Thursday, July 15, 2021

वेदांता को कोविड राहत पहल हेतु गुजरात सरकार ने किया सम्मानित


नई दिल्ली/ मुंबई, 15 जुलाई, 2021। देश के मेटल,मिनरल, आॅयल एवं गैस के प्रमुख उत्पादक वेदांता समूह को गुजरात सरकार द्वारा राज्य में व्यापक कोविड राहत पहल के लिए सम्मानित किया गया। गुजरात के राज्यपाल आचार्य देवव्रत द्वारा केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपानी की मौजुदगी में प्रशंसा पत्र से सम्मानित किया। नंदघर की मुख्यकार्यकारी अधिकारी एवं वेदंात की डायरेक्टर कम्यूनिकेशंस ऋतु झिंगोंन ने सोमवार को आयोजित कार्यक्रम के दौरान यह सम्मान प्राप्त किया। 

प्रशस्ति पत्र में वेदांता द्वारा प्रभावित लोगों की सेवा करने, मानवीय उदारता से योगदान हेतु सहयोग की सराहना की गयी है। वेदांता ने महामारी के दौरान गुजरात में समुदायों का बड़े पैमाने पर सहयोग दिया है। कंपनी द्वारा समाज के कमजोर और जरूरतमंद लोगो का सहयोग करने के लिए भोजन, प्रवासी श्रमिकों को सहायता जैसी पहल शुरू की गई थी।


वेदांता के चेयरमेन अनिल अग्रवाल ने कहा, “कोविड 19 से राहत एवं बचाव में वेदांता सबसे अग्रणी रहा है। हमारे प्रयासों को गुजरात सरकार द्वारा सम्मानित करने पर हम गौरवान्वित है। मैं गुजरात के राज्यपाल श्री आचार्य देवव्रत जी का आभारी हूं कि उन्होंने हमारे कोविड से संबंधित कार्यों को मान्यता दी। उन्होंने दोहराते हुए कहा कि एक जिम्मेदार कॉर्पोरेट के रूप में, वेदांता अपनी प्रतिबद्धताओं को पूरा करने के लिए सरकार के साथ एकजुट है।‘‘


पहली लहर के दौरान, वेदांता ने कर्मचारियों, उनके परिवारों और स्थानीय समुदायों के लिए सुरक्षा को सुनिश्चित करते हुए प्रवासी श्रमिकों की सहायता, पशुओं को आहार, कोविड के कारण एकांतवास में रह रहे समुदायों को राशन की आपूर्ति, और कोविड योद्धाओं को पीपीई किट की आपातकालीन आपूर्ति के लिए मशीनों का आयात करने जैसी पहल की। दूसरी लहर के दौरान, वेदांता की व्यावसायिक इकाइयों ने वेंटिलेटर जैसी महत्वपूर्ण देखभाल, मशीनों सहित चिकित्सा उपकरण प्रदान करने के लिए केंद्र और राज्य सरकारों के साथ मिलकर कार्य किया और कोविड रोगियों के लिए 20 लाख लीटर से अधिक ऑक्सीजन की आपूर्ति की है। स्वास्थ्य की बुनियादी सुविधा को बढ़ाने के लिए, वेदांता ने देश भर में कोविड रोगियों के लिए 10 फील्ड अस्पताल स्थापित किए हैं।


वेदांता, ने कोविड से संबंधित विभिन्न कार्यो पर 400 करोड़ रुपये से अधिक खर्च किए। कंपनी ने अपने कर्मचारियों, उनके परिवारों और व्यावसायिक भागीदारों के लिए सबसे बड़े टीकाकरण अभियान को शुरू किया है। कंपनी का लक्ष्य अगले माह तक 1.2 लाख से अधिक लोगों लाभान्वित करना है। 

कंपनी विभिन्न समुदायों के लिए सुरक्षा और हित सुनिश्चित करने के लिए निरंतर प्रयासरत है। अपने आपदा प्रबंधन प्रोटोकॉल के हिस्से के रूप में, कंपनी के कोविड योद्धा महामारी की किसी भी तीसरी लहर के मामले में पूर्व संज्ञान और निवारक उपाय कर रहे हैं।


No comments:

Post a Comment

अजय पीरामल को ब्रिटेन की महारानी ने प्रदान किया मानद ब्रिटिश पुरस्कार

पीरामल ग्रुप के चेयरमैन अजय गोपीकिषन पीरामल को ब्रिटेन की महारानी ने मानद कमांडर ऑफ द ऑर्डर ऑफ द ब्रिटिश एम्पायर (सीबीई) से सम्मानित किया है...