Saturday, December 4, 2021

विनोद दुआ जुझारू पत्रकार होने के साथ जिंदा दिल इंसान भी थे : अजय खरे

-उनके निधन से निर्भीक स्वतंत्र निष्पक्ष पत्रकारिता को भारी क्षति हुई है

रीवा . समाजवादी जन परिषद , नारी चेतना मंच और विंध्यांचल जन आंदोलन की एक संयुक्त प्रेस विज्ञप्ति में प्रख्यात पत्रकार विनोद दुआ के निधन पर गहरा दुख व्यक्त किया है । समाजवादी जन परिषद के नेता अजय खरे , नारी चेतना मंच की वरिष्ठ नेत्री श्वेता पांडे एवं नारी चेतना मंच की अध्यक्ष सुशीला मिश्रा ने दिवंगत दिग्गज पत्रकार विनोद दुआ को विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए कहा है कि उन्होंने अपनी वाणी , कर्म और लेखनी से पत्रकारिता के मूल धर्म का बखूबी निर्वाह किया। सरकार को आईना दिखाने के काम में वह कभी पीछे नहीं रहे और जीवन पर्यंत समझौता नहीं किया । उनके निधन से निर्भीक , स्वतंत्र , निष्पक्ष पत्रकारिता को भारी क्षति हुई है । दूरदर्शन और एनडीटीवी जैसे संस्थान में काम कर चुके विनोद दुआ हिंदी पत्रकारिता की जानी-मानी हस्ती रहे , लेकिन इस साल जब वो कोरोना संक्रमित हुए , तभी से उनका स्वास्थ्य ठीक नहीं चल रहा था । इस दौरान जून में उनकी पत्नी पद्मावती 'चिन्ना' दुआ का निधन हो गया था। देश के वर्तमान परिवेश को लेकर विनोद दुआ की गहरी चिंता उनकी टीवी परिचर्चा पर स्पष्ट दृष्टिगोचर होती थी । गंभीर चिंतन एवं विश्लेषण के जरिए उनकी बातें काफी प्रभावी रहती थीं । उनकी परिचर्चा सुनने देखने में बहुत अच्छा लगता था । वह एक सच्चे देशभक्त सुलझे हुए जिंदादिल इंसान और जुझारू पत्रकार थे। 5 माह पहले पत्नी चिन्ना का इस दुनिया से चले जाने का विछोह और फिर 67 वर्ष की उम्र में कोरोना से जंग लड़ना विनोद दुआ जी के लिए काफी मुश्किल हो गया । दुनिया भर से बड़ी संख्या में लोगों ने उनके दीर्घायु स्वस्थ जीवन के लिए प्रार्थना की । आखिरकार शरीर ने उनका साथ नहीं दिया । अब उनकी पावन स्मृतियां शेष हैं , जो आने वाली पीढ़ी के लिए आदर्श पत्रकारिता और जिंदादिल इंसान का संदेश देती रहेंगी । विनोद दुआ जैसे एक सच्चे इंसान का इस तरह दुनिया से चले जाने से मन काफी भारी है । उनकी आत्मा को शांति मिले और अभिनेत्री कॉमेडियन उनकी पुत्री मल्लिका दुआ , सभी परिजनों , करीबियों , शुभचिंतकों और इष्ट मित्रों को इस अपार दुख सहने की क्षमता मिले ऐसी प्रार्थना है ।

No comments:

Post a Comment

जेकेके में महाकाव्य महाभारत पर आधारित नाटक 'उरूभंगम' का हुआ मंचन

जयपुर।  जवाहर कला केंद्र (जेकेके) के  रंगायन  में पाक्षिक नाट्य योजना के तहत रंग साधना थिएटर ग्रुप, जयपुर द्वारा शनिवार शाम को नाटक 'उरू...