Saturday, July 31, 2021

विंडलास बायोटेक लिमिटेड का आईपीओ बुधवार, 04 अगस्त, 2021 को खुलेगा

नई दिल्‍ली, 31 जुलाई, 2021: विंडलास बायोटेक लिमिटेड ('विंडलास' या 'कंपनी'), जो फार्मास्‍यूटिकल फॉर्म्‍यूलेशंस की निर्माता है और जो राजस्‍व की दृष्टि से भारत में घरेलू फार्मास्‍यूटिकल फॉर्म्‍यूलेशंस कॉन्‍ट्रैक्‍ट डेवलपमेंट एवं मैन्‍यूफैक्‍चरिंग ऑर्गेनाइजेशंस (''सीडीएमओ'') में शीर्ष पांच कंपनियों में शामिल है, ने बुधवार, 04 अगस्‍त, 2021 को अपना आईपीओ (''ऑफर'') खोलने का प्रस्‍ताव दिया है।

ऑफर का प्राइस बैंड `448 से `460 प्रति इक्विटी शेयर के बीच तय किया गया है। न्‍यूनतम 30 इक्विटी शेयर्स और उसके बाद 30 इक्विटी शेयर्स के गुणकों में बोलियां लगायी जा सकती हैं।

इनिशियल पब्लिक ऑफर में विंडलास बायोटेक लिमिटेड के `5 अंकित मूल्‍य के इक्विटी शेयर्स (''इक्विटी शेयर्स'') हैं जिनमें `1,650 मिलियन तक का फ्रेश इश्‍यू (''फ्रेश इश्‍यू'') और 5,142,067 इक्विटी शेयर्स का ऑफर फॉर सेल (''ऑफर फॉर सेल'' और फ्रेश इश्‍यू के साथ, ''ऑफर'') शामिल हैं। ऑफर फॉर सेल में विमला विंडलास (''व्‍यक्तिगत विक्रेता शेयरधारक'') के 1,136,000 इक्विटी शेयर्स और तनोइंडिया प्राइवेट इक्विटी फंड II के 4,006,067 इक्विटी शेयर्स (''निवेशक विक्रेता शेयरधारक'' और व्‍यक्तिगत विक्रेता शेयरधारक के साथ सामूहिक रूप से, ''विक्रेता शेयरधारक'') 

यह ऑफर सिक्‍योरिटीज कंट्रैक्‍ट्स (रेग्‍यूलेशन) रूल्‍स, 1957, यथासंशोधित (''एससीआरआर'') के नियम 19(2)(बी) के नियमों की शर्तों, सिक्‍योरिटीज एंड एक्‍सचेंज बोर्ड ऑफ इंडिया (इश्‍यू ऑफ कैपिटल एंड डिस्‍क्‍लोजर रिक्‍वायरमेंट्स) रेग्‍यूलेशंस, 2018 यथासंशोधित के विनियम 31 के अनुसार, और सेबी आईसीडीआर रेग्‍यूलेशंस के विनियमन 6(1) का अनुपालन करते हुए बुक बिल्डिंग प्रक्रिया के जरिए उपलब्‍ध कराया जा रहा है जहां ऑफर का 50 प्रतिशत से अनधिक हिस्‍सा पात्र संस्‍थागत खरीदारों (''क्‍यूआईबी'') को आनुपातिक आधार पर आवंटित किये जाने के लिए उपलब्‍ध होगा (''क्‍यूआईबी हिस्‍सा''), बशर्ते कंपनी और विक्रेता शेयरधारक, बीआरएलएम के परामर्श से सेबी आईसीडीआर विनियमनों (''एंकर निवेशक हिस्‍सा'') के अनुसार और विवेक के आधार पर क्‍यूआईबी पोर्शन का 60 प्रतिशत तक का हिस्‍सा एंकर निवेशकों को आवंटित कर सकते हैं, जिसमें से एक-तिहाई हिस्‍सा घरेलू म्‍यूचुअल फंड्स के लिए आरक्षित होगा, बशर्ते सेबी आईसीडीआर विनियमों के अनुसार एंकर निवेशक आवंटन मूल्‍य पर या इससे अधिक मूल्‍य पर घरेलू म्‍यूचुअल फंड्स से वैध बोलियां प्राप्‍त हों। एंकर निवेशक हिस्‍से में सब्‍सक्रिप्‍शन कम होने या अनावंटन की स्थिति में, बाकी इक्विटी शेयर्स, नेट क्‍यूआईबी पोर्शन में जुड़ जायेंगे। आगे नेट क्‍यूआईबी का 5 प्रतिशत केवल म्‍यूचुअल फंड्स को आनुपातिक आधार पर आवंटित किये जाने के लिए उपलब्‍ध होगा और नेट क्‍यूआईबी पोर्शन का शेष हिस्‍सा म्‍यूचुअल फंड्स सहित सभी क्‍यूआईबी बोलीदाताओं को आनुपातिक आधार पर आवंटित किये जाने के लिए उपलब्‍ध होगा, बशर्ते ऑफर मूल्‍य पर या इससे अधिक पर वैध बोलियां प्राप्‍त हों। हालांकि, म्‍यूचुअल फंड्स की ओर से कुल मांग क्‍यूआईबी पोर्शन के 5 प्रतिशत से कम रहती है, तो म्‍यूचुअल फंड पोर्शन में आवंटन के लिए उपलब्‍ध शेष इक्विटी शेयर्स बाकी क्‍यूआईबी हिस्‍से में जुड़ जायेंगे जो क्‍यूआईबी को आनुपातिक आधार पर आवंटित किये जाने के लिए उपलब्‍ध होंगे।

आगे, ऑफर का कम-से-कम 15 प्रतिशत हिस्‍सा आनुपातिक आधार पर गैर-संस्‍थागत बोलीदाताओं को आवंटित किये जाने के लिए उपलब्‍ध होगा और ऑफर का न्‍यूनतम 35 प्रतिशत हिस्‍सा सेबी आईसीडीआर विनियमनों के अनुसार खुदरा व्‍यक्तिगत बोलीदाताओं (''आरआईबी'') को आवंटित किये जाने के लिए उपलब्‍ध होगा, बशर्ते उनसे ऑफर मूल्‍य पर या इससे अधिक पर वैध बोलियां प्राप्‍त हों।

सभी संभावित बोलीदाताओं (एंकर निवेशकों को छोड़कर) को अनिवार्य रूप से एप्लिकेशन सपोर्टेड बाय ब्‍लॉक्‍ड एमाउंट (''एएसबीए'') का उपयोग करना होगा और उन्‍हें उनके एएसबीए खातों एवं यूपीआई आईडी (आरआईबी के मामले में) की जानकारी प्रदान करनी होगी, जिसमें सेल्‍फ सर्टिफाइलड सिंडिकेट बैंक्‍स (''एससीएसबी'') द्वारा या यूपीआई विधि - जैसा लागू हो - के तहत संबंधित बोली राशि अवरुद्ध कर दी जायेगी। एंकर निवेशकों को एएसबीए प्रक्रिया के जरिए ऑफर में भाग लेने की अनुमति नहीं है।

एसबीआई कैपिटल मार्केट्स लिमिटेड, डीएएम कैपिटल एडवाइजर्स लिमिटेड (पूर्व नाम आईडीएफसी सिक्‍योरिटीज लिमिटेड) और आईआईएफएल सिक्‍योरिटीज लिमिटेड, इस ऑफर के बीआरएलएम हैं।

रेड हेरिंग प्रॉस्‍पेक्‍ट्स के जरिए उपलब्‍ध कराये जाने वाले इक्विटी शेयर्स, बीएसई और एनएसई पर सूचीबद्ध किये जाने के लिए प्रस्‍तावित हैं।

No comments:

Post a Comment

टाटा पावर ने भारत में ईवी-चार्जिंग के बुनियादी ढांचे को ऊर्जा प्रदान करने के लिए ह्युंदाई मोटर इंडिया के साथ की साझेदारी

राष्ट्रीय 17 मई 2022 : देश की एक सबसे बड़ी एकीकृत बिजली कंपनी और ईवी चार्जिंग की बुनियादी सुविधाएं प्रदान करने वाली अग्रणी कंपनी टाटा पावर ने...