Tuesday, December 21, 2021

उत्तर पश्चिम रेलवे ने 419 स्टेशनों पर मुफ्त हाई स्पीड वाई-फाई इंटरनेट की सुविधा उपलब्ध करवाई

आशा पटेल

जयपुर / वर्तमान युग में इंटरनेट के बढते उपयोग को देखते हुये भारतीय रेलवे अपनी पहल से डिजीटल इंडिया की मुहिम को साकार करने के लिए डिजीटल प्रयासों को प्रारम्भ करने में अग्रणी भूमिका का निर्वहन कर रहा है। रेलवे द्वारा सूचना प्रौद्योगिकी के उपयोग के माध्यम से यात्री सुविधाओं में उल्लेखनीय वृद्धि को दर्ज किया है। रेलवे द्वारा राष्ट्रीय ट्रेन पूछताछ प्रणाली और यात्री आरक्षण प्रणाली में उल्लेखनीय व उपयोगी बदलाव कर यात्रियों को सुखद यात्रा अनुभव प्रदान किये जा रहे हैं। भारतीय रेलवे, यात्रियों को रेलवे स्टेशनों पर इंटरनेट सुविधा प्रदान करने के उद्देश्य से वाई-फाई नेटवर्क कनेक्टिविटी की सुविधा उपलब्ध करवा कर डिजीटल युग की ओर अग्रणी भूमिका अग्रसर हो रही है।यात्रियों की सुविधा तथा इंटरनेट के उपयोग को देखते हुये उत्तर पश्चिम रेलवे पर 419 स्टेशनों पर मुफ्त हाई स्पीड वाई-फाई (Wi-Fi) सुविधा उपलब्ध करवाई गई है। उत्तर पश्चिम रेलवे का लक्ष्य सभी 586 स्टेशनों पर मुफ्त हाई स्पीड वाई-फाई सुविधा प्रदान करने का है। उत्तर पश्चिम रेलवे पर मण्डल अनुसार वाई-फाई सुविधायुक्त स्टेशनों की संख्या निम्न प्रकार है-
जयपुर मण्डलः 89 स्टेशन
जोधपुर मण्डलः 120 स्टेशन
अजमेर मण्डलः 86 स्टेशन
बीकानेर मण्डलः 124 स्टेशन
डिजिटल इंडिया की इस उल्लेखनीय पहल को सम्पूर्ण भारतीय रेलवे पर स्थापित करने की जिम्मेदारी रेलवे मिनी रत्न उपक्रम “रेलटेल“ को प्रदान की गई है। रेलटेल द्वारा अपने निरन्तर और अथक प्रयासो से रेलवायर के नाम से उच्च स्तरीय वाई-फाई  सुविधा उपलब्ध करवाई जा रही है। रेलटेल ने अब तक सम्पूर्ण भारत में 6070 से अधिक रेलवे स्टेशनों पर इस सुविधा को स्थापित किया है।उत्तर पष्चिम रेलवे द्वारा स्टेशनों पर उपलब्ध वाई-फाई सुविधा की पहुंच को अधिकाधिक यात्रियों तथा आमजन तक बढ़ाने के लिये जागरूकता अभियान चलाये जाते है। इसके अतिरिक्त सोशल मीडिया, स्टेशनों पर निरन्तर उद्घोषणा, होर्डिंग्स, बैनर और पोस्टर के माध्यमों से भी यात्रियों को वाई-फाई सुविधा के उपयोग के बारे में जानकारी प्रदान की जाती है।रेलटेल द्वारा प्रदत रेलवायर दुनिया के सबसे बड़े और सबसे तेज वाई-फाई नेटवर्क में सम्मलित है। भारतीय रेलवे का लक्ष्य अपने सभी रेलवे स्टेशनों (हॉल्ट को छोड़कर) पर तीव्र गति युक्त मुफ्त वाई-फाई सुविधा प्रदान करने का है जिस पर कार्य किया जा रहा है। भारतीय रेलवे पर स्थापित स्टेशनों की पहचान है कि यहां सामाजिक आवागमन निरन्तर होता है। आधुनिकीकरण की बढते कदम और स्मार्ट फोन के उपयोग में कई गुना वृद्धि ने ’डिजिटल इंडिया’ मुहिम को महत्वपूर्ण स्थान दिया है। रेल बजट-2015 में स्टेशनों पर मुफ्त वाई-फाई इंटरनेट सुविधा प्रदान करने को परिकल्पित किया गया, जिसका उद्देश्य पूरे भारत में रेलवे स्टेशनों पर मुफ्त वाई-फाई की सुविधा प्रदान करना था जिसमें दूरदराज के गांवों में स्थित छोटे स्टेशन भी शामिल हैं।
आमजन द्वारा नियमित आवागमन वाले स्टेशनों पर इस सुविधा का उपयोग हाई डेफिनिशन (एचडी) वीडियो स्ट्रीमिंग, मूवी, गाने, गेम डाउनलोड करने और अपने कार्यालय ऑनलाइन काम करने के लिए कर सकते हैं। दूरस्थ स्थानों पर निवास करने वाले छात्र, विशेष रूप से प्रतियोगी परीक्षाओं जैसे यूपीएससी, आरआरबी, आरआरसी और एसएससी की तैयारी के लिए स्टेशन पर उपलब्ध वाई-फाई के माध्यम से इंटरनेट सुविधा का उपयोग कर रहे हैं। यात्री भी इस सुविधा का उपयोग अपने मोबाइल तथा लेपटॉप पर मनोरंजन, शिक्षण तथा अन्य कार्यो के लिये भी कर रहे हैं। उत्तर पश्चिम रेलवे के प्रमुख स्टेशनों जयपुर, अजमेर, बीकानेर, जोधपुर, रेवाडी, उदयपुर, गांधीनगर जयपुर, आबूरोड पर यात्रियों का फीडबैक इस सुविधा के बेहतर इंटरनेट कनेक्टिविटी, निर्बाध डेटा एक्सेस और अनुभव का संकेत प्रदान करता है। रेलवे स्टेशनों पर उपलब्ध रेलवायर वाई-फाई सुविधा उपयोगकर्ता के अनुकूल है। वाई-फाई कनेक्शन को प्रारम्भ करने के लिए, यात्रियों को वाई-फाई विकल्पों को स्कैन कर रेलवायर ऑप्सन चुनना होता है तथा ब्राउज़र उपयोगकर्ता को रेलवायर पोर्टल पर ले जाता है, उस समय मोबाइल नंबर रजिस्टर्ड होगा, जिस पर वन टाइम पासवर्ड (ओटीपी) आयेगा। एक बार कनेक्ट होने के बाद, वाई-फाई कनेक्शन 30 मिनट तक स्थापित रहता है, इससे रेल यात्रियों को रेलवे की जानकारी से जुड़े रहने और अपडेट रहने में मदद मिलती है। रेलवे द्वारा उपलब्ध वाई-फाई प्रतिदिन 1 एमबीपीएस की स्पीड से बढाने के लिए, उपयोगकर्ता को कुछ शुल्क देकर उच्च गति वाला प्लान चुना जा सकता है, ऑनलाइन प्लान खरीदने के लिए नेट बैंकिंग, वॉलेट, क्रेडिट कार्ड जैसे कई भुगतान विकल्पों का उपयोग किया जा सकता है।भारतीय रेलवे और रेलटेल की इस पहल ने यात्रियों तथा आमजन को डिजिटल प्रौद्योगिकी के लाभों को प्राप्त करने का मार्ग प्रशस्त किया है। जिसमें यह सुनिष्चित किया जा रहा है कि डिजीटल इण्डिया में रेलवे स्टेशनों पर आमजन रेलवायर द्वारा प्रदान की जा रही उच्च तकनीकयुक्त मुफ्त वाई-फाई माध्यम से इंटरनेट सुविधा का लाभ उठा रहे हैं।

No comments:

Post a Comment

जेकेके में महाकाव्य महाभारत पर आधारित नाटक 'उरूभंगम' का हुआ मंचन

जयपुर।  जवाहर कला केंद्र (जेकेके) के  रंगायन  में पाक्षिक नाट्य योजना के तहत रंग साधना थिएटर ग्रुप, जयपुर द्वारा शनिवार शाम को नाटक 'उरू...