Friday, December 3, 2021

ट्रांसयूनियन सिबिल को ग्रेट प्लेस टू वर्क की ओर से महिलाओं के लिए 2021 में भारत के सर्वश्रेष्ठ कार्यस्थलों में से एक के रूप में मिली मान्यता (शीर्ष 50 - मध्यम आकार की कंपनियां)

मुंबई, 03 दिसंबर दिसंबर 2021: ट्रांसयूनियन सिबिल को ग्रेट प्लेस टू वर्क इंडिया द्वारा महिलाओं के लिए 2021 में भारत के शीर्ष 50 सर्वश्रेष्ठ कार्यस्थलों में से एक (मध्यम आकार की कंपनियों की श्रेणी) के रूप में मान्यता दी गई है। ट्रांसयूनियन सिबिल ने सफलतापूर्वक अपने सभी कर्मचारियों के लिए एक ऐसी महान कार्यस्थल संस्कृति का निर्माण किया है, जिसमें कर्मचारी 5 विशिष्ट आयामों में अपना उत्कृष्ट प्रदर्शन करते हैं। ये हैं- विश्वसनीयता, सम्मान, निष्पक्षता, गौरव और सौहार्द।

ट्रांसयूनियन सिबिल कर्मचारियों के जीवन के हर चरण में विविधता, समानता और समावेश को आगे बढ़ाने के लिए प्रतिबद्ध है। संगठन के वैश्विक कर्मचारी संसाधन समूहों में से एक- ट्रांसयूनियन सिबिल में वीमैन नेटवर्क रिसोर्स ग्रुप (डब्ल्यूएनआरजी) एक मजबूत और अधिक विविध कार्यबल बनाने का प्रयास करता है। साथ ही यह ग्रुप संगठन में महिलाओं के विकास और उनके लिए नेतृत्व के अवसर उपलब्ध कराने के लिए उन्हें शिक्षित करता है, उन्हें सपोर्ट करता है और इस तरह कर्मचारियों के व्यक्तिगत विकास को बढ़ावा देता है।

कार्यस्थल संस्कृति के मामले में एक ग्लोबल अथॉरिटी के रूप में ग्रेट प्लेस टू वर्क तीन दशकों से अधिक समय से कर्मचारियों के अनुभव और संगठनों में लोगों के व्यवहार का अध्ययन कर रहा है। हर साल, 60 से अधिक देशों के 10,000 से अधिक संगठन अपनी कार्यस्थल संस्कृति को मजबूत करने के लिए मूल्यांकन, बेंचमार्किंग और कार्यों की योजना के लिए ग्रेट प्लेस टू वर्क के साथ भागीदारी करते हैं।

भारत में ग्रेट प्लेस टू वर्क द्वारा किए गए रिसर्च के दौरान इस बात पर फोकस किया गया कि कार्यस्थलों में विश्वास की स्थिति कैसी है, क्योंकि विश्वास से ही कर्मचारी को विविध किस्म के अनुभव होते हैं और इसका व्यावसायिक परिणामों पर इसका प्रभाव पड़ता है। शोध से पता चलता है कि कर्मचारी जुड़ाव और वित्तीय प्रदर्शन के बीच एक स्पष्ट और सीधा संबंध है, और यह कि सर्वाेत्तम कार्यस्थल भारत में प्रमुख स्टॉक इंडेक्स से लगातार बेहतर प्रदर्शन करते हैं।

ग्रेट प्लेस टू वर्क इंडिया में हैड-डाइवर्सिटी, इक्विटी एंड इनक्लूजन प्रेक्टिस संध्या रमेश ने कहा, ‘‘महिलाओं के लिए सर्वश्रेष्ठ कार्यस्थलों ने एक बात हमें सिखाई है कि महामारी या जिस उद्योग में वे काम करती हैं, वहां मौजूद चुनौतियों के बावजूद उन्होंने एक विविध, न्यायसंगत और समावेशी वातावरण के निर्माण के बारे में आगे बढ़कर प्रयास किए हैं। महिला कर्मचारियों की आवाजें, समावेशी प्रथाओं की गुणवत्ता और संगठन के भीतर शक्ति के समान वितरण की दिशा में किए गए प्रयास इसका प्रमाण है।’’

‘महिलाओं के लिए भारत के सर्वश्रेष्ठ कार्यस्थल-2021’ के बारे में उनके अध्ययन के परिणाम के रूप में, ग्रेट प्लेस टू वर्क इंडिया ने अपनी शोध रिपोर्ट जारी की है। रिपोर्ट इस बात को रेखांकित करती है कि अन्य संस्थानों के अलावा वो कौन-सी बातें हैं, जो किसी कार्यस्थल को सर्वश्रेष्ठ कार्यस्थल बनाती हैं। रिपोर्ट और महिलाओं के लिए भारत के सर्वश्रेष्ठ कार्यस्थल-2021 की पूरी सूची यहां देखी जा सकती है--

ट्रांसयूनियन सिबिल में सीनियर वाइस प्रेसीडेंट और हैड-ह्यूमन रिसोर्सेज सुश्री आंचल चोपड़ा ने कहा, ‘‘हमें ग्रेट प्लेस टू वर्क-सर्टिफाइड और ‘इंडियाज बेस्ट वर्कप्लेस फॉर वीमैन-2021’ (शीर्ष 50 - मध्यम आकार की कंपनियां) होने पर गर्व और खुशी का अनुभव हो रहा है। यह मान्यता ट्रांसयूनियन सिबिल के कर्मचारियों द्वारा उनकी रोज़मर्रा की ज़िंदगी में अपनाए गए मूल्यों, विश्वासों और प्रतिबद्धता का प्रमाण है। हम अपने कर्मचारियों, विक्रेताओं, भागीदारों और ग्राहकों को एक ऐसी संस्कृति बनाने में मदद करने के लिए धन्यवाद देते हैं जहां सभी कर्मचारियों को शामिल किया जाता है, उनके महत्व को समझा जाता है और जिस रूप में वे हैं, उसी रूप में उन्हें गले लगाया जाता है।’’

भारत में संस्थान 22 से अधिक उद्योगों में सालाना 1,100 से अधिक संगठनों के साथ साझेदारी की है, ताकि उन्हें निरंतर व्यावसायिक परिणाम देने के लिए डिज़ाइन किए गए हाई-ट्रस्ट, हाई-परफॉर्मेंस कल्चर का निर्माण करने में मदद मिल सके। इंडिया इंक के सैकड़ों सीईओ और सीएक्सओ ग्रेट प्लेस कम्युनिटी का हिस्सा हैं जो भारत को सभी लोगांे के लिहाज से काम करने के लिए एक बेहतरीन जगह बनाने के लिए प्रतिबद्ध हैं।

No comments:

Post a Comment

जेकेके में दर्शकों ने शास्त्रीय व लोक संगीत की फ्यूजन प्रस्तुति का आनंद उठाया

जयपुर।  जवाहर कला केंद्र (जेकेके) में शुक्रवार शाम को मध्यवर्ती में अंतर्राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त फ़्यूज़न ‘कहरवा’ की प्रस्तुति ने दर्शकों क...