Monday, August 23, 2021

आईसीआईसीआई बैंक जर्मनी ने भारतीय छात्रों के लिए लॉन्च किया ब्लॉक्ड अकाउंट

मुंबई ,23 अगस्त, 2021 आईसीआईसीआई बैंक की एक इकाई आईसीआईसीआई बैंक जर्मनी ने जर्मनी में अध्ययन करने के इच्छुक छात्रों के लिए आज एक डिजिटल और इंस्टेंट ब्लॉक्ड अकाउंट लॉन्च करने की घोषणा की। ब्लॉक्ड अकाउंट एक विशेष प्रकार का खाता है जिसमें छात्रों को बैलेंस कन्फर्मेशन सर्टिफिकेट (बीसीसी) प्राप्त करने के लिए एक निश्चित राशि रखने की आवश्यकता होती है। जर्मनी में छात्र वीजा के लिए यह एक अनिवार्य आवश्यकता है। जर्मन संघीय विदेश कार्यालय द्वारा अधिकृत बैंक ऐसे ब्लॉक्ड खाते की पेशकश कर सकते हैं।

नया ‘आईसीआईसीआई बैंक जर्मनी छात्र ब्लॉक्ड खाता’ छात्रों को बैंक के साथ आवश्यक राशि जमा करने और बीसीसी प्राप्त करने में सक्षम बनाता है। छात्र आईसीआईसीआई बैंक की शाखा में आए बिना, अपने वीज़ा आवेदनों से पहले भारत में अपने घर के आराम से यह खाता ऑनलाइन खोल सकते हैं। यह खाता छात्रों को एक कॉम्प्लीमेंट्री चालू खाता प्रदान करता है जिसका उपयोग वे जर्मनी में कर सकते हैं। यह वीज़ा डेबिट कार्ड के साथ भी आता है जिसे दुनिया में कहीं भी इस्तेमाल किया जा सकता है। छात्रों के जर्मनी जाने से पहले डेबिट कार्ड भारत में उनके पते पर डिलीवर कर दिया जाएगा।

आईसीआईसीआई बैंक जर्मनी पहला बैंक है जिसने छात्रों को पूरी तरह से डिजिटल ब्लॉक्ड अकाउंट और एक कॉम्प्लीमेंट्री करंट अकाउंट का दोहरा लाभ प्रदान किया है। यह मौजूदा व्यवस्था में एक उल्लेखनीय सुधार है जहां छात्र आमतौर पर दो अलग-अलग बैंकिंग संस्थाओं के साथ ये खाते खोलते हैं और जर्मनी पहुंचने के बाद ही चालू खाता खोल सकते हैं। चालू खाता भारत में एक बचत खाते के बराबर है, और इसका उपयोग छात्र जर्मनी में अपनी दैनिक बैंकिंग आवश्यकताओं के लिए कर सकते हैं।

आईसीआईसीआई बैंक के इंटरनेशनल बैंकिंग ग्रुप के हैड श्रीराम एच. अय्यर ने लॉन्च के बारे में जानकारी देते हुए कहा, ‘‘आईसीआईसीआई बैंक में, हम छात्रों की बैंकिंग आवश्यकताओं को पहचानते हैं, और हम हमेशा उन्हें पर्याप्त सेवाएं प्रदान करने का प्रयास करते हैं। आईसीआईसीआई बैंक जर्मनी एक दशक से अधिक समय से प्रवासी भारतीयों की सेवा कर रहा है। ‘आईसीआईसीआई बैंक जर्मनी छात्र ब्लॉक्ड अकाउंट’ पहला खाता है जो भारतीय छात्रों को एक मानार्थ चालू खाते के साथ ब्लॉक्ड खाते का दोहरा लाभ प्रदान करता है। यह एक वीज़ा डेबिट कार्ड भी प्रदान करता है जिसका उपयोग दुनिया भर में किया जा सकता है।

उच्च अध्ययन करने के इच्छुक भारतीय छात्रों के लिए जर्मनी एक लोकप्रिय गंतव्य है। आईसीआईसीआई बैंक जर्मनी छात्र ब्लॉक्ड खाता उन्हें बीसीसी प्राप्त करने में मदद करता है, जो एक ब्लॉक्ड खाते और जर्मन वीजा के लिए आवेदन करने के लिए एक शर्त है। चालू खाता और वीज़ा डेबिट कार्ड जर्मनी में उनकी दिन-प्रतिदिन की बैंकिंग आवश्यकताओं को पूरा करने में उनकी मदद करते हैं। भारत में छात्रों और उनके माता-पिता का आईसीआईसीआई बैंक से गहरा जुड़ाव है। हम जर्मनी में पढ़ने वाले छात्रों और भारत में उनके माता-पिता की जरूरतों को सुविधाजनक, सुरक्षित और सुरक्षित तरीके से उनकी विदेशी बैंकिंग जरूरतों को पूरा करने के लिए तत्पर हैं।’’

ब्लॉक्ड अकाउंट के प्रमुख लाभ-

  • पूरी तरह से डिजिटल प्रक्रिया- छात्र पूरी तरह से डिजिटल और निर्बाध तरीके से ब्लॉक्ड अकाउंट खोल सकते हैं और तुरंत खाता संख्या प्राप्त कर सकते हैं।
  • डेबिट कार्ड- जर्मनी जाने से पहले छात्रों को वीज़ा डेबिट कार्ड प्राप्त होता है
  • कॉम्प्लीमेंट्री लोकल करंट अकाउंट- छात्रों को जर्मनी में उनकी दैनिक बैंकिंग आवश्यकताओं के लिए स्थानीय बैंक खाते के रूप में एक अतिरिक्त चालू खाता मिलता है।
  • 24बाई7 उपलब्ध- ब्लॉक्ड अकाउंट को डिजिटल रूप से खोलने की सुविधा 24बाई7 उपलब्ध है।

उम्मीदवार चार आसान चरणों में ‘आईसीआईसीआई बैंक जर्मनी स्टूडेंट ब्लॉक्ड अकाउंट’ के लिए आवेदन कर सकते हैं-

 

  1. आईसीआईसीआई बैंक जर्मनी के साथ पंजीकरण- छात्र वेबसाइट https://www.icicibank.de/ के माध्यम से आईसीआईसीआई बैंक जर्मनी में अपना पंजीकरण करा सकते हैं। एक बार ऐसा करने के बाद, प्रमाणीकरण लिंक वाला एक ईमेल उनके साथ साझा किया जाएगा। यह आगे के निर्देश, अपडेट और बीसीसी प्राप्त करने के लिए एप्लिकेशन पोर्टल और एक सुरक्षित मेलबॉक्स को सक्रिय करता है।
  2. ऑनलाइन आवेदन जमा करना- छात्र ऑनलाइन आवेदन पत्र में विवरण भर सकते हैं, अपनी पासपोर्ट प्रति, पता प्रमाण और कॉलेज प्रवेश / स्वीकृति पत्र अपलोड कर सकते हैं और तुरंत ब्लॉक्ड अकाउंट नंबर प्राप्त कर सकते हैं।
  3. खाते में फंडिंग- छात्र पूर्व-आवश्यक राशि के साथ एक कार्य दिवस के भीतर अपने ब्लॉक्ड अकाउंट में धनराशि स्थानांतरित कर सकते हैं और सुरक्षित मेलबॉक्स में बीसीसी और भारत में अपने पते पर वीज़ा डेबिट कार्ड प्राप्त कर सकते हैं।
  4. स्थानीय बैंक खाते/चालू खाते को एक्टिव करना- छात्र एक त्वरित ऑनलाइन वीडियो पहचान प्रक्रिया को पूरा कर सकते हैं और जर्मनी पहुंचने के बाद स्थानीय पते को अपडेट कर सकते हैं। यह जर्मनी में उनकी स्थानीय बैंकिंग आवश्यकताओं के लिए उनके स्थानीय बैंक खाते और वीज़ा डेबिट कार्ड को सक्रिय कर देगा।

No comments:

Post a Comment

जेकेके में दर्शकों ने शास्त्रीय व लोक संगीत की फ्यूजन प्रस्तुति का आनंद उठाया

जयपुर।  जवाहर कला केंद्र (जेकेके) में शुक्रवार शाम को मध्यवर्ती में अंतर्राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त फ़्यूज़न ‘कहरवा’ की प्रस्तुति ने दर्शकों क...