Saturday, July 31, 2021

जीई हेल्थकेयर के इंडिया एडीसन एक्सेलरेटर ने अपने तीसरे कोहोर्ट का लॉन्च किया

नई दिल्ली, 31 जुलाई, 2021ःओंकोलोजी, कार्डियोलोजी, जेनोमिक्स, रिमोट पेशेन्ट मॉनिटरिंग के क्षेत्र में नेक्स्ट जनरेशन टेक्नोलॉजी एवं डायग्नॉस्टिक्स समाधानों की बढ़ती ज़रूरतों को देखते हुए जीई हेल्थकेयर के इंडिया एडीसन एक्सेलरेटरन्न् ने अपने कोहोर्ट 3 की घोषणा की है, जिसमें इन क्षेत्रों से छह स्टार्ट-अप कंपनियां शामिल हैं। भारत और सिंगापुर की ये कंपनियां-4बेसकेयर, हेस्टैक एनालिटिक्स, ज़ैडमेड हेल्थकेयर टेक्नोलॉजीज़, ट्राईकॉग, एआईआरए मैट्रिक्स एवं क्युरिटिव-जीई के अंदर और बाहर हेल्थकेयर उद्योग के विशेषज्ञों के साथ छह महीने बिताएंगी, जो इन्हें नए बाज़ारों के लिए अपने समाधान विकसित करने और इनका पैमाना बढ़ाने में मदद करेंगे।

श्री गिरीश राघवन, वाईस प्रेज़ीडेन्ट, इंजीनियरिंग- जीई हेल्थकेयर साउथ एशिया ने कहा, ‘‘इंडिया एडीसन एक्सलरेटर में हम इनोवेटर्स के सहयोग से ऐसी तकनीकों का विकास करते हैं, जो संचालनात्मक दक्षता और चिकित्सकीय परिणामों को बेहतर बना सकें। महामारी के बाद के दौर में मरीज़ों की देखभाल के लिए हेल्थकेयर उद्योग की तकनीकों पर निर्भरता बहुत अधिक बढ़ गई है। हमें खुशी है कि हम छह हाई-टेक स्टार्ट-अप्स को हमारे एक्सेलरेटर के साथ जोड़ने जा रहे हैं। अगलेछह महीनों में वे जीई के हेल्थकेयर इंजीनियरों और वैज्ञानिकों के साथ मिलकर काम करेंगे ताकि उनके हेल्थकेयर समाधानों को दुनिया भर में ज़्यादा से ज़्यादा लोगों तक पहुंचाया जा सके।’’

डॉ श्रवण सुब्रमण्यम, प्रेज़ीडेन्ट एवं सीईओ, जीईहेल्थकेयर- भारत और दक्षिणी एशिया क्षेत्र तथा मैनेजिंग डायरेक्टर- विप्रो जीई हेल्थकेयर ने कहा, ‘‘जीई हेल्थकेयर मेंहम कार्डियोलोजी एवं ओंकोलोजी जैसे क्षेत्रों में अपने पोर्टफोलियो को निरंतर मजबूत बना रहे हैं, साथ ही वर्चुअल केयर एवं रिमोट पेशेन्ट मॉनिटरिंग में भी अपनी सेवाओं का विस्तार कर रहे हैं। एडीसन प्लेटफॉर्म, जीई की हेल्थकेयर स्टैªैटेजी का अभिन्न हिस्सा है। यह इनोवेशन्स को बढ़ावा देने में कारगर साबित हुआ है। कोहोर्ट-3 के स्टार्ट-अप्स के पास स्मार्ट आर्टीफिशियल इंटेलीजेन्स एवं मशीन लर्निंग समाधान हैं, जिन्हें एडीसन प्लेटफॉर्म के साथ जोड़ने पर येडॉक्टरों, चिकित्सकों, स्वास्थ्यसेवा पेशेवरों और मरीज़ों के लिए ये बहुत फायदेमंद हो सकते हैं।’’

कई मानकों को ध्यान में रखते हुए कोहोर्ट-3 के लिए स्टार्ट-अप्स के ऐप्लीकेशन्स को चुना गया जैसे बिज़नेस आइडिया, प्रोडक्ट की परिपक्वता और टीम की क्षमता आदि। इंडिया एडीसन एक्सेलरेटर स्टार्ट-अप्स के लिए मेंटरशिप, कौशल विकास प्रोग्राम, वाणिज्यिक एवं विनियामक मार्गदर्शन तथा डेटा प्रोविज़निंग उपलब्ध कराता है।

कोहोर्ट -3 के छह स्टार्ट-अप्स के बारे में
1. 4बेसकेयरः जेनोमिक्स एवं डिजिटल हेल्थ में मरीज़-उन्मुख समाधानों के साथ 4बेसकेयर एशिया से कैंसर मरीज़ों के व्यापक, लॉन्गिट्युटिनल क्लिनिक-जेनोमिक्स डेटा के सबसे बड़े स्रोत का निर्माण कर रहा है। https://4basecare.com/

2. हेस्टैक एनालिटिक्सः व्यापक एवं सटीक निदान के साथ इलाज में बेहतर फैसले लेने के लिए जटिल जेनोमिक्स विश्लेषण को आसान बनाता है।https://haystackanalytics.in/

3. ज़ैडमेड हेल्थकेयर टेक्नोलॉजीज़ः आईसीयू से लेकरएमरजेन्सी युनिट तक अस्पताल की सभी इनपेशेन्ट युनिट्स के लिए व्यापक क्लिनिकल डेटा इंटीग्रेशन एवं अडवान्स्ड क्लिनिकल एआई उपलब्ध कराता है।https://zmed.tech/

4. ट्राईकॉगः एआई एवं मशीन लर्निंग एल्गोरिदम के ज़रिए रिमोट क्लिनिकों को वर्चुअल कार्डियोलोजी सेवाएं उपलब्ध कराता है। https://www.tricog.com/

5. एआईआरए मेट्रिक्सः ड्रग डिस्कवरी/ डेवलपमेन्ट एवं हेल्थकेयर में इमेज और डेटा विश्लेषण को ऑटोमेट करने के लिए एआई-आधारित समाधान उपलब्ध कराता है। https://www.airamatrix.com/

6. क्युरिटिवः सीई मार्क्ड डिजिटल पैथोलोजी प्लेटफॉर्म एवं आई हेल्प पैथोलोजी लैब्स सेंटर जो ज़्यादा मरीज़ों को उच्च गुणवत्ता की सेवाएं प्रदान करते हैं। https://www.qritive.com/

इंडिया एडीसन एक्सलरेटर का कोहोर्ट2, 2021 में पूरा हुआ।इसमें छह हेल्थ-टेक स्टार्ट-अप्स शामिल थे-आरोग्य एआई, ब्रेन साईट एआई, इनमेड प्रोग्नोस्टिक्स, ऑनवर्ड असिस्ट, फ्लूड एआई और वैलदी थेरेप्युटिक्स। ये कंपनियां बाज़ार विस्तार एवं तकनीक के क्षेत्र में इंडिया एक्सेलरेटर के साथ निरंतर काम कर रही हैं।

No comments:

Post a Comment

जेकेके में महाकाव्य महाभारत पर आधारित नाटक 'उरूभंगम' का हुआ मंचन

जयपुर।  जवाहर कला केंद्र (जेकेके) के  रंगायन  में पाक्षिक नाट्य योजना के तहत रंग साधना थिएटर ग्रुप, जयपुर द्वारा शनिवार शाम को नाटक 'उरू...