Tuesday, January 25, 2022

डेल्हीवरी लिमिटेड को वित्तीय 2026 तक एक्सप्रेस पार्सल डिलीवरी बाजार में 28-32 प्रतिशत सीएजीएआर वृद्धि की उम्मीद इस बढ़ोतरी का लाभ उठाने के लिए कंपनी तैयार

वित्त वर्ष 2021 और वित्तीय वर्ष 2022 की पहली तिमाही तक  वॉल्यूम और राजस्व के हिसाब से भारत में सबसे बड़ी और सबसे तेजी से बढ़ती 3पीएल एक्सप्रेस पार्सल (और भारी पार्सल) डिलीवरी कंपनी डेल्हीवरी लिमिटेड ने एक्सप्रेस पार्सल सेगमेंट में विकास के अवसरों का लाभ उठाने के लिए अच्छी तैयारी की है। कंपनी का अनुमान है कि एक्सप्रेस पार्सल खंड 28-32 प्रतिशत सीएजीआर की दर से बढ़ सकता है और वित्त वर्ष 2026 तक इसके 10-12 बिलियन अमेरिकी डॉलर तक पहुंचने की संभावना है, जबकि वित्त वर्ष 2020 के दौरान यह बाजार 2.3 बिलियन अमेरिकी डॉलर का ही था।

वित्त वर्ष 2022 की पहली तिमाही के लिए डेल्हीवरी की कुल ई-कॉमर्स वॉल्यूम (कैप्टिव प्लेयर्स सहित) का मार्केट शेयर 20 प्रतिशत था। कंपनी के अनुसार ई-कॉमर्स वॉल्यूम में बढ़ोतरी के पीछे अनेक कारण हैं, जिनमें प्रमुख हैं- भारत की प्रति व्यक्ति आय में वृद्धि, मध्यम-आय वर्ग में वृद्धि, कामकाजी उम्र की आबादी के बदलते आंकड़े जैसे कि मिलेनियल्स और जेनरेशन जेड, कम लागत वाले स्मार्टफोन और विश्वसनीय इंटरनेट कनेक्टिविटी के साथ-साथ बढ़ते ऑनलाइन शॉपर्स और ई-कॉमर्स मार्केटप्लेस। ये ऐसे कारक हैं, जिन्होंने डेल्हीवरी के बिजनेस के लिए प्रमुख ग्रोथ ड्राइवर की भूमिका निभाई है।

ई-कॉमर्स के प्रति बढ़ते रुझान और तेज डिलीवरी के लिए ग्राहकों की बढ़ती अपेक्षाओं के कारण एक्सप्रेस डिलीवरी सेगमेंट में तेजी से बढ़ोतरी हुई है। भारत में ई-कॉमर्स उद्योग में वित्त वर्ष 2018 से वित्त वर्ष 2020 तक 31 प्रतिशत की वृद्धि हुई और वित्त वर्ष 2020 से वित्तीय वर्ष 2026 तक इसके 30-33 प्रतिशत बढ़ने का अनुमान है। वित्त वर्ष 2020 में कुल ई-कॉमर्स की मात्रा 1.5 बिलियन शिपमेंट होने का अनुमान लगाया गया था, जिसके 32-35 प्रतिशत सीएजीआर की दर के साथ वित्तीय वर्ष 2026 तक 8-9 बिलियन तक पहुंचने की उम्मीद है।

कंपनी ने निगमन के बाद से 1 बिलियन से अधिक एक्सप्रेस पार्सल शिपमेंट वितरित किए हैं। कंपनी का शिपमेंट वॉल्यूम वित्त वर्ष 2019 में 148.49 मिलियन ऑर्डर से बढ़कर वित्त वर्ष 2021 में सालाना आधार पर 289.20 मिलियन ऑर्डर हो गया, जो 40 प्रतिशत के सीएजीआर को दर्शाता है। 30 जून, 2021 को समाप्त तिमाही में, कंपनी ने 101.69 मिलियन शिपमेंट वितरित किए।

30 जून, 2021 को समाप्त तिमाही में 18,600 सक्रिय ग्राहकों ने कंपनी की एक्सप्रेस पार्सल डिलीवरी सेवाओं का उपयोग किया है। कंपनी के ग्राहकों में ई-कॉमर्स मार्केटप्लेस, वर्टिकल ई-कॉमर्स रिटेलर्स, डी2सी ब्रांड, ओमनी-चैनल रिटेलर्स, एसएमई, बैंक और वित्तीय संस्थान शामिल हैं।

डेल्हीवरी एक्सप्रेस पार्सल डिलीवरी नेटवर्क ने 30 जून, 2021 को समाप्त छमाही में 17,045 पिन कोड पर अपनी सेवाएं प्रदान की और इस तरह 30 जून, 2021 तक देश के कुल 19,300 पिन कोड के 88.3 प्रतिशत हिस्से को कवर किया। कंपनी 10 किलोग्राम तक के पार्सल को उसी दिन और अगले दिन पहंुचाने में सक्षम है और लंबी दूरी के ऑर्डर के लिए 48-96 घंटे में डिलीवरी करने में सक्षम है।

कंपनी गुणवत्ता निरीक्षण और प्रोडक्ट रिप्लेसमेंट सर्विसेज के साथ रिटर्न के लिए रिवर्स लॉजिस्टिक्स जैसी वैल्यू एडेड सेवाएं भी प्रदान करती है। कंपनी व्यक्ति-विशिष्ट डिलीवरी की सेवा भी प्रदान करती है, जिसमें व्यक्ति की पहचान को मान्य करने के बाद एक निर्दिष्ट व्यक्ति को डिलीवरी की जाती है, साथ ही किसी खास पते पर डिलीवरी की सेवा भी शामिल है, जिसमें शिपर (प्राप्तकर्ता नहीं) द्वारा निर्दिष्ट पते पर डिलीवरी शामिल है। इसके अलावा, किसी खास समय से संबंधित विशिष्ट डिलीवरी की सेवाएं भी हैं, जिनमें प्राप्तकर्ता द्वारा प्रदान किए गए समय स्लॉट के भीतर डिलीवरी शामिल है। डिलीवरी के दौरान भुगतान के लिए नकद और तरीकों से भुगतान की सुविधा भी उपलब्ध है।

No comments:

Post a Comment

ज्योतिष हमारी वैदिक परंपरा का हिस्सा : राज्यपाल

राज्यपाल ने किया अंतर्राष्ट्रीय एस्ट्रोलॉजी कॉन्फ्रेंस का उद्घाटन जयपुर. यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्नोलॉजी और पाल बालाजी ज्योतिष संस्थान जयपुर जोधपु...