Saturday, January 15, 2022

एजीएस ट्रांजैक्ट टेक्नोलॉजीज लिमिटेड का आईपीओ 19 जनवरी, 2022 को खुलेगा

मुंबई, 15 जनवरी, 2022: एजीएस ट्रांजैक्ट टेक्नोलॉजीज लिमिटेड ("एजीएस" या "कंपनी”), ने अपने आरंभिक सार्वजनिक निर्गम ("ऑफर”) को 19 जनवरी, 2022 को खोलने का प्रस्ताव दिया है।

ऑफ़र का प्राइस बैंड ₹10 प्रत्येक के अंकित मूल्य पर ₹166 से ₹175 प्रति इक्विटी शेयर निर्धारित किया गया है ("इकिटी शेयर”)। न्यूनतम 85 इक्विटी शेयर और उसके बाद 85 इक्विटी शेयरों के गुणकों में बोली लगाई जा सकती है

इस ऑफर में एजीएस ट्रांजैक्ट टेक्नोलॉजीज लिमिटेड के ₹10 के अंकित मूल्य के इक्विटी शेयर शामिल हैं, जो कुल मिलाकर ₹6,800 मिलियन ("ऑफर”) के हैं, जो ऑफर फॉर सेल के जरिए उपलब्ध कराये जा रहे हैं जिसमें श्री रवि बी. गोयल (“प्रमोटर सेलिंग शेयरधारक”) के ₹6,775.80 मिलियन इक्विटी शेयर, श्री वीसी गुप्ते के ₹7.63 मिलियन के इक्विटी शेयर्स, श्री शैलेश शेट्टी के ₹ 5.97 मिलियन के इक्विटी शेयर्स, श्री राकेश कुमार के ₹4.64 मिलियन के इक्विटी शेयर्स, श्री निखिल पटियात के ₹ 2.98 मिलियन तक के इक्विटी शेयर और श्री राजेश हर्षदराय शाह के ₹ 2.98 मिलियन तक के इक्विटी शेयर (सामूहिक रूप से, “अन्य विक्रेता शेयरधारक”) शामिल हैं।

यह ऑफर प्रतिभूति संविदा (विनियमन) नियम, 1957 के नियम 19(2)(बी) के अनुसार संशोधित ("एससीआरआर”), जिसे सेबी आईसीडीआर विनियमों के विनियम 31 के साथ पढ़ा जाये, के शर्तों के अनुसार और सेबी आईसीडीआर विनियमों के विनियम 6(1) के अनुपालन में बुक बिल्डिंग प्रक्रिया के जरिए उपलब्ध कराये जा रहे हैं जिसमें प्रस्ताव का 50% से अनधिक का आवंटन योग्य संस्थागत खरीदारों को आनुपातिक आधार पर किया जाएगा ("क्यूआईबी”) (“क्यूआईबी भाग”), बशर्ते कि कंपनी और प्रमोटर, विक्रेता शेयरधारक, बीआरएलएम के परामर्श से, सेबी आईसीडीआर विनियमों (“एंकर निवेशक भाग”) के अनुसार अपने विवेकानुसार क्यूआईबी का 60% तक एंकर निवेशकों को आवंटिक्त कर सकते हैं, जिनमें से एक-तिहाई केवल घरेलू म्युचुअल फंड के लिए आरक्षित होंगे, बशर्ते कि एंकर निवेशक आवंटन मूल्य पर या उससे ऊपर घरेलू म्यूचुअल फंड से वैध बोलियां प्राप्त हों। आगे, क्यूआईबी भाग का 5% (एंकर निवेशक भाग को छोड़कर) आनुपातिक आधार पर केवल म्यूचुअल फंड को आवंटन के लिए उपलब्ध होगा, और शेष क्यूआईबी भाग, म्यूचुअल फंड्स सहित सभी क्यूआईबी बोलीदाताओं को आनुपातिक आधार पर आवंटन के लिए उपलब्ध होगा (एंकर निवेशकों को छोड़कर), बशर्ते वैध बोलियाँ ऑफर मूल्य पर या इससे ऊपर प्राप्त हों। हालांकि, अगर म्यूचुअल फंड से कुल मांग क्यूआईबी हिस्से के 5% से कम है, तो म्यूचुअल फंड हिस्से में आवंटन के लिए उपलब्ध शेष इक्विटी शेयरों को क्यूआईबी के आनुपातिक आवंटन के लिए शेष क्यूआईबी हिस्से में जोड़ा जाएगा।

इसके अलावा, ऑफर का कम से कम 15% गैर-संस्थागत बोलीदाताओं के लिए आनुपातिक आधार पर आवंटन के लिए उपलब्ध होगा और प्रस्ताव का कम से कम 35% खुदरा व्यक्तिगत बोलीदाताओं को आवंटन के लिए उपलब्ध होगा, बशर्ते ऑफर मूल्य या इससे अधिक पर वैध बोलियाँ प्राप्त हों। एंकर निवेशकों के अलावा सभी संभावित बोलीदाताओं को अपने संबंधित एएसबीए खातों और यूपीआई आईडी (खुदरा व्यक्तिगत बोलीदाताओं के मामले में) का विवरण प्रदान करके, जैसा भी लागू हो, एप्लिकेशन सपोर्टेड बाय ब्लॉक्ड एमाउंट ("एएसबीए") प्रक्रिया का अनिवार्य रूप से उपयोग करना होगा, जिसमेंस्व-प्रमाणित सिंडिकेट बैंकों ("एससीएसबी") या यूपीआई तंत्र के तहत, जैसा लागू हो, प्रस्ताव में भाग लेने के लिए संबंधित बोली राशि को अवरुद्ध कर दिया जाएगा। एंकर निवेशकों को एएसबीए प्रक्रिया के माध्यम से एंकर निवेशक हिस्सा में भाग लेने की अनुमति नहीं है।

इस ऑफर में पेश किए गए इक्विटी शेयरों को बीएसई लिमिटेड ("बीएसई”) और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज ऑफ इंडिया लिमिटेड (“एनएसई”, बीएसई के साथ, “स्टॉक एक्सचेंजों”) पर सूचीबद्ध किये जाने का प्रस्ताव है।

No comments:

Post a Comment

आईसीआईसीआई डायरेक्ट ने लॉन्च किया आईसीआईसीआई डायरेक्ट आई लर्न

मुंबई - 1 जुलाई, 2022- विभिन्न वित्तीय सेवाओं के लिए एक डिजिटल प्लेटफॉर्म आईसीआईसीआई डायरेक्ट का संचालन करने वाली कंपनी आईसीआईसीआई सिक्योरिट...