Thursday, December 23, 2021

एसके फाइनेंस ने आईआईएफएल वेल्थ और अन्य नए निवेशकों से जुटाई इक्विटी पूंजी

23 दिसंबर, 2021 : एसके फाइनेंस ने हाल ही में अपनी सीरीज एफ के जरिये फंड जुटाने का काम पूरा किया और इस दौरान कंपनी ने आईआईएफएल वेल्थ और अन्य नए निवेशकों से संचयी रूप से लगभग 400 करोड़ रुपए जुटाए। इस पूंजी के साथ कंपनी ने अब तक कुल मिलाकर छह निवेशकों से लगभग 1,400 करोड़ रुपए जुटाए हैं। एसके फाइनेंस जयपुर स्थित एक एनबीएफसी है, जिसे 1994 में निगमित किया गया था और जिसे पहले एस के फिनकॉर्प के नाम से जाना जाता था। एसके फाइनेंस भारतीय मिड-मार्केट स्पेस में सबसे बड़ी और व्यवस्थित रूप से महत्वपूर्ण गैर-जमा स्वीकार करने वाली परिसंपत्ति वित्त खुदरा फ्रेंचाइजी में से एक है। कंपनी को टीपीजी ग्रोथ, नॉरवेस्ट वेंचर पार्टनर्स, बैरिंग्स इंडिया और इवॉल्वेंस इंडिया फंड सहित मार्की निवेशकों का सपोर्ट हासिल है।

एसके फाइनेंस वाणिज्यिक वाहन, कृषि और निर्माण उपकरण, यात्री वाहन, दोपहिया और लघु व्यवसाय ऋण सहित पांच अलग-अलग प्रोडक्ट सेगमेंट्स के लिए फाइनेंस की सुविधा प्रदान करती है। अपने फोकस भौगोलिक क्षेत्रों में कंपनी बाजार में अग्रणी स्थिति में है। 390 शाखाओं के व्यापक वितरण नेटवर्क और एक स्थायी मंच के माध्यम से 10 राज्यों में कंपनी की गहरी पैठ है। कंपनी ने उत्तर, पश्चिम और मध्य भारत में ग्रामीण और अर्ध-शहरी बाजारों में गहरे वितरण नेटवर्क के साथ ऑन-ग्राउंड सेल्स, अंडरराइटिंग और कलेक्शन इन्फ्रास्ट्रक्चर के माध्यम सेएक विशिष्ट स्थान बनाया है। इस तरह कंपनी ने ऐसे ग्राहकों की जरूरतों को पूरा किया है, जो या तो सेवाओं से वंचित हैं अथवा जिन्हें ऐसी बहुत कम सेवाएं उपलब्ध हैं। 30 सितंबर, 2021 तक, एसके फाइनेंस के पास लगभग 220,000 लोगों का सक्रिय उधारकर्ता आधार था और कंपनी के पास लगभग 4,100, करोड़ रुपए की प्रबंधन के तहत संपत्ति थी।

सबसे पुरानी एनबीएफसी में से एक होने के नाते एसके फाइनेंस ने पिछले कुछ वर्षों में कई बाहरी घटनाओं के कारण कारोबारी माहौल में कई उतार-चढ़ाव और व्यवधान देखे हैं। कंपनी ने ग्रोथ और एसेट क्वालिटी दोनों स्तरों पर अच्छा प्रदर्शन करना जारी रखा है। साथ ही, पिछले सात वर्षों में बेहतर एसेट क्वालिटी और रिटर्न प्रोफाइल को कायम रखते हुए लोन बुक में 40 प्रतिशत की सीएजीआर बढ़ोतरी हासिल की है।

एसके फाइनेंस के मैनेजिंग डायरेक्टर और सीईओ राजेंद्र सेतिया ने कहा, ‘‘आईआईएफएल एएमसी और अन्य नए निवेशकों का हम एसके परिवार में स्वागत करते हैं। वर्तमान निवेश कंपनी को अपनी विकास यात्रा को जारी रखने और वर्षों में निर्मित अग्रणी स्थिति को और मजबूत बनाने के लिहाज से मददगार साबित होगा। कंपनी के प्रति निरंतर सपोर्ट और विश्वास जताने के लिए हम अपने मौजूदा निवेशकों के आभारी हैं। 55 से अधिक लेंडिंग पार्टनर्स के साथ हमारे नए और मौजूदा निवेशकों का सपोर्ट मिलने से निश्चित तौर पर हमारी बैलेंस शीट और विकास योजनाओं को जबरदस्त मजबूती मिलेगी, क्योंकि हम अपने सभी हितधारकों के लिए वैल्यू क्रिएट करने को लेकर प्रतिबद्ध हैं।’’

इक्विटी पूंजी जुटाने की प्रक्रिया में स्पार्क कैपिटल ने कंपनी के वित्तीय सलाहकार के रूप में काम किया।

 

No comments:

Post a Comment

जेकेके में महाकाव्य महाभारत पर आधारित नाटक 'उरूभंगम' का हुआ मंचन

जयपुर।  जवाहर कला केंद्र (जेकेके) के  रंगायन  में पाक्षिक नाट्य योजना के तहत रंग साधना थिएटर ग्रुप, जयपुर द्वारा शनिवार शाम को नाटक 'उरू...