदी के नेतृत्व में देश आत्मनिर्भरता की सीढियां चढ़ रहा है- सांसद दीयाकुमारी


बजट और आत्मनिर्भर भारत के संदर्भ में प्रेस को किया संबोधित, सांसद ने किया राजसमन्द का दौरा 

राजसमन्द। सांसद और भाजपा की प्रदेश महामंत्री दीयाकुमारी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में आज हमारा देश आत्मनिर्भरता की सीढ़ियां चढ़ते हुए सशक्त बन रहा है। आजादी के 100 साल पूरे होने में 25 साल बचे हैं। हमारे देश के लिए यह अमृत काल का समय है जो कि हमारे ज्ञान, शोध और इनोवेशन का समय है। प्रेस को सम्बोधित करते हुए सांसद दीया ने कहा कि केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमन ने 2022-23 का जो बजट पेश किया है वह आजादी के अमृत काल को समर्पित है। 

मेक इन इंडिया के तहत 60 लाख लोगों को मिलेगा रोजगार-

सांसद दीयाकुमारी ने कहा कि बजट में मेक इन इंडिया के तहत 60 लाख लोगों को रोजगार दिया जाएगा,100 प्रधानमंत्री गतिशक्ति कार्गों टर्मिनल्स बनाए जाएंगे, जिससे रोजगार के अवसर बढेंगे, युवाओं के लिए कौशल विकास मिशन पर खास जोर दिया जाएगा जिसके तहत ऑनलाइन प्रशिक्षण, डिजीटल इकोसिस्टम को और अधिक गुणवत्तापूर्ण बनाया जाएगा, पीएम ई-विद्या के प्रोग्राम ‘‘वन क्लास - वन टीवी चैनल‘‘ की संख्या 12 से बढ़ाकर 200 की जाएगी इससे कक्षा 1 से 12 वीं तक क्षेत्रीय भाषाओं में सप्लीमेंट्री शिक्षा की सुविधा मिल सकेगी, 750 वर्चुअल प्रयोगशालाएं और 75 ई-लैब्स की स्थापना होगी, डिजीटल यूनिवर्सिटी की स्थापना होगी जिसमें कई भाषाओं में शिक्षा दी जाएगी, महिला एवं बाल विकास के तहत मिशन शक्ति , मिशन वात्सालय, सक्षम आंगनबाडी और पोषण-2 को पुनः शुरू किया गया है। जिसमें 2 लाख आंगनबाडियों को अपग्रेड किया जाएगा। 

नैनो फर्टिलाइजर से किसानों की बढ़ेगी आय - 

सांसद ने कहा कि किसानों की आय बढाने के लिए नैनो फर्टिलाइजर शुरू किया गया है। एम.एस.पी. के तहत 2.7 लाख करोड का वितरण किया जाएगा, डीबीटी (डायरेक्ट बेनेफिट ट्रांसफर) के तहत किसानों को 68 हजार करोड रूपए मिलेंगे। आर्गेनिक खेती को बढावा देने के लिए गंगा किनारे 5 किमी चौडे गलियारों में किसानों की जमीनों पर फोकस किया जाएगा। 2023 वर्ष को मोटा अनाज वर्ष घोषित किया गया है जिसमें सरकार तिलहनों, बाजरा, ज्वार, मक्का, रागी की गुणवत्ता, उनके प्रयोग व उत्पादन को बढावा देगी। 

मीडिया को सम्बोधित करते हुए सांसद ने कहा कि अब फसलों का आंकलन, भूमि रिकार्ड का डिजीटलकरण, कीटनाशकों एवं पोशक तत्वों का छिडकाव आदि खेती के लिए ड्रोन का प्रयोग किया जा सकेगा। वहीं केन-बेतवा लिंक परियोजना से किसानों को 9 लाख हैक्टेयर जमीनों की सिंचाई की सुविधा मिलेगी। जहां पीएम आवास के तहत 80 लाख नए घर बनाए जाएंगे,जिसके लिए 48 हजार करोड का आवंटन किया गया हैं। वहीं नेशनल डिजीटल हैल्थ इको सिस्टम के लिए ओपन प्लेटफार्म चालू किया जाएगा जिसमें चिकित्सा सुविधाओं का ऑनलाइन डिजीटल किया जाएगा। गुणवत्ता परामर्श के लिए नेशनल टेली मेंटल हैल्थ प्रोग्राम शुरू किये जाएंगे। 

आर्थिक ग्रोथ 9.2 प्रतिशत रहने की उम्मीद- 

प्रेस कांफ्रेंस के तहत मीडिया से रूबरू होते हुए सांसद दीयाकुमारी ने कहा कि पिछले सात साल में जीडीपी बढी है और अगले वित्त वर्ष में आर्थिक ग्रोथ 9.2 प्रतिशत रहने की उम्मीद है। बजट में प्राइवेट पार्टनरशिप इन्वेस्टमेंट पर जोर दिया गया है। आरबीआई डिजीटल करेंसी जारी करेगा। इनकम टैक्स नियमों में सुधार किये जाएंगे, आईटी रिटर्न को अपडेट करने के लिए टैक्सपेयर्स को मौका दिया गया है। सांसद ने कहा कि बजट में डिजीटल ट्रांजेक्शन की लागत कम करने पर फोकस किया गया है। स्टार्टअप में मार्च 2023 तक टैक्स में इंसेंटिव दिया गया है। 2022 में 5 जी स्पेक्ट्रम की नीलामी होगी। रिजॉल्यूशन को आसान करने के लिए आईबीआई कानून में बदलाव होगा। 

राज्य कर्मचारियों के लिए एनपीएस में छूट केन्द्र के बराबर- 

सांसद दीया ने बजट की खूबियां गिनाते हुए कहा कि एनपीएस में एम्प्लॉयर कन्ट्रीब्यूशन 10 प्रतिशत से बढ़ाकर 14 प्रतिशत किया गया है वहीं हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, जम्मू कश्मीर और पूर्वोत्तर राज्यों के दुर्गम पहाडी क्षेत्रों में परम्परागत सड़कों के विकल्प के तौर पर रोपवे डवलपमेंट प्रोग्राम ‘पर्वतमाला‘ चलाया जाएगा उद्यम, ई-श्रम , एनसीएस और असीम पोर्टल को आपस में जोड़ते हुए इनका दायरा बढ़ाया जाएगा।

किसानों के साथ ही हर घर जल-हर घर नल के तहत 3.8 करोड परिवारों को मिलेगा स्वच्छ जल- 

हर घर जल - हर घर नल के तहत 3.8 करोड परिवारों तक पहुंचने के लिए 60 हजार करोड रूपए का आवंटन किया गया है। केन-बेतवा प्रोजेक्ट के लिए 1400 करोड का आवंटन किया गया है जिसमें दमनगंगा- पिंजाल, पारतापी- नर्मदा, गोदावरी- कृष्णा, कृष्णा-पेन्नार और पेन्नार व कावेरी नदियों को जोड़ा जाएगा। जिसके तहत 9 लाख हैक्टेयर कृषि भूमि को जलापूर्ति होगी और पेयजल मिलेगा। नदियों के आपस में जुडने से हरियाली बढ़ेगी वहीं बाढ जैसी समस्याओं को भी रोका जा सकेगा।

रक्षा बजट को 10 प्रतिशत बढ़ाकर घरेलू बाजार को प्रोत्साहन- 

सांसद ने कहा कि रक्षा बजट में पूंजीगत खरीद को 58 प्रतिशत से बढ़ाकर 68 प्रतिशत किया गया है जो अब तक की रक्षा बजट में सबसे बड़ी वृद्धि हैं। रक्षा क्षेत्र में रिसर्च-डवलपमेंट के लिए 25 प्रतिशत के साथ उद्योगों, स्टार्टअप और शिक्षा जगत को भी इसमें खोला गया है। सांसद ने कहा कि सौर ऊर्जा को बढ़ावा देने के लिए 19500 करोड रूपए का अतिरिक्त आवंटन किया गया है। 

इन्फ्रास्ट्रक्चर के लिए बनेगा मास्टरप्लान- 

पीएम गतिशक्ति के तहत सड़क, रेलवे, एयरपोर्ट, पत्तन, सार्वजनिक परिवहन, जलमार्ग और लॉजिस्टिक अवसंरचना का राष्ट्रीय मास्टर योजना में मास्टर प्लान बनाया जाएगा जिसमें राज्य सरकारों के द्वारा पारित होने वाले इन्फ्रास्ट्रक्चर भी शामिल होंगे। 

प्रदुषण की रोकथाम के लिए ई-वाहनों को बढ़ावा दिया जाएगा- 

प्रदुषण की रोकथाम के लिए ई-वाहनों को बढ़ावा दिया जाएगा । इसमें चार्जिंग व बैटरी स्वैपिंग के साथ कनेक्टिविटी की व्यवस्था को बेहतरीन बनाया जाएगा। डेढ लाख से अधिक डाकघरों में डिजीटल बैंकिंग सुविधा शुरू की जाएगी, नई कम्पनियों के रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया में बदलाव किये जाएंगे ताकि कम्पनी रजिस्ट्रेशन की संख्या बढे, सीमा पर स्थित गांवों के पलायन को रोकने के लिए उनका विकास किया जाएगा, गिफ्ट सिटी में अन्तर्राष्ट्रीय आर्बिट्रेशन सेंटर खुलेगा। 400 नई वंदे भारत ट्रेन चलाई जाएगी। दिव्यांगों के माता-पिता को टैक्स में छूट दी गई है। 8 नए रोपवे बनाए जाएंगे। मोबाईल चार्जर, फोन, खेती का सामान, जूते, चप्पल, कपडा, चमडे का सामान सस्ता हुआ है। 25 हजार किमी हाईवे बनाए जाएंगे वहीं 2022 -23 में इम्बेडेट चिप का प्रयोग करके ई-पासपोर्ट जारी किये जाएंगे। वार्ता के दौरान कूम्भलगढ़ विधायक सुरेन्द्र सिंह राठौड़, जिलाध्यक्ष वीरेंद्र पुरोहित, मीडिया संयोजक मधुप्रकाश लड्ढा उपस्थित थे।

No comments:

Post a Comment

ज्योतिष हमारी वैदिक परंपरा का हिस्सा : राज्यपाल

राज्यपाल ने किया अंतर्राष्ट्रीय एस्ट्रोलॉजी कॉन्फ्रेंस का उद्घाटन जयपुर. यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्नोलॉजी और पाल बालाजी ज्योतिष संस्थान जयपुर जोधपु...