Friday, July 9, 2021

डीलशेयर ने फंडिंग के नए राउण्ड में जुटाई 144 मिलियन डॉलर की धनराशि

बैंगलुरू, 09 जुलाई, 2021ःभारत के सबसे तेज़ी से विकसित होते सोशल ई-कॉमर्स स्टार्ट-अप डीलशेयर जिसे देश में कम्युनिटी ग्रुप बाइंग मॉडल (सीजीबी) के लिए जाना जाता है, ने फंडिंग के नए राउण्ड में 144 मिलियन डॉलर की धनराशि जुटाई है। इस राउण्ड का नेतृत्व टाइगर ग्लोबल के द्वारा और सह-नेतृत्व वेस्ट ब्रिज कैपिटल, एल्फा वेव इन्क्युबेशन (एडीक्यू द्वारा समर्थित एवं फाल्कन ऐज कैपिटल द्वारा प्रबन्धित वेंचर फंड) एवं ज़ैड3 पार्टनर्स के द्वारा डीएसटी ग्लोबल, मैट्रिक्स पार्टनर्स इंडिया और ऑल्टेरिया कैपिटल की साझेदारी में किया गया है। यह लेनदेन सात महीनों में कंपनी की तीसरी फंडिंग हैं, जिसमें मूल्य नौ गुना बढ़ गया है। मौजूदा राउण्ड के साथ डीलशेयर द्वारा कुल जुटाई गई कुल धनराशि 183 मिलियन डॉलर के आंकड़े पर पहुंच गई है। 

डीलशेयर ने आम उपभोक्ता की खरीदने की क्षमता को ध्यान में रखते हुए भारत के लिए नए डिसरप्टिव रीटेल मॉडल का विकास किया है। यह कम कीमतों पर उच्च गुणवत्ता के ज़रूरी सामान के साथ उपभोक्ताओं को खरीददारी का गेमीफाइड, रोचक और शानदार अनुभव प्रदान करता है और खासतौर पर पहली बार इंटरनेट का इस्तेमाल करने वाले यूज़र्स के लिए ऑनलाईन शॉपिंग के अनुभव को कई गुना बेहतर बनाता है। विनीत राव, सौर्जयेन्दु मेड्डा, संकर बोरा और रजत शिखर द्वारा स्थापित, डीलशेयर बेहद प्रतिस्पर्धी कीमतों पर उच्च गुणवत्ता का ज़रूरी सामान उपलब्ध कराता है। कंपनी ने उपभोक्ताओं की ज़रूरतों को ध्यान में रखते हुए आधुनिक और बहुत कम लागत की डिलीवरी प्रणाली का विकास किया है, जो उन्हें को बेजोड़ अनुभव प्रदान करती है। 

फंडरेजिंग पर बात करते हुए श्री विनीत राव, सीईओ एवं संस्थापक, डीलशेयर ने कहा, ‘‘हमारा मानना है कि भारत विविध जनसांख्यिकी से युक्त एक अनूठा बाज़ार है, जहां पहले सिद्धान्तों पर आधारित स्वदेशी मॉडल की आवश्यकता है, जो इसे पश्चिमी एवं चीनी ई-कॉमर्स मॉडल्स से अलग बनाए। डीलशेयर आधुनिक टेक्नोलॉजी एवं इनोवेटिव इन-ऐप अनुभव के साथ इस मॉडल में अग्रणी रहा है। सीधे फैक्टरी से खरीद, गेमीफाईड एवं वायरल डिमांड जनरेशन तथा डीलशेयर दोस्त (कम्युनिटी लीडर) नेटवर्क के निर्माण जैसे पहलुओं के साथ यह दुनिया में सबसे कम लागत पर संचालन करता है। हमारे पास इनोवेटर्स की मजबूत टीम है, जो उपभोक्ताओं के व्यवहार को समझ कर कारोबारों की मुश्किल से मुश्किल समस्याओं को हल करती है। यही कारण है कि डीलशेयर तेज़ी से विकसित होकर $200ड ळडट ।त्त् तक पहुंच गई है।’’

हम इस धनराशि को प्राथमिक तौर पर एआई-उन्मुख इनोवेशन्स में निवेश करेंगे, ताकि हम अपने उपभोक्ताओं को बेहद व्यक्तिगत, रोचक एवं गेमीफाईड अनुभव प्रदान कर सकें। हमारे मासिक सक्रिय उपयोगकर्ता महीने में 40 बार से अधिक हमारे ऐप का उपयोग करते हैं, जो उन्हें ई-कॉमर्स का सबसे उत्कृष्ट अनुभव प्रदान करता है। आने वाले समय में भी हम यूज़र्स की ज़रूरतों को ध्यान में रखते हुए आधुनिक क्षमता और सेवाओं का विस्तार जारी रखेंगे। वर्तमान में हमारा फुटप्रिन्ट 5 राज्यों में 20 वेयरहाउसेज़ तक फैला है और हमंे उम्मीद है कि इस साल के अंत तक यह 10 राज्यों में 200 से अधिक वेयरहाउसेज़ तक पहुंच जाएगा।’’ श्री राव ने अपनी बात को जारी रखते हुए कहा। 

‘‘डीलशेयर के साथ साझेदारी करते हुए हमें बेहद खुशी का अनुभव हो रहा है क्योंकि वे भारतीय ई-कॉमर्स बाज़ार के विकास में काफी योगदान दे रहे हैं। डीलशेयर का अनूठा दृष्टिकोण, डिस्कवरी-लैड सोशल शेयरिंग, ग्रुप बाइंग एवं गेमीफाईड शॉपिंग उपभोक्ताओं को बेजोड़ अनुभव प्रदान करते हैं। अपनी इन विशेषताओं के साथ डीलशेयर भारतीय ई-कॉमर्स के विकास को अगले स्तर तक लेजाने के लिए तैयार है।’’ ग्रिफिन श्रोडर, पार्टनर, टाइगर ग्लोबल ने कहा। 

कंपनी द्वारा फंडरेज़िंग एवं विकास पर बात करते हुए श्री सौर्जयेन्दु मेड्डा, संस्थापक, चीफ़ बिज़नेस ऑफिसर एवं चीफ़ फाइनैंस ऑफिसर, डीलशेयर ने कहा, ‘‘इस धनराशि का उपयोग हमारे विकास को बढ़ाने के लिए किया जाएगा। वित्तीय वर्ष 20-21 में, हम 5 गुना विकास के साथ 200 मिलियन डॉलर सालाना जीएमवी की रनरेट तक पहुंच गए हैं। 2 सालों की छोटी से अवधि में हम 3 मिलियन से अधिक उपभोक्ताओं को अपनी सेवाएं प्रदान कर चुके हैं और 20 मिलियन से अधिक ऑर्डर पूरे कर चुके हैं। हमें विश्वास है कि इस साल के अत तक हम 1 बिलियन डॉलर की जीएमवी रनरेट और 10 मिलियन उपभोक्ताओं के सशक्त आधार तक पहुंच जाएंगे। इस समय हम 5 राज्यों के 40 शहरों एवं नगरों में अपनी सेवाएं प्रदान कर रहे हैं और साल के अंत तक अपने फुटप्रिन्ट को 10 राज्यों के 100 शहरों एवं नगरों तक विस्तारित करेंगे।’’ 

पहले ही दिन से, डीलशेयर विभिन्न राज्यों के स्वदेशी ब्राण्ड्स के विकास पर ध्यान केन्द्रित करता रहा है और उन्हें कई गुना विकास में मदद कर चुका है। हम देश के एकमात्र रीटेलर हैं जो ग्रॉसरी स्पेस में स्थानीय निर्माताओं का सबसे बड़ा और अनूठा नेटवर्क बनाते हैं तथा उन्हें बड़े मल्टी-नेशनल ब्राण्ड्स के साथ प्रतियोगिता करने में सक्षम बनाते हैं। हम अपने देश के मिशन मेक इन इंडिया की दिशा में काम कर रहें हैं और अच्छी बात यह है कि हम निरंतर इस लक्ष्य की ओर बढ़ रहे हैं।’’ मेड्डा ने अपनी बात को जारी रखते हुए कहा।

श्री संदीप सिंघल, सह-संस्थापक, वेस्टब्रिज कैपिटल ने कहा, ‘‘डीलशेयर ने देश के दूर-दराज के इलाकों में खासतौर पर पहली बार इंटरनेट का उपयोग करने वाले यूज़र्स पर जो प्रभाव उत्पन्न किया है, उससे हम बेहद प्रभावित हैं। हमें विश्वास है कि फंडिंग के इस नए राउण्ड के साथ वे अपने पैमाने को और अधिक बढ़ा सकेंगे।’’

‘‘वर्तमान में हमारे 1000 से अधिक सूक्ष्म-उद्यमी पार्टनर्स हैं, जो देश में कम्युनिटी ग्रप बाइंग मॉडल को बढ़ावा देते हैं, तथा हर स्तर के शहरों एवं नगरों में बड़ी संख्या में रोज़गार के अवसर उत्पन्न कर रहे हैं। आने वाले समय में हम अपने नेटवर्क को बढ़ाकर साल के अंत तक 5000 से अधिक तक पहुंचाने की योजना बना रहे हैं। साथ ही हम अत्याधुनिक तकनीक एवं इन्फ्रास्ट्रक्चर संबंधी असेट्स के साथ और अधिक दक्षता को सुनिश्चित करेंगे।’’ श्री संकर बोरा, संस्थापक, चीफ़ ऑपरेटिंग ऑफिसर, डीलशेयर ने कहा।

‘‘हमने शुरूआती समय में डीलशेयर में निवेश किया और तब से कंपनी लगातार विकसित हो रही है, न्यूनतम पूंजी के साथ उद्योग जगत में बड़े बदलाव ला रही है। डीलशेयर ने अपने वर्ग में सर्वश्रेष्ठ युनिट इकोनोमिक्स एवं कैपिटल एफिशिएन्सी (5 गुना से ज़्यादा) को सुनिश्चित किया है। दूसरे एवं तीसरे स्तर के शहरों में अपने मध्यमवर्गीय उपभोक्ताओं को लुभावने मूल्य प्रस्ताव दिए हैं, उन्हें स्थानीय/ क्षेत्रीय उत्पादों की ओर आकर्षित किया है। डीलशेयर ग्रुप बाइंग एवं गेमीफिकेशन के माध्यम से उपभोक्ता अधिग्रहण में निरंतर सुधार ला रहा है और साथ ही रीटेंशन/कोेहोर्ट एवं युनिट इकोनोमिक्स के दृष्टिकोण से भी लगातार सुधार दर्ज कर रहा है। डीलशेयर आकर्षक युनिट इकोनोमिक्स के लिए मूल्य प्रस्ताव प्रस्तुत करता है। आज डीलशेयर एक ऐसा कारोबार है जो अगले 12 महीनों में कई गुना तेज़ी से विकसित होगा। कंपनी यूएई से शुरूआत कर अन्तर्राष्ट्रीय बाज़ार में भी विस्तार की योजना बना रही है, जिसके लिए सबसे पहला आधार आबू धाबी में स्थापित किया जाएगा। हमें खुशी है कि हम सभी राउण्ड्स में डीलशेयर को समर्थन दे रहे हैं।’’ श्री नवरोज़ उदवादिया, सह-संस्थापक एवं सीईओ, फाल्कन ऐज कैपिटल ने कहा।

तरूण दावदा, मैनेजिंग डायरेक्टर, मैट्रिक्स इंडिया ने कहा, ‘‘मैट्रिक्स, फाल्कन ऐज के साथ डीलशेयर के सीड एवं सीरीज़ ए राउण्ड्स के सह-नेतृत्व में अग्रणी था। यह फंडरेजिंग डीलशेयर के तीव्र विकास एवं पूंजी-प्रभावी बिज़नेस मॉडल को दर्शाती है, जो दूसरे एवं तीसरे स्तर के शहरों को ऑनलाईन ग्रॉसरी शॉपिंग का अनूठा अनुभव प्रदान करता है! हमें खुशी है कि हम एक बार फिर से डीलशेयर में निवेश कर रहे हैं और टीम को शुभकामनाएं देते हैं, क्योंकि वे भारत में सोशल-ईकॉमर्स परिवेश में बदलाव लाने जाने रहे हैं। हम टाईगर ग्लोबल का इस साझेदारी में स्वागत करते हैं।’’

रजत शिखर, सह-संस्थापक, चीफ़ प्रोडक्ट ऑफिसर, डीलशेयर ने कहा, ‘‘आधुनिक तकनीक के द्वारा मुश्किल समस्याओं और तकनीकी चुनौतियों को भी हल किया जा सकता है, जो भारत में हमारे लक्षित उपभोक्ताओं के सामने आती हैं। ऐसी समस्याओं में बचत, प्रभावी लॉजिस्टिक्स, खरीददारी को आसान बनाना, लागत प्रभाविता, खरीददारी को रोचक, पर्सनाइज़्ड और गेमीफाईड बनाना शामिल है।’’ 

‘‘निवेश का यह राउण्ड हमें शीर्ष पायदान की टीम और उत्कृष्ट प्लेटफॉर्म बनाने के लिए प्रेरित करेगा, जिससे हम कंपनी को विकास के अगले स्तर तक ले सकेंगे।’’


No comments:

Post a Comment

श्री कृष्ण बलराम मंदिर में नरसिंह चतुर्दशी महोत्सव मनाया गया

जयपुर  |  हरे कृष्ण मूवमेंट जयपुर के जगतपुरा स्थित श्रीकृष्ण बलराम मंदिर में नरसिंह चतुर्दशी महोत्सव मनाया गया। इस मौके पर मंदिर अध्यक्ष अमि...