Thursday, September 2, 2021

यस बैंक ने गैर-कार्यकारी निदेशक के रूप में श्री अतुल मलिक और सुश्री रेखा मूर्ति की नियुक्ति की घोषणा की

मुंबई, 02 स‍ितंबर 2021 –  बोर्ड के नामांकन एवं पारिश्रमिक समिति (नॉमिनेशन एंड रेम्यूनिरेशन कमिटी ऑफ द बोर्ड) के परामर्श पर और निदेशक मंडल (बोर्ड ऑफ डाइरेक्टर्स) की संस्तुति पर, यस बैंक ने श्री अतुल मलिक और सुश्री रेखा मूर्ति की नॉन-एग्जीक्यूटिव डाइरेक्टर्स के रूप में 30 अगस्त, 2021 से नियुक्त किये जाने की घोषणा की है (प्रोफाइल्स संलग्न)।

इन नियुक्तियों के साथ, यस बैंक के बोर्ड का गठन निम्नवत है:

  • श्री सुनिल मेहता, चेयरमैन
  • श्री प्रशांत कुमार, प्रबंध निदेशक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी
  • श्री अतुल भेडा, नॉन-एग्जीक्यूटिव डाइरेक्टर
  • श्री महेश कृष्णमूर्ति, नॉन-एग्जीक्यूटिव डाइरेक्टर
  • श्री आर गांधी, आरबीआई द्वारा नियुक्त अपर निदेशक
  • श्री अनंत नारायण गोपालकृष्णन, आरबीआई द्वारा नियुक्त अपर निदेशक
  • श्री वी एस राधाकृष्णन, एसबीआई नॉमिनी डाइरेक्टर
  • श्री रविंद्र पांडेय, एसबीआई नॉमिनी डाइरेक्टर
  • श्री अतुल मलिक, गैर-कार्यकारी निदेशक
  • सुश्री रेखा मूर्ति, गैर-कार्यकारी निदेशक

इस अवसर पर बोलते हुए, यस बैंक के प्रबंध निदेशक और मुख्य कार्यकारी निदेशक, प्रशांत कुमार ने कहा, “हमें बोर्ड में दो नए गैर-कार्यकारी निदेशकों का स्वागत करते हुए खुशी हो रही है। महत्वपूर्ण व्यावसायिक विकास में उनके वैश्विक अनुभव, उद्योग का व्यापक ज्ञान, और बड़े अंतरराष्ट्रीय उद्यमों को सलाह देने में उनकी पेशेवर विशेषज्ञता यस बैंक को मजबूत बनाने और इसे आगे बढ़ाने में अहम साबित होगी। इसके अलावा, तकनीकी बदलाव एवं परिवर्तन प्रबंधन में सुश्री रेखा मूर्ति की व्यापक पृष्ठभूमि और एक अनुभवी बैंकर के रूप में श्री अतुल मलिक का व्यापक अनुभव, नवाचार को आगे बढ़ाकर, रणनीतिक गठजोड़ विकसित करके और ग्राहक अनुभव को बढ़ाकर संगठन में तेज गति से बदलाव लाने के लिए उपयुक्त है।”

Profile – Mr. Atul Malik

श्री अतुल मलिक एक अनुभवी बैंकर हैं जिनके पास 30 से अधिक वर्षों का व्यापक अनुभव है। श्री मलिक वर्तमान में टीपीजी के वित्तीय सेवा पोर्टफोलियो के वरिष्ठ सलाहकार हैं। वह यूबीसी के अध्यक्ष के रूप में टीपीजी का प्रतिनिधित्व करते हैं, जो श्रीलंका में निजी क्षेत्र के सबसे बड़े बैंकों में से एक है।

इससे पूर्व, वह जनरल अटलांटिक के वित्तीय सेवा पोर्टफोलियो के वरिष्ठ सलाहकार थे।

जनरल अटलांटिक से जुड़ने से पहले, वह 2012 से 2015 तक, वियतनाम के सबसे बड़े निजी बैंकों में से एक, मैरीटाइम बैंक के सीईओ और 2011 से 2012 तक एशिया कैपिटल एंड एडवाइजर्स, जो एक बुटीक प्राइवेट इक्विटी फर्म है, के वरिष्ठ सलाहकार थे।

2007 से 2011 के बीच, वह ड्यूश बैंक के भारत, चीन और वियतनाम परिचालन के प्राइवेट एवं बिजनेस क्लाइंट्स के प्रबंध निदेशक / क्षेत्रीय प्रमुख एशिया थे। इस अवधि के दौरान, वह डीबी एशिया पैसिफिक एग्जीक्यूटिव कमिटी और ग्लोबल प्राइवेट एंड बिजनेस क्लाइंट्स (पीबीसी) एग्जीक्यूटिव कमिटी के सदस्य भी थे, और उन्हें डीबी चाइना लिमिटेड के गैर-कार्यकारी निदेशक के रूप में नामित किया गया था।

वह सिटीबैंक इंडिया के साथ वर्ष 1988 में जुड़े और सिटीबैंक के साथ अपने 20 वर्षों के कॅरियर में, श्री मलिक विभिन्न पदों पर रहे, जिसके अंत में वो सिटीबैंक हाँग्कांग (2004 से 2007) के मुख्य कार्यकारी अधिकारी थे।

श्री मलिक ने राइस यूनिवर्सिटी, यूएसए (1987) से बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन में मास्टर की डिग्री और आईआईटी बॉम्बे (1985) से बी टेक की डिग्री हासिल की।

 

Profile – Ms.Rekha Murthy

सुश्री रेखा मूर्ति को भारत, एशिया प्रशांत और संयुक्त राज्य अमेरिका में टेक्नोलॉजी सेक्टर में लगभग 30 वर्षों का व्यापक वैश्विक अनुभव है। उन्हें पी एंड एल ओवरसाइट, वैश्विक बिक्री, न्यू मार्केट डेवलपमेंट, स्ट्रैटेजिक मार्केटिंग और डिस्ट्रिब्युशन सहित विभिन्न क्षेत्रों में सफल कॅरियर का पेशावर अनुभव रहा है। वह आईबीएम, हार्वर्ड बिजनेस स्कूल पब्लिशिंग, वाइस टेक्नोलॉजी, एसएपी, पीपुलसॉफ्ट, डिजिटल इक्विपमेंट कॉर्पोरेशन और कोर्न फेरी इंटरनेशनल जैसी अग्रणी वैश्विक कंपनियों में सीनियर और कंट्री लीडरशिप रोल्स में रह चुकी हैं।

वर्तमान में, वह सलाहकार और मेंटर की भूमिका में स्टार्ट-अप्स के साथ जुड़ी हैं।

नेतृत्व और प्रबंधन कौशल निर्माण, वैश्विक रणनीति, व्यवसाय एवं तकनीकी रूपांतरण एवं परिवर्तन प्रबंधन उनकी रूचि के क्षेत्र हैं। उन्हें विभिन्न उद्योगों के बड़े उद्यमों को तकनीकी समाधान का परामर्श देने एवं प्रदान करने में व्यापक अनुभव है।

सुश्री मूर्ति, हार्वर्ड बिजनेस स्कूल और इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ मैनेजमेंट, बंगलुरू की पुरा छात्र हैं और उन्होंने बैंग्लोर यूनिवर्सिटी से इंजीनियरिंग, इलेक्ट्रॉनिक्स एवं टेलीकम्यूनिकेशंस में स्नातक की डिग्री हासिल की है।

No comments:

Post a Comment

टाटा पावर ने भारत में ईवी-चार्जिंग के बुनियादी ढांचे को ऊर्जा प्रदान करने के लिए ह्युंदाई मोटर इंडिया के साथ की साझेदारी

राष्ट्रीय 17 मई 2022 : देश की एक सबसे बड़ी एकीकृत बिजली कंपनी और ईवी चार्जिंग की बुनियादी सुविधाएं प्रदान करने वाली अग्रणी कंपनी टाटा पावर ने...