Saturday, December 4, 2021

सोमवार को बिहार की प्रसिद्ध खत्वा कला पर वर्कशॉप का होगा आयोजन



-सेलिब्रेटिंग इंडिया एट 75 के तहत आयोजित

-आर्टिस्ट कम्यूनिटी ‘द सर्किल‘ के लिये निःशुल्क

-रूफटॉप ऐप पर जुडेंगे देश भर के कलाकार
-गुजरात के प्रतिष्ठित कलाकार कार्तिक चौहान करेंगे वर्कशॉप का संचालन
जयपुर: भारत एवं राजस्थान की आर्टिस्ट कम्यूनिटी ‘द सर्किल‘ के लिये सोमवार, 6 दिसम्बर को दोपहर 3 बजे बिहार की प्रसिद्ध खत्वा कला (एप्लिक पैच वर्क) का निःशुल्क आयोजन रूफटॉप ऐप पर किया जायेगा। वर्कशॉप का आयोजन आजादी का अमृत महोत्सव - सेलिब्रेटिंग इंडिया एट 75 के तहत राजस्थान स्टूडियों की सहायता से किया जा रहा है। इस वर्कशॉप का संचालन गुजरात के प्रतिष्ठित कलाकार कार्तिक चौहान करेंगे। कार्तिक चौहान का परिवार भारत-पाकिस्तान विभाजन के दौरान सिंध से जामनगर में आ कर बस गया था। विस्थापन के समय उनके पास उनके पूर्वजों द्वारा सिखाये गये एप्लिक प्राचीन शिल्प कला के अतिरिक्त कुछ नहीं था। कार्तिक गत 15 वर्षों से एप्लिक कला में कार्यरत महिला कारीगरों के सशक्तिकरण के लिए जमीनी स्तर पर विभिन्न क्लस्टर डवलपमेंट कार्यक्रमों और कार्यशालाओं से जुडे़ हुए है। वे कारीगरों के विकास और समृद्धि के लिए अंतरराष्ट्रीय व्यापार में अवसर तलाशने और समृद्ध मंच उपलब्ध कराने पर भी कार्यरत हैं। बिहार में एप्लीक पैच वर्क खत्वा कला के नाम से प्रसिद्ध है। इस कला में एक कपड़े को डिजाइन के अनुसार काटकर दूसरे कपड़े पर सिलाई करके खूबसूरती से सुसज्जित किया जाता है। इसमें रोजमर्रा के दृश्यों का चित्रण किया जाता है। इस कला पर आधारित वॉल हैंगिंग, बेडस्प्रेड, मेज़पोश, कुशन कवर, बोल्स्टर कवर और व्किल्टस् काफी लोकप्रिय हैं।

No comments:

Post a Comment

जेकेके में महाकाव्य महाभारत पर आधारित नाटक 'उरूभंगम' का हुआ मंचन

जयपुर।  जवाहर कला केंद्र (जेकेके) के  रंगायन  में पाक्षिक नाट्य योजना के तहत रंग साधना थिएटर ग्रुप, जयपुर द्वारा शनिवार शाम को नाटक 'उरू...