Saturday, November 13, 2021

एजिस बाज़ार में सबसे तेज़ी से विकसित होती कंपनी, कोविड-19 के बीच हासिल की 65 परियोजनाएं

नई दिल्ली, 13 नवम्बर, 2021ः एक फ्रांसीसी मल्टीनेशनल कंपनी एजिस ग्रुप ने आज बताया कि एजिस ग्रुप के सीईओ लॉरेन्ट जरमेन का भारत दौरा देश के लिए सामरिक महत्व का है। भारत में वे वरिष्ठ दिग्गजों के साथ मिलकर विशेष रणनीतियां पेश करेंगे और स्मार्ट मोबिलिटी एवं इन्फ्रास्ट्रक्चर के क्षेत्र में कंपनी के विकास पर ज़ोर देंगे, जिससे देश भर में समुदायों को सशक्त बनाने में मदद मिलेगी।

एजिस ने यह घोषणा भी की है कि इसने पिछले एक साल में कोविड के दौरान भारत में 65 से अधिक प्रोजेक्ट्स हासिल किए हैं। इनमें मेट्रो रेल परियोजनाएं, जल परियोजनाएं, शहरी परियोजनाएं, स्मार्ट सिटी, राजमार्ग, बंदरगाह आदि शामिल हैं। कुछ प्रमुख प्रोजेक्ट्स में सूरत मेट्रो प्रोजेक्ट, विभिन्न राजमार्गों के लिए पीएमसी, फरीदाबाद और जयपुर स्मार्ट सिटी, प्रतिष्ठित ग्रीन हाइवे परियोजना और खासतौर पर उत्तर-पूर्वी भारत में विभिन्न ग्रामीण जल आपूर्ति परियोजनाएं शामिल हैं। साथ ही बांग्लादेश एवं नेपाल सहित कंपनी का विस्तार भी उल्लेखनीय है। ये सभी परियोजनाएं सामुहिक रूप से एजिस ग्रुप को मार्केट लीडर के रूप में स्थापित करती हैं।
एजिस ग्रुप ने भारत के लिए महत्वाकांक्षी योजनाएं तैयार की हैं और भारत के विकास की कहानी में सक्रिय योगदान देने के लिए तत्पर हैं। ग्रुप ने अगले पंाच सालों में भारत में €50 मिलियन के निवेश की योजना भी बनाई है, पिछले दो दशकों के दौरान 75 मिलियन से ज़्यादा निवेश किया जा चुका है। भारत में ग्रुप की स्थिति बाज़ार की तुलना में कहीं बेहतर है, जिसके चलते कंपनी 108 फीसदी सालाना की दर से विकसित हो रही है।
इस अवसर पर श्री लॉरेंट जरमेन, सीईओ, एजिस ग्रुप ने कहा, ‘‘आज मुझे बहुत खुशी का अनुभव हो रहा है। हमने तकरीबन 25 साल पहले भारत के बाज़ार में प्रवेश किया और आज हम गर्व से कह सकते हैं कि हमने पिछले 25 सालों में जो काम किया है, उतना ही काम आने वाले 5 साल या उससे भी कम समय में करेंगे। भारत में एजिस का टर्नओवर 45 मिलियन युरो है और यह राजस्व की दृष्टि से फ्रांस के बाहर तीसरी सबसे बड़ी संस्था है। हमें उम्मीद है कि हम 2027 तक भारत में 75 मिलियन युरो का टर्नओवर हासिल कर लेंगे तथा 13 फीसदी सीएजीआर की दर से विकास दर्ज करेंगे। आने वाले समय में हम विकास की इसी दर को जारी रखते हुए कामयाबी की नई उंचाईयों तक पहुंचेंगे।’’

‘‘मुझे देश की अद्भुत क्षमता में पूरा विश्वास है, भारत मुश्किल समय में भी कारोबार के लिए अनुकूल वातावरण उपलब्ध कराता है।’’ उन्होंने कहा।
श्री संदीप गुलाटी, एमडी, एजिस इंडिया ने कहा, ‘‘एजिस इंडिया ने पिछले 25 सालों में देश भर में सफलतापूर्वक कई जटिल एवं आधुनिक परियोजनाओं को पूरा किया है। भारत हमेशा से हमारे लिए महत्वपूर्ण बाज़ार रहा है और पिछले 10 सालों में, हम संभवतया एकमात्र इंजीनियरिंग कन्सल्टिंग कंपनी हैं, जिसके पास कोविड-19 के दौरान सकारात्मक कैश पॉजिशन रही है। हमारा मानना है कि अपनी विश्वस्तरीय विशेषज्ञता, स्थानीय ज्ञान एवं सर्वश्रेष्ठ प्रथाओं केे साथ हम आगे भी सफलता हासिल करते रहेंगे। भारत में हमारे 3000 से अधिक कर्मचारी हैं और हम देश में अपनी स्थिति के विस्तार और अपने आप को और अधिक मजबूती से स्थापित करने के लिए तत्पर हैं। इस समय देश भर में हमारी 120 से अधिक परियोजनाएं हैं और आने वाले सालों के लिए रु 850 करोड़़ से अधिक मूल्य की परियोजनाएं पाईपलाईन में हैं।’’
हाल ही में एजिस ने भारत में इंटरनेशनल डिज़ाइन सेंटर खोला, जो ग्रुप के इंटरनेशनल डिज़ाइन बिज़नेस के लिए सेवाएं प्रदान करेगा। यह सेंटर विश्वस्तरीय परियोजनाओं के लिए काम करेगा, इन टीमों को प्रशिक्षण एवं कौशल विकास के अपार अवसर उपलब्ध कराएगा।
डिज़ाइन सेंटर के बारे में बात करते हुए लॉरेन्ट जरमेन, सीईओ एजिस ग्रुप ने कहा, ‘‘भारत में मौजूद अवसरों के बारे में हम बेहद उत्साहित हैं! इस नए डिज़ाइन सेंटर को लेकर मैं बेहद उत्सुक हूं, जहां हमने भारत को समूह के विविध कारोबार के लिए ग्लोबल डिज़ाइनों का केन्द्र बनाने का लक्ष्य रखा है।’’
श्री संदीप गुलाटी, एमडी, एजिस इंडिया ने कहा, ‘‘एजिस के पौलेण्ड डिज़ाइन सेंटर के अलावा, यह एशिया में कंपनी का दूसरा और दुनिया में तीसरा डिज़ाइन सेंटर है। यह भारत की क्षमता और तकनीकी दक्षता में कंपनी के भरोसे की पुष्टि करता है। अगले 2 से 3 सालो ंमें हम इस सेंटर में तकरीबन 500 लोगों की भर्तियां करेंगे। आने वाले समय में देश में इन्फ्रास्ट्रक्चर उद्योग रोज़गार के सबसे ज़्यादा अवसर उत्पन्न करेगा और यह डिज़ाइन सेंटर स्थानीय प्रतिभा को इस क्षेत्र में विश्वस्तरीय कौशल प्रदान कर करियर बनाने में मदद करेगा।’’
जलवायु परिवर्तन एवं जैव विविधता का नुकसान पिछले सालों के दौरान गंभीर मुद्दे बन चुके हैं, एजिस ने पर्यावरण में सुधार के लिए पांच शपथ ली हैं। एजिस की कॉर्पोरेट परियोजना ‘इम्पैक्ट द फ्यूचर’ के तहत ये प्रतिबद्धताएं की गई हैं, जो इस कंपनी को जलवायु परिवर्तन के खिलाफ़ अग्रली प्लेयर के रूप में स्थापित करती हैं। समूह का बहु-आयामी दृष्टिकोण ऐसे आधुनिक एवं प्रभावी समाधान लेकर आता है, जो समुदायों एवं क्षेत्रों के लिए हर पैमाने पर लाभकारी हैं।
लॉरेन्ट जरमेन, सीईओ, एजिस ने कहा, ‘‘हम मुख्य रूप से- शहरों, इमारतों एवं परिवहन के क्षेत्र में सक्रिय हैं, ये क्षेत्र दुनिया भर में ग्रीन हाउस गैसों के उत्सर्जन में 50 फीसदी से ज़्यादा योगदान देते हैं। ऐसे में हमें जलवायु परिवर्तन के खिलाफ़ लड़ाई में अपने क्लाइन्ट्स, खासतौर पर राष्ट्रीय एवं स्थानीय सरकारों के साथ मिलकर महत्वपूर्ण भूमिका निभानी होगी। पर्यावरण की सुरक्षा हमारी ज़िम्मेदारी है। ज़ीरो कार्बन उत्सर्जन के लक्ष्य को हासिल करने के लिए एजिस ने कार्बन 4’एस ‘नेट ज़ीरो इनीशिएटिव’ के निर्देशों को अपनाया है।

No comments:

Post a Comment

जेकेके में महाकाव्य महाभारत पर आधारित नाटक 'उरूभंगम' का हुआ मंचन

जयपुर।  जवाहर कला केंद्र (जेकेके) के  रंगायन  में पाक्षिक नाट्य योजना के तहत रंग साधना थिएटर ग्रुप, जयपुर द्वारा शनिवार शाम को नाटक 'उरू...