Thursday, September 30, 2021

पेबैक इंडिया ने भारतपे द्वारा संचालित अपने ऐप पर लॉन्च किया पे फीचर

नई दिल्ली, 30 सितंबर, 2021- भारतपे की कंपनी और भारत के सबसे बड़े मल्टी-ब्रांड लॉयल्टी प्रोग्राम पेबैक इंडिया ने आज अपने मोबाइल ऐप पर पे फीचर को लॉन्च की घोषणा की। इंडस्ट्री में यह पहली बार है, जब एक ही ऐप में क्यूआर-आधारित यूपीआई भुगतान और लॉयल्टी को एकीकृत किया गया है। इस तरह पेबैक देशभर में अपने 100 मिलियन से अधिक सदस्यों को भुगतान करने में सक्षम करेगा और वे  पेबैक ऐप का उपयोग करके किसी भी रिटेल स्टोर / मर्चेंट आउटलेट पर यूपीआई क्यूआर को स्कैन करके भुगतान कर सकेंगे और प्रत्येक लेनदेन पर लॉयल्टी पॉइंट अर्जित कर सकेंगे।

पेबैक इंडिया के सदस्य पेबैक पे के माध्यम से पहले यूपीआई लेनदेन पर 50 बोनस अंक अर्जित करेंगे और उसके बाद प्रत्येक लेनदेन पर 5 पेबैक अंक अर्जित कर सकेंगे। इसके अतिरिक्त, ग्राहक भारतपे क्यूआर पर किए गए लेनदेन पर 2 गुना अंक अर्जित करेंगे। अंक वास्तविक समय के आधार पर ग्राहक के खाते में जमा किए जाएंगे।

इसके अलावा, पेबैक 75 लाख से अधिक मर्चेंट आउटलेट्स पर भारतपे के क्यूआर पर पॉइंट्स के रिडेम्पशन की सुविधा को जोड़ देगा और आईओएस ऐप पर फीचर लॉन्च करेगा।

पे फीचर की लॉन्चिंग पर बोलते हुए भारतपे के को-फाउंडर और मैनेजिंग डायरेक्टर अशनीर ग्रोवर ने कहा, ‘‘पेबैक एक बेहतरीन लॉयल्टी प्रस्ताव है, जिससे ग्राहकों को हजारों मर्चेंट आउटलेट्स पर लॉयल्टी पॉइंट अर्जित करने और रिडीम करने की अनुमति मिलती है। पिछले साल पेबैक ने पार्टनर मर्चेंट के लिए 8 बिलियन डॉलर का जीएमवी निकाला। आज मैं गर्व से कह सकता हूं कि यह प्रस्ताव आज भारत में क्रेड, मेजिकपिन, फेव और किसी भी अन्य लॉयल्टी प्रोग्राम से भी बेहतर है। हमारी दृष्टि हर लेन-देन के लिए क्रेडिट और लॉयल्टी को अभिन्न और अनूठा बनाना है। पेबैक पे ग्राहकों को यूपीआई क्यूआर पर स्कैन करने और भुगतान करने की आदत डाल देगा। आखिरकार, पेबैक पॉइंट्स के सभी रिडेम्पशन और अर्निंग भारतपे क्यूआर पर स्वचालित रूप से हो जाएगी। पेबैक पॉइंट एक करेंसी की तरह काम करेगी, क्योंकि इसे सार्वभौमिक रूप से स्वीकार किया जाएगा।’’

पेबैक इंडिया के सीईओ रिजिश राघवन ने कहा, “पेबैक में हम हमेशा अपने ग्राहकों के लिए रिवार्डिंग अनुभव रचनेे के लिए प्रतिबद्ध हैं। पेबैक पे का शुभारंभ इसी दिशा में एक और कदम है। हमें विश्वास है कि यह उत्पाद अपने अद्वितीय प्रस्ताव के साथ ग्राहक अनुभव को फिर से परिभाषित करेगा जो लॉयल्टी और भुगतान को एकीकृत करता है। हम यह सुनिश्चित करना चाहते हैं कि हमारे सदस्य अपनी खरीदारी के लिए लॉयल्टी अंक अर्जित कर सकें, भले ही वे किसी बड़े खुदरा स्टोर या अपने पड़ोस की किराना दुकान पर खरीदारी कर रहे हों। हम आस-पड़ोस के स्टोरों के साथ मिलकर काम करने की उम्मीद कर रहे हैं ताकि ग्राहकों की संख्या बढ़ाने, उन्हें अपने साथ जोड़कर रखने और बेहतर अनुभव प्रदान करने के लिए उन्हें लॉयल्टी की शक्ति का लाभ उठाने में मदद मिल सके।’’

पेबैक एक अनूठा लॉयल्टी प्रोग्राम है, जिसे ग्राहकों के साथ जुड़ने और ऐसे लॉयल्टी पॉइंट्स के साथ उनकी खरीदारी के लिए उन्हें पुरस्कृत करने के लिए डिज़ाइन किया गया है, जिन्हें बाद में भुनाया जा सकता है। इन-स्टोर और ऑनलाइन दोनों श्रेणियों में इसके 100 से अधिक प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष भागीदार हैं। विविध साझेदार पोर्टफोलियो में खुदरा, ईंधन, बैंकिंग, भुगतान, मनोरंजन, आतिथ्य और यात्रा में कई श्रेणियां शामिल हैं। ये ऐसी लोकप्रिय श्रेणियां हैं, जहां उपभोक्ता अपने कुल खर्च का 80 प्रतिशत हिस्सा खर्च करते हैं। इसके कुछ प्रमुख साझेदारों में आईसीआईसीआई बैंक, एचपीसीएल, बुकमाईशो, थॉमस कुक इंडिया, अमेजन, फ्लिपकार्ट और कई अन्य शामिल हैं।

No comments:

Post a Comment

गल्फ ऑयल इंडिया ने इलेक्ट्रिक मोबिलिटी को सपोर्ट करने के लिए लॉन्च किए ‘ईवी फ्लुइड्स’

मुंबई ,  , 04  अक्टूबर , 2022 -  हिंदुजा समूह की कंपनी गल्फ ऑयल लुब्रिकेंट्स ने  ‘ ईवी फ्लुइड्स ’  की विशेष श्रेणी के लिए स्विच मोबिलिटी और ...