Sunday, October 3, 2021

पर्यावरण के लिये खादी को प्रमोट करना बहुत आवश्यक- कावेरी सिंह

- सेलिब्रेटिंग इंडिया एट 75 के तहत आयोजित

-आर्टिस्ट कम्यूनिटी ‘द सर्किल‘ के लिये निःशुल्क आयोजित

-बिहार की युवा कलाकार कावेरी सिंह ने किया वर्कशॉप का संचालन

-गांधी जयंती पर खादी पर मिथिला पेंटिंग ऑनलाईन वर्कशॉप का आयोजन

जयपुर: पर्यावरण के लिये खादी को प्रमोट करना बहुत आवश्यक है और यह भारत की धरोहर है। यह कहना था बिहार की युवा कलाकार कावेरी सिंह का। कावेरी शनिवार को गांधी जयंती के अवसर पर महात्मा गांधी जी के सम्मान में आयोजित ‘खादी पर मिथिला पेंटिंग‘ ऑनलाईन वर्कशॉप में संबोधित कर रहीं थी। राजस्थान स्टूडियो की सहायता से इस वर्कशॉप का आयोजन भारत और राजस्थान की आर्टिस्ट कम्यूनिटी ‘द सर्किल‘ के लिये आजादी का अमृत महोत्सव - सेलिब्रेटिंग इंडिया एट 75 के तहत किया गया। खादी की उपयोगिता को बढ़ाने के लिये कावेरी ने वर्कशॉप के दौरान खादी सिल्क और खादी कॉटन के झोले का उपयोग किया। उन्होंने प्रतिभागियों को लोटस की बॉर्डर के साथ केन्द्रीय डिजाइन के तौर पर मोर का चित्र बना कर उनमें रंग भरे। वर्कशॉप के दौरान कावेरी ने बताया कि मिथिला पेंटिंग को पारम्परिक तौर पर नीब की सहायता से बनाया जाता है। मिथिला पेंटिंग में कछनी एवं भरनी पैटर्न के अतिरिक्त डबल आउटलाईनिंग इसकी मुख्य पहचान होती है। इनमें मुख्यतः 5 रंगों का उपयोग किया जाता है। मिथिला पेंटिंग में काले रंग से आउटलाईन करने के बाद इनमें लाल, हरा, पीला, नारंगी रंग का उपयोग किया जाता है।

No comments:

Post a Comment

माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने वी 5 जी डिजिटल ट्विन पर दिल्ली मेट्रो टनल साईट के मजदूरों से की बातचीत; इस डिजिटल ट्विन को भारत में मजदूरों की सुरक्षा के लिए डिज़ाइन किया गया है

03   अक्टूबर ,2022:   भविष्य   की   ओर   कदम   बढ़ाते   हुए   वोडाफ़ोन   आइडिया   लिमिटेड   ने   आज   देश   की   राजधानी   में   इंडिया   मोबा...