Monday, January 31, 2022

पर्यटन क्षेत्र को जीवित रखने के लिए लाभों की मांग रखी

जयपुर। पर्यटन क्षेत्र की ओर से फेडरेशन ऑफ हॉस्पिटैलिटी एंड टूरिज्म ऑफ राजस्थान (एफएचटीआर) के अध्यक्ष  अपूर्व कुमार ने शुक्रवार को राजस्थान के मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत को विस्तृत जानकारी दी, जिसमें उद्योग को बचाए रखने के लिए कई लाभों की मांग की गई। उन्होंने मुख्यमंत्री के सामने अपनी बात रखते हुए इस बात पर जोर दिया कि महामारी हमारे जीवन का एक हिस्सा बन गया है और यह हर वर्ष कम से कम 3 से 6 महीने के लिए पर्यटन को प्रभावित करेगा। इसलिए कोई भी पर्यटन नीति इस बात को ध्यान में रखते हुए तैयार की जानी चाहिए और उद्योग पर कोई भी निश्चित राजकोषीय बोझ नहीं डाला जाना चाहिए। कुमार ने कहा कि महामारी से सबसे अधिक प्रभाव औपचारिक और अनौपचारिक दोनों क्षेत्रों में, पर्यटन क्षेत्र पर पड़ा है। उन्होंने मुख्यमंत्री से पर्यटन को बिजली और संपत्ति कर की औद्योगिक दर देने का आग्रह किया, क्योंकि पर्यटन को 1989 में पहले ही उद्योग घोषित कर दिया गया था। यह न केवल मौजूदा निवेशकों को बनाए रखने में मदद करेगा बल्कि इस क्षेत्र में नए निवेश भी लाएगा, क्योंकि जब इसकी सबसे अधिक आवश्यकता होगी, तब राजस्थान को पर्यटन को आवश्यक सहायता देने वाले पहले राज्य के रूप में पहचाना जाएगा। एफएचटीआर के अध्यक्ष  अपूर्व कुमार ने कम से कम 3 साल की अवधि के लिए शहरी विकास कर के लिए संपत्ति कर/पट्टा किराए में छूट देने का भी प्रस्ताव रखा। इसी प्रकार होटल यूनिट्स को हुए भारी नुकसान को देखते हुए बार लाइसेंस फीस 75 फीसदी कम की जाए। गौरतलब है कि 2021-22 में बार लाइसेंस फीस 25 फीसदी कम की गई थी। उद्योग बिजली के फिक्सड चार्जेस और बिजली शुल्क में भी राहत चाहता है। इसके साथ ही यह राजस्थान सूक्ष्म, लघु व मध्यम उद्यम आर्डिनेन्स 2019 के तहत बिना किसी शुल्क के परमिशन के तीन साल के विस्तार की भी मांग करता है। इसके अलावा, उन्होंने फिल्म शूटिंग और एमआईसीई इवेंट्स के लिए पर्यटन उद्योग को इन्सेंटिव्स देने की मांग की। साथ ही, स्टेट हेरिटेज टूरिज्म को बढ़ावा देने के लिए हेरिटेज स्थलों पर परफॉर्मेंस, फिल्मों की शूटिंग और इवेंट्स के लिए लाइसेंस शुल्क में छूट की भी मांग की। इसी तरह, उन्होंने ग्रामीण क्षेत्रों में हेरिटेज होटल स्थापित करने के लिए कैपिटल सब्सिडी की भी अपील की। उन्होंने 21 अक्टूबर से 29 सितंबर 22 की अवधि के लिए टूरिस्ट लक्जरी कोचों पर मोटर वाहन कर की छूट का अनुरोध किया क्योंकि वास्तविक रूप से व्यवसाय बंद हो गया है।

No comments:

Post a Comment

इस्कान मंदिर में गीता जयंती हर्षोल्लास से मनाई गई

जयपुर। इस्कॉन, श्री श्री गिरिधारी दाऊजी मन्दिर, मानसरोवर, जयपुर में 3 दिसंबर को गीता जयंती का कार्यक्रम बड़े हर्सोल्लास से मनाया गया। ओम प्र...