Thursday, July 15, 2021

भूटान के रॉयल मॉनेटरी अथॉरिटी (आरएमए) के सहयोग से भूटान में प्रवेश करेगा बीएचआईएम यूपीआई

मुंबई, 15 जुलाई 2021- नेशनल पेमेंट्स काॅर्पोरेशन आॅफ इंडिया की इंटरनेशनल इकाई एनपीसीआई इंटरनेशनल पेमेंट्स लिमिटेड (एनआईपीएल) और भूटान के रॉयल मॉनेटरी अथॉरिटी (आरएमए) ने भूटान में बीएचआईएम यूपीआई क्यूआर-आधारित भुगतानों को सक्षम और कार्यान्वित करने के लिए भागीदारी की है। यह सेवा औपचारिक रूप से भारत की माननीय वित्त मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण और भूटान के माननीय वित्त मंत्री श्री ल्योंपोनामगे शेरिंग द्वारा शुरू की जाएगी। 13 जुलाई 2021 को होने वाले इस वर्चुअल समारोह में भूटान के रॉयल मॉनेटरी अथॉरिटी (आरएमए) के गवर्नर दाशो पेन्जौर, सचिव (वित्तीय सेवा विभाग) श्री देबाशीष पांडा, भारत में भूटान के राजदूत जनरल वी नामग्याल, भूटान में भारत की राजदूत रुचिरा कंबोज और एनपीसीआई के एमडी और सीईओ दिलीप अस्बे और अन्य विशिष्ट अतिथि भी शामिल होंगे।

भूटान में बीएचआईएम यूपीआई की शुरुआत से दोनों अर्थव्यवस्थाओं के बीच वित्तीय एकीकरण की दिशा में एक नई उपलब्धि जुड़ जाएगी। एनआईपीएल और आरएमए के बीच सहयोग से भूटान में यूनिफाइड पेमेंट इंटरफेस (यूपीआई) संचालित भीम ऐप की स्वीकृति संभव हो सकेगी। आरएमए यह सुनिश्चित करेगा कि भाग लेने वाले एनपीसीआई मोबाइल एप्लिकेशन को यूपीआई क्यूआर लेनदेन के माध्यम से भूटान में सभी आरएमए अधिग्रहित व्यापारियों पर स्वीकार किया जाए। इस लॉन्च से भारत के 200,000 से अधिक पर्यटकों को भी लाभ होगा जो हर साल भूटान की यात्रा करते हैं। इस लॉन्च के साथ, भूटान अपने क्यूआर डिप्लोयमेंट के लिए यूनिफाइड पेमेंट इंटरफेस (यूपीआई) मानकों को अपनाने वाला पहला देश बन जाएगा। साथ ही, भूटान रुपे कार्ड जारी करने और स्वीकार करने के साथ-साथ बीएचआईएम यूपीआई को स्वीकार करने वाला एकमात्र देश बन जाएगा।

यूनिफाइड पेमेंट्स इंटरफेस (यूपीआई) एक इंस्टेंट रीयल-टाइम भुगतान प्रणाली है, जो उपयोगकर्ताओं को अपने बैंक खाते का विवरण दूसरे पक्ष को बताए बिना कई बैंक खातों में वास्तविक समय के आधार पर धन हस्तांतरित करने की अनुमति देता है। सरल, सुरक्षित, लागत प्रभावी मोबाइल-आधारित भुगतान प्रणाली डिजिटल भुगतान के सबसे प्रमुख तरीकों में से एक बन गई है। 2020 में, यूपीआई ने 457 बिलियन अमरीकी डालर के कारोबार को सक्षम बनाया, जो भारत के सकल घरेलू उत्पाद के लगभग 15 प्रतिशत के बराबर है।

एनपीसीआई इंटरनेशनल पेमेंट्स लिमिटेड (एनआईपीएल) के सीईओ रितेश शुक्ला ने कहा, ‘‘हमारी दृष्टि हमारे मजबूत और लोकप्रिय भुगतान समाधानों को हमेशा वैश्विक बाजारों में पहुंचाने पर केंद्रित रही है।’’

डिजिटल भुगतान के क्षेत्र में भूटान के साथ इस रणनीतिक साझेदारी से न केवल भारतीय यात्रियों के लिए भूटान में लेन-देन में आसानी होगी, बल्कि भूटान में ग्राहकों का जीवन भी और सरल और मूल्यवान हो जाएगा।

No comments:

Post a Comment

जेकेके में दर्शकों ने शास्त्रीय व लोक संगीत की फ्यूजन प्रस्तुति का आनंद उठाया

जयपुर।  जवाहर कला केंद्र (जेकेके) में शुक्रवार शाम को मध्यवर्ती में अंतर्राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त फ़्यूज़न ‘कहरवा’ की प्रस्तुति ने दर्शकों क...